फिलीपींस में 'मैंगखुट' तूफान में अब तक 49 लोगों की मौत, कई लापता

फिलीपींस में  'मैंगखुट' तूफान में अब तक 49 लोगों की मौत, कई लापता

Mangala Prasad Yadav | Publish: Sep, 16 2018 03:32:41 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 03:56:54 PM (IST) एशिया

तूफान से मरने वालों की संख्या 49 हो गई है जबकि बड़ी संख्या में लोग जख्मी हैं। बचावकर्मी तूफान में फंसे लोगों की मदद कर रहे हैं।

मनीला। फिलीपींस में आए तूफान 'मैंगखुट' के चलते हुए हादसों में मरने वालों की संख्या रविवार को बढ़कर 49 हो गई है। जबकि दर्जनों अभी भी लापता हैं। राष्ट्रपति के सलाहकार फ्रांसिस टोलेंटिनो ने कागायान प्रांत में इन आंकड़ों की पुष्टि की, जहां शनिवार सुबह बेहद शक्तिशाली तूफान आया था। अधिकांश मौतें पहाड़ी क्षेत्रों में हुए भूस्खलन के चलते हुईं, जहां से मैंगखुट के गुजरने के दौरान भारी बारिश हुई और तेज रफ्तार हवाएं चलीं। सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, ज्यादातर मौतें कॉर्डिलेरा क्षेत्र में हुई, जबकि चार मौतें नुएवा एसिहा और एक मौत इलोकोस में हुई। मरने वालों में दो बचावकर्मी भी शामिल हैं। राष्ट्रपति रोड्रिगो दुर्तेते के रविवार को प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने और नुकसान का जायजा लेने की उम्मीद है।

शनिवार को तूफान 'मैंगखुट' ने दी थी दस्तक

तूफान 'मैंगखुट' ने शनिवार को फिलीपींस के कागायान प्रांत में भीषण तबाही मचाई थी। कागायान प्रांत में 325 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार सतेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई थी। तूफान के फिलीपींस से गुजरने के बाद हवा की रफ्तार कुछ धीमी हुई, लेकिन 215 किलोमीटर प्रति घंटे रफ्तार की हवा के साथ यह शक्तिशाली बना रहा। तूफान के प्रभाव को राजधानी मनीला में भी महसूस किया गया। फिलीपींस के टुग्वेगाराव शहर में लगभग सभी इमारतों को नुकसान पहुंचा है। तूफान से टुग्वेगाराव हवाईअड्डे को भी नुकसान पहुंचा है। फिलीपींस की सरकार ने पीड़ितों की मदद के लिए दो सी-130 विमान और 10 हेलीकॉप्टर कागायान प्रांत भेजा है। सेना के जवान पीडितों की मदद कर रहे हैं और तूफान में फंसे लोगों तक राहत सामाग्री भी पहुंचा रहे हैं।

 

चीन की तरफ बढ़ा तूफान
फिलीपींस के लुजोन में कहर बरपाने के बाद तूफान पश्चिम में दक्षिण चीन सागर की ओर बढ़ते हुए हांगकांग और दक्षिण चीन की ओर बढ़ गया। हांगकांग में अधिकारियों ने तूफान के मद्देनजर लोगों से अपने घरों के अंदर बने रहने के लिए कहा है। इससे पहले एनडीआरआरएमसी ने बताया था कि तूफान के अनुमानित मार्ग 125 किलोमीटर के दायरे में करीब 52 लाख लोग हैं। जारी की गई चेतावनी के बीच हजारों लोगों ने अपने घरों को खाली कर दिया।

Ad Block is Banned