scriptWorld Environment Day | World Environment Day: 40 लोगों की 10 साल की मेहनत, बंजर पहाड़ी एक हजार पेड़ों से जंगल में तब्दील | Patrika News

World Environment Day: 40 लोगों की 10 साल की मेहनत, बंजर पहाड़ी एक हजार पेड़ों से जंगल में तब्दील

पौधे लगा खुद देखभाल की व तीन चौकीदार रखे, जहां अब लहलहा रहे हरे-भरे पेड़

अशोकनगर

Published: June 04, 2022 09:30:30 pm



अशोकनगर. यदि जज्बा हो तो पत्थरों में भी फूल व फल उगाए जा सकते हैं, इस बात को साबित कर दिखाया है भारत विकास परिषद के 40 सदस्यों ने। जिन्होंने लगातार 10 साल की मेहनत से बंजर पहाड़ी को हरे-भरे जंगल में तब्दील कर दिया। जहां लगाए गए पौधे अब पेड़ बन चुके हैं और पहाड़ी पर अब एक हजार पेड़ लहलहा रहे हैं।
शहर की गौशाला के पास स्थित टोरिया पर सिर्फ झाडिय़ां थीं। वर्ष 2008 में भारत विकास परिषद ने यहां पर पौधरोपण शुरु किया और 2018 तक देखरेख की। इसके लिए 40 सदस्यों ने करीब पांच लाख रुपए एकत्रित कर करीब 20 बीघा जमीन पर तारफेंसिंग कराई, ट्यूबवेल में विद्युत पंप लगवाकर पौधों को पानी देने लाइन बिछाई, लोगों को बैठने बेंच लगाईं और रखवाली के लिए तीन चौकीदार रखे। साथ ही परिषद के सदस्य वहां पहुंचकर खुद ही पौधों की देखभाल करते थे। परिषद के पूर्व अध्यक्ष विकास जुनेजा ने बताया कि करीब दो हजार फलदार व छायादार पौधे पहाड़ी पर लगाए थे, जिसमें से एक हजार पौधे अब पेड़ बन चुके हैं। जो छाया के साथ लोगों को फल भी दे रहे हैं।
राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा था देश का नंबर वन प्रोजेक्ट-
वर्ष 2012 में भारत विकास परिषद के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष सीतारमण शर्मा अशोकनगर भ्रमण पर आए तो सदस्यों ने टोरिया में किया गया पौधरोपण व सुरक्षा की व्यवस्थाएं दिखाईं। इस पर सीतारमण शर्मा टोरिया पर बढ़ती हरियाली को देख इतने खुश हुए और कहा था कि भारत विकास परिषद का देश का नंबर वन प्रोजेक्ट है।
डीपीसी ने की थी शुरुआत, ट्रांसफर हुआ तो परिषद को सौंपा-
टोरिया पर हरियाली की योजना शिक्षा विभाग के तत्कालीन डीपीसी आरके वैद्य की थी, जिन्होनें पौधरोपण शुरु किया, लेकिन जब उनका जिले से ट्रांसफर हुआ तो उन्होंने टोरिया की जिम्मेदारी भारत विकास परिषद को सौंप दी। इससे डॉ.डीके जैन, डॉ.डीके भार्गव, डॉ.वीरेंद्र शर्मा, केवलचंद जैन, एडवोकेट उदयकुमार थत्ते, विश्वबंधु चतुर्वेदी, राकेश कांसल, शिखर बड़कुल, सुबोध जैन, अशोक गांधी, विकास जुनेजा, शिक्षक संजय चौधरी सहित 40 सदस्य बंजर टोरिया को हरा-भरा बनाने जुट गए थे और परिणाम आज सबके सामने है।
अब इस हरियाली को सुरक्षा की जरूरत-
भारत विकास परिषद ने तो 20 बीघा पहाड़ी को हरियाली में तब्दील कर दिया। जहां आम, नींबू, जामफल व आंवले सहित विभिन्न प्रकार के पौधे हैं, लेकिन अब इस हरियाली को सुरक्षा की जरूरत है। जहां पर लोगों का जमावड़ा रहता है, जो इन पेड़ों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। इसके लिए प्रशासन को गंभीरता दिखाने की जरूरत है, ताकि यह हरियाली बरकरार रहे।
World Environment Day
World Environment Day

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

रोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियागुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानलालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाही सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाBJP के नए संसदीय बोर्ड और चुनाव समिति का गठन, गडकरी व शिवराज की छुट्टी, देखिए कौन-कौन नेता शामिलकिडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?सुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.