स्मृति ने कहा, किसी ने नहीं सोचा था कि एक साधारण परिवार की महिला करेगी अमेठी का प्रतिनिधित्व: स्मृति ईरानी

स्मृति ने कहा, किसी ने नहीं सोचा था कि एक साधारण परिवार की महिला करेगी अमेठी का प्रतिनिधित्व: स्मृति ईरानी

Karishma Lalwani | Updated: 22 Jun 2019, 07:51:08 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

Cabinet Minister Smriti Irani अमेठी में

- गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत संग पहुंची अमेठी

- राहुल गांधी पर किया प्रहार

अमेठी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को उनके संस्दीय क्षेत्र में मात देने वालीं सांसद स्मृति ईरानी (Smriti Irani) शुक्रवार को अमेठी पहुंची। वे यहां गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ पहुंची। अमेठी पहुंचने से पहले स्मृति ने अपने काफिले के एंबुलेंस से उन्होंने एक महिला को अस्पताल पहुंचाया। केंद्रीय वस्त्र एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने गौरीगंज के बरौलिया गांव में सुरेंद्र सिंह के परिजनों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद स्मृति ने विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण कार्यक्रम में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी पर कटाक्ष किया। स्मृति ने कहा कि गांधी नेहरू परिवार का गढ़ माने जाने अमेठी में एक आम परिवार से ताल्लुक रखने वाली महिला की जीत की किसी ने कल्पना नहीं की थी। उनके साथ सूबे के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) मौजूद रहे।

स्मृति ने कहा कि एक ऐसे क्षेत्र में जो 'नामदार' का गढ़ था, जहां यह माना जाता था कि भले ही सांसद 5 साल तक नहीं लौटे, लोग उसे स्वीकार करेंगे। लेकिन लोकसभा चुनाव के नतीजों नामदरा के सारे भर्म को तोड़ दिया। लोगों ने कमल के बटन को दबाया। लोगों ने भाजपा को चुनकर यह संदेश दिया है कि लोकतंत्र 'नामदार' के लिए नहीं बनाया गया है।

ये भी पढ़ें: सुरेंद्र सिंह हत्याकांड: पांचवे आरोपी पर कोर्ट ने सुनाया यह फैसला

सबसे ज्यादा सपा, बसपा और कांग्रेस परेशान

केशव मौर्य ने कहा कि सबसे ज्यादा सपाई, बसपाई और कांग्रेसी परेशान हैं। उन्होंने कहा कि अमेठी की जनता ने स्मृति ईरानी को अपना आशीर्वाद दिया और यहां पर कमल खिलाया। केंद्र की और प्रदेश की दोनों सरकारें भारतीय जनता पार्टी की हैं। मोदी जी और योगी जी की नेतृत्व वाली हैं। विकास हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। गरीब और किसान हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है, नवजवान हमारी प्राथमिकता है। माताओं बहनों का सम्मान हमारी प्राथमिकता है, उसमें कोई कमी नही आने देंगे। ये आश्वस्त करके यहां से जाना चाहता हूँ। अमेठी के जो-जो प्रस्ताव आते जाएंगे उसे फाइलों में नही डाला जाएगा प्राथमिकता के आधार पर प्रस्ताव को स्वीकृत किया जाएगा और वो काम कराया जाएगा।

पूरे परिवार के साथ है भाजपा

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि 2014 में वे स्मृति ईरानी के साथ अमेठी आए थे। तब वे कार्यकर्ता के रूप में अमेठी आए थे और 22 दिनों तक गांव-गांव घूमे थे। सुरेंद्र सिंह की हत्या पर उन्हें बुरा लगा। स्मृति ईरानी के साथ उन्होंने भी सुरेंद्र सिंह के परिवार वालों से मुलाकात की। प्रमोद सावंत ने कहा कि सुरेंद्र सिंह पार्टी के अच्छे कार्यकर्ता थे। पार्टी ने एक जुझारू कार्यकर्ता खोया है। उसकी भरपाई नहीं हो सकती। भाजपा पार्टी पूरे परिवार के साथ है, बेटे के साथ है।

शिक्षा के क्षेत्र में काम करना चाहती है गोवा सरकार

गोवा के पूर्व सीएम स्व मनोहर पर्रिकर ने बरौलिया गांव को गोद लिया था। गांव को गोद लेने और यहां विकास कार्य कराने के सवाल पर प्रमोद सांवत ने कहा कि गोवा सरकार यहां काम करना चाहती है, विशेषकर शिक्षा के क्षेत्र में। उन्होंने कहा कि मनोहर पर्रिकर जी की याद में सरकार यहां काम करवाना चाहती है। इसी गांव में स्मृति ईरानी ने जूते बांटे थे, जिसकी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आलोचना की थी। प्रमोद सावंत ने कहा कि आलोचना से उन्हें फर्क नहीं पड़ता। उन्हें लोगों की मदद करनी है और वे ये जरूर करेंगे।

स्मृति ईरानी गोवा के मुख्यमंत्री डा. प्रमोद सांवत के साथ तिलोई से राजा विश्वनाथ शरण सिंह इंटर कालेज पहुंची। यहां विकास कार्यों के शिलान्यास व लोकापर्ण के साथ मुख्यमंत्री जन आरोग्य के लाभार्थियों को सीएम का पत्र व गोल्डेन कार्ड का वितरण किया।

ये भी पढ़ें: गोवा सीएम प्रमोद सावंत के साथ अमेठी पहुंची स्मृति ईरानी

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned