Kabul Airport से 85 भारतीयों को लेकर निकला C-130 विमान, शाम तक पहुंचेगा भारत

Kabul Airport के बाहर डर के साए में कई घंटों से फंसे भारतीय, तालिबानी लड़ाके चेक कर रहे आईडी, वहीं C-130J काबुल से 85 भारतीयों लेकर उड़ान भर चुका है।

By: धीरज शर्मा

Updated: 21 Aug 2021, 01:24 PM IST

नई दिल्ली। अफगानिस्तान ( Afghanistan ) पर तालिबान ( Taliban ) के कब्जे के बाद से ही कई देशों को लोग देश छोड़ने के लिए काबुल एयरपोर्ट ( Kabul Airport ) पहुंच रहे हैं। इस बीच 200 से ज्यादा भारतीयों ( Indian ) के काबुल एयरपोर्ट के बाहर फंसे होने की खबर सामने आई है। एयरपोर्ट के बाहर इन लोगों को रोक दिया गया है। बताया जा रहा है कि बाहर बड़ी संख्या में तालिबान लड़ाके खड़े, जिसकी वजह से लोग बेहद डरे और घबराए हुए हैं।

तालिबानियों ने इनकी आईडी कार्ड चेक की है और तलाशी ली है इसके बाद से सभी भारतीयों में डर का माहौल है। बताया जा रहा है कि भारतीयों की बस को यूएस ट्रूप ने सुरक्षा के लिहाज से रोका है। इस बीच C-130J विमान करीब 85 भारतीयों को लेकर काबुल से उड़ान भर चुका है। ये विमान तजाकिस्तान पहुंचा है। बताया जा रहा है कि ये शाम 4 से 5 बजे तक भारत पहुंच जाएगा।

यह भी पढ़ेंः देहरादून की मिलिट्री एकेडमी में ट्रेनिंग ले चुका है Taliban का टॉप कमांडर स्टानिकजई, जानिए किस नाम से बुलाते हैं दोस्त

309.jpg

90 भारतीयों को किया एयरलिफ्ट

अमरीका के क्लियरेंस के बाद सी-130 विमान ने 85 भारतीयों को लेकर शनिवार को उड़ान भरी है। ये विमान तजाकिस्तान पहुंच गया है। बताया ज रहा दोपहर बाद ये भारत के जाम नगर में लैंड करेगा।

अफगानिस्तान (Afghanistan) की राजधानी काबुल में एयरपोर्ट के बाहर करीब 220 भारतीय (Indians) मौजूद हैं, जो अंदर दाखिल होने का इंतजार कर रहे हैं।

इन्हें इंतजार है C7 ग्लोबमास्टर प्लेन की उड़ान का, जिसके साथ इनके भारत लौटने की उम्मीद है। लेकिन इस उम्मीद पर पल पल भारी पड़ रही है, तालिबानियों का खौफ।

इसके साए में सभी भारतीय लोग अमरीकी सेना से मदद की गुहार लगा रहे हैं। फिलहाल काबुल एयरपोर्ट पर 6 हजार अमरीकी सैनिक तैनात है, लेकिन बाहर तालिबानियों का कंट्रोल बना हुआ है।

काबुल पहुंच चुका है C17 ग्लोबमास्टर
बताया जा रहा है कि C17 विमान भारतीयों को निकालने के लिए काबुल पहुंच चुका है। सभी भारतीय नागरिक पिछले छह घंटे से इंतजार कर रहे हैं। जैसे-जैसे इंतजार बढ़ रहा है, खतरा भी बढ़ता जा रहा है।
हालांकि इस बीच एक C130 Hercules ने 90 भारतीयों को लेकर उड़ान भर चुका है। इन भारतीयों को शुक्रवार रात ब्रिटिश सैनिक सुरक्षित निकालकर एयरपोर्ट लाए थे।

यूएस ट्रूप ने रोका
काबुल एयरपोर्ट के बाहर करीब 220 भारतीय बसों में बैठकर पहुंच चुके हैं, लेकिन फिलहल उन्हें अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। अमरीकी सैनिकों ने भारतीयों की बसों को एयरपोर्ट के बाहर ही रुकने को कहा है।

कई घंटों से फंसे भारतीयों को तालिबानी लड़ाकों की डर सता रहा है, क्योंकि लगातार उनके आईडी के चेकिंग की जा रही है। भारतीयों ने अमरीकी सैनिकों से सुरक्षा का हवाला देते हुए जल्द से जल्द अंदर दाखिल होने की मांग की है।

यह भी पढ़ेंः Afghanistan: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताया, तालिबान के कब्जे के बाद किस बात पर है भारत का फोकस

इस वजह से हो रही देरी
काबुल से निकलने को उमड़ रही भीड़, विभिन्न मुल्कों की सैन्य उड़ानों की शेड्यूलिंग की समस्या के चलते अफगानिस्तान भेजा गया भारतीय वायुसेना का विमान शुक्रवार देर रात भी उड़ान नहीं भर सका।
दरअसल काबुल हवाई अड्डे पर बीते 5 दिन से मौजूद भीड़ के दबाव में व्यवस्थाएं जहां चरमरा गई हैं। एयरपोर्ट को नियंत्रित कर रहे अमरीकी अधिकारियों को भी अलग-अलग देशों से आ रही उड़ानों को छोटे रनवे वाले हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर टर्न-अराउंड टाइम को साधने की चुनौती आ रही है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned