युवक की पीट-पीटकर हत्या, लोगों ने शव रखकर लगाया जाम

बाइक से टकराने पर बालिका घायल होने पर युवक को बेरहमी से पीटा था
जयपुर में उपचार के दौरान युवक ने तोड़ा दम

By: Pradeep

Published: 20 Sep 2021, 01:23 AM IST

अलवर/बड़ौदामेव. पांच दिन पहले एक समुदाय विशेष के लोगों द्वारा बेरहमी से पीटने पर हुई युवक की मौत से गुस्साए लोगों ने अलवर-भरतपुर मार्ग पर शव रखकर जाम लगा दिया। जाम के दौरान परिजन व ग्रामीण मारपीट करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे थे। मौके पर पहुंचे पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद जाम खोला गया, तब जाकर यातायात सुचारू हो सका। जाम दोपहर 2 बजे से शाम 7 बजे तक रहा। ज्ञात रहे कि 15 सितंबर को युवक की बाइक से टकराने पर एक बालिका को चोट आई थी। इस बात को लेकर समुदाय विशेष के लोगों ने युवक को बेरहमी से पीटा था। युवक को गंभीर हालत में जयपुर में भर्ती कराया गया जहां रविवार को उसकी मौत हो गई।
जानकारी के अनुसार भटपुरा निवासी योगेश जाटव पुत्र ओमप्रकाश जाटव 15 सितंबर 2021 को अपनी बहन से मिलकर बाम्बोली गांव से वापस गांव भटपुरा आ रहा था। गांव के रास्ते से होकर निकलने के दौरान मीना का बास में एक समुदाय विशेष की बालिका भागती हुई और उसकी बाइक से टकरा गई। बालिका को हल्की खरोंज आई। इस बात को लेकर उक्त समाज के लोगों ने योगेश को बेरहमी से पीट पीटकर अचेत कर दिया। सूचना मिलने पर परिजन योगेश को अचेत अवस्था में अलवर लेकर आए और यहां से उसे जयपुर रैफर कर दिया। जयपुर में रविवार को योगेश ने दम तोड़ दिया। योगेश के शव के बड़ौदामेव पहुंचने पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और शव को सडक़ पर रखकर अलवर-भरतपुर मार्ग को जाम कर दिया। जाम की सूचना पर एडिशनल एसपी श्रीमन मीणा, एसडीएम लक्ष्मणगढ़ लाखन सिंह गुर्जर सीओ लक्ष्मणगढ़ राजेश शर्मा, थानाधिकारी लक्ष्मणगढ़, खेरली व अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और लोगों से समझाइश की। जिस पर मृतक के पिता ओमप्रकाश जाटव ने आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी, बड़ौदामेव थाना अधिकारी एवं अन्य स्टाफ द्वारा बरती गई लापरवाही पर सख्त कार्रवाई करने, पीडि़त परिवार को आर्थिक सहायता, एससी-एसटी एक्ट के तहत जांच व मृतक की मां को सरकारी नौकरी की मांग रखी। जिस पर प्रशासन ने जल्द ही कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया। आश्वासन मिलने के बाद परिजनों ने शव हटाया एवं करीब 5 घंटे बाद जाम को खुलवाया गया। इस संबंध में मृतक के पिता ओमप्रकाश जाटव ने मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने 336 धारा 143,323,379,341 में मामला दर्ज किया है।
एक युवक गिरफ्तार: परिजनों द्वारा लगाए गए जाम के दौरान एक युवक द्वारा समाज के हित में भाषण देने पर पुलिस ने माहौल को बिगड़ते हुए देखते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया। बाद में प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा उन्हें छोड़ दिया गया।


इनका कहना है
इस मामले में बालिका की मां की तरफ से दुर्घटना का मामला दर्ज कराया गया था। वहीं युवक पक्ष की तरफ से मारपीट व एससीएसटी एक्ट में मामला दर्ज कराया गया था। अब युवक की मौत के बाद धारा 302 में हत्या का मामला दर्ज किया गया है।
-तेजस्विनी गौतम, पुलिस अधीक्षक, अलवर।
मृतक के परिजनों के प्रति प्रशासन की संवेदना रहेगी। उनके द्वारा की गई मांगें सरकार को भेजकर पूरी कराने की कोशिश की जाएगी। साथ ही हमारे स्तर पर जो भी मदद होगी की जाएगी तथा दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
-लाखन सिंह गुर्जर, उपखण्ड अधिकारी।

Pradeep Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned