लोगों की मदद को Lockdown का उल्लंघन करना कांग्रेस नेता को पड़ा भारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Highlights:

-गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने सचिन चौधरी का मेडिकल कराया गया

-मेडिकल में शराब पीने की पुष्टि नहीं हुई

-पुलिस ने उन पर सरकारी कार्य में बाधा डालने और लॉकडाउन का उल्लंघन करने का आरोप लगाया

By: Rahul Chauhan

Updated: 30 Mar 2020, 04:26 PM IST

अमरोहा। कोरोना वायरस के मद्देनजर देशभर में लगाए गए लॉकडाउन के बावजूद लोग अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई भी की जा रही है। इस कड़ी में शनिवार को पुलिस ने अमरोहा लोकसभा से कांग्रेस के प्रत्याशी रहे सचिन चौधरी और उनके साथियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का आरोप है कि चौधरी और उनके साथियों ने शराब पीकर लॉकडाउन का उल्लंघन किया।

यह भी पढ़ें : कोरोना के खौफ में यूपी के इस जेल में बंद 89 कैदियों को छोड़ा गया

गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने सचिन चौधरी का मेडिकल कराया गया। जिसमें शराब पीने की पुष्टि नहीं हुई। जिसके बाद पुलिस ने उन पर सरकारी कार्य में बाधा डालने और लॉकडाउन का उल्लंघन करने की धाराओं मेें मामला दर्ज कर लिया और कुछ देर बाद थाने से जमानत पर छोड़ दिया।

जानकारी के मुताबिक कांग्रेस नेता सचिन चौधरी अपने साथियों शुभम अग्रवाल और प्रदीप सिंह के साथ हाइवे पर जीरो प्वाइंट के पास दिल्ली हरियाणा से आ रही लोगों की भीड़ की मदद करने लगे। जिसके चलते वहां पर भारी भीड़ जमा हो गई, जिसकी सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंची और भीड़ को वहां से हटने की बात कही। आरोप है कि इस दौरान कांग्रेसी नेता ने शराब के नशे में पुलिस से अभद्रता की।

यह भी पढ़ें: मां अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही और एसएचओ असलम दे रहे ड्यूटी

जिसकी सूचना पुलिस ने अपने आला अधिकारियों को दी। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने और सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में सचिन चौधरी, शुभम अग्रवाल, प्रदीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया। इस बाबत मुरादाबाद पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त लोगों के द्वारा गाड़ी में हूटर लगाकर लॉकडाउन का उल्लंघन किया गया है। जिसके कारण सुसंगत धाराओं में कार्रवाई की गई है।

coronavirus Congress Congress leader
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned