अफगानिस्तान: पहले तालिबानियों ने उड़ाया अमरीकी विमान, अब मलबे तक पहुंचने वालों पर भी कर रहा हमला

  • गजनी प्रांत (Ghazni Province) में घटनास्थल तक पहुंचने की कोशिश कर रहे अफगान सुरक्षाबलों पर भी हमला
  • सुरक्षाबलों (Afghan Security Forces)को अब मिल रहे पीछे हटने के आदेश

Shweta Singh

29 Jan 2020, 12:00 PM IST

काबुल। अफगान शांति वार्ता ( Afghan peace talks ) के रद्द होने के बाद अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में तालिबानियों का आतंक फिर से बढ़ गया है। इस आतंकी संगठन ने एक साजिश के तहत अमरीकी सैन्य विमान ( US army plane crash ) को मार गिराया है। यही नहीं, अब आतंकी इस विमान के मलबे तक सुरक्षाबलों को पहुंचने भी नहीं दे रहे हैं।

घटनास्थल तक पहुंचने की कोशिश कर रहे सुरक्षाबलों पर भी हमला

जानकारी के मुताबिक, तालिबान ने अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में इस हमले को अंजाम दिया था। अब आतंकी अफगान सुरक्षा बलों पर भी घात लगा के रखी है, और जो भी घटनास्थल तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं उनपर भी हमला बोल रहे हैं। आपको बता दें कि सोमवार को अमरीकी सेना का E-11 विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था।

अफगानिस्तान: सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी सफलता, 24 घंटे में 60 आतंकवादी ढेर

अब चलाया जाएगा हवाई ऑपरेशन

अभी तक इस विमान में सवार यात्रियों के हताहतों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। इस बारे में गजनी के प्रांतीय पुलिस प्रमुख खालिद वारदाक ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि विमान देह याक जिले में दुर्घटनाग्रस्त हुआ। इसकी जानकारी मिलती ही उन्होंने मौके पर राहत और बचाव कर्मियों को तैनात कर दिया था। लेकिन, इसी बीच कई जगहों पर तालिबानी लड़ाकों ने उनपर भी हमला किया। प्रांतीय पुलिस ने आशंका जताई है कि इस हादसे में चार लोगों की मौत हुई है। जबकि विमान में सवार दो लोग जीवित बच गए हैं। वारदाक ने बताया कि लगातार अफगान सुरक्षाबलों पर हो रहे हमले के चलते अब उन्हें पीछे हटने का आदेश दे दिया गया है। अब आतंकियों के खिलाफ हवाई ऑपरेशन चलाया जाएगा।

Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned