America: स्वीगल पहली अश्वेत महिला लड़ाकू विमान पायलट बनीं, US Navy ने किया स्वागत

HIGHLIGHTS

  • लेफ्टिनेंट जेजी मेडलाइन स्वीगल ( Lt. Madeline Swegle ) अमरीकी नौसेना ( US Navy ) में पहली अश्वेत महिला लड़ाकू विमान का पायलट ( first black female fighter aircraft pilot ) बनी हैं।
  • स्वीगल वर्जीनिया के बुर्के की रहने वाली हैं। वह 2017 में यूएस नवल एकेडमी से स्नातक हैं।
  • स्वीगल की इस उपलब्धि से 45 वर्ष पहले 1974 में रोजमैरी मरीनर ( Rosemary Mariner ) लड़ाकू विमान उड़ाने वाली पहली महिला बनी थीं।

By: Anil Kumar

Updated: 12 Jul 2020, 08:00 PM IST

वाशिंगटन। अमरीका ( America ) में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड ( George Floyd Death ) की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद से पूरे अमरीका में व्यापक हिंसक विरोध-प्रदर्शन ( Protest In America ) देखने को मिला। शायद उस विरोध प्रदर्शन का ही असर रहा कि अमरीका में हाल के दिनों में कई ऐतिहासिक फैसले हुए।

उसी कड़ी में से एक है अमरीका के पहले अश्वेत महिला का लड़ाकू विमान का पायलट ( first black woman become fighter aircraft pilot ) बनना। दरअसल, अमरीका में पहली बार ऐसा हुआ है कि कोई अश्वेत महिला लड़ाकू विमान का पायलट बनी है। इसको लेकर अमरीकी नौसेना ( US Navy ) ने पहली बार नौसेना में किसी अश्वेत महिला के लड़ाकू विमान पायलट बनने का स्वागत किया है।

American Navy ने अपनी ताकत का किया प्रदर्शन, दो खतरनाक युद्धपोत को दक्षिण चीन सागर में उतारा

अमरीकी नौसेना ने इस बाबत ट्वीट करते हुए लिखा ‘इतिहास रचते हुए।' नौसेना वायु प्रशिक्षण कमान ने ट्वीट करते हुए बताया कि लेफ्टिनेंट जेजी मेडलाइन स्वीगल ( Lt. Madeline Swegle ) नौसेना की पहली ज्ञात अश्वेत महिला टैकएयर पायलट हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्वीगल वर्जीनिया के बुर्के की रहने वाली हैं। वह 2017 में यूएस नवल एकेडमी से स्नातक हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, स्वीगल की इस उपलब्धि से 45 वर्ष पहले 1974 में रोजमैरी मरीनर ( Rosemary Mariner ) लड़ाकू विमान उड़ाने वाली पहली महिला बनी थीं।

बता दें कि स्वीगल अमरीकी नौसेना में पहली अश्वेत महिला लड़ाकू विमान का पायलट बनी हैं। उन्हें नौसैन्य फ्लाइट स्कूल पूरा करने के बाद इस महीने के अंत में फ्लाइट अधिकारी का बैज मिलेगा जिसे ‘विंग्स ऑफ गोल्ड’ ( 'Wings of Gold' ) के नाम से जाना जाता है। अधिकारियों ने बताया कि उन्हें टेक्सास के किंग्सविले में रेडहॉक्स ऑफ ट्रेनिंग स्कवाड्रन 21 की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

पहली बार अश्वेत बना वायुसेना प्रमुख

आपको बता दें कि इससे पहले बीते महीने अमरीका में पहली बार किसी अश्वेत को वायुसेना प्रमुख बनाया गया था। जनरल चार्ल्स ब्राउन जूनियर ( neral Charles Brown Jr. ) को अमरीकी सीनेट ने सर्वसम्मति से वायुसेना के चीफ ऑफ स्टाफ पद पर नियुक्ति को मंजूरी दी गई। इस पर हुए मतदान में सभी 96 सांसदों ने पक्ष में वोटिंग की थी।

अमरीका के अगले वायुसेना प्रमुख की नियुक्ति को लेकर उपराष्ट्रपति माइक पेंस ( Vice President Mike Pence ) ने संसद में मतदान कराया था। सर्वसम्मति से चार्ल्स ब्राउन को वायुसेना प्रमुख चुने पर उन्होंने ट्विटर पर वीडियो जारी कर शुक्रिया कहा। वे वीडियो में जनरल ब्राउन काफी भावुक भी नज़र आए।

South China Sea में अमरीका के युद्धाभ्यास पर भड़का चीन, मिसाइल हमले की दी धमकी

जनरल ब्राउन ने कहा था कि मैं काफी इमोशनल हो गया हूं। कई ऐसे अफ्रीकी-अमरीकियों के बारे में सोच रहा हूं, जिन्हें जॉर्ज फ्लॉयड जैसी स्थिति का सामना करना पड़ा। मैं नस्लभेदी मुद्दों से जुड़े इतिहास और अपने अनुभवों के बारे में सोच रहा हूं। वायुसेना प्रमुख ( Chief of air force ) के तौर पर मुझे नामित किए जाने पर मुझे कुछ उम्मीद नजर आ रही है। हालांकि, यह एक बड़ा बोझ भी होगा। मैं अपने पेशेवर रवैये से नस्लीय भेदभाव खत्म करने की कोशिश करूंगा।

ब्राउन ने आगे यह भी कहा 'मैं वायु सेना में अपने करियर के बारे में सोच रहा हूं जहां अपने स्क्वाड्रन में मैं इकलौता अफ्रीकी अमेरिकी था या एक वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर कमरे में अकेला अफ्रीकी-अमरीकी था।'

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned