पाकिस्तानः सिद्धी विनायक मंदिर पर हमला, लाठी-डंडों के साथ घुसी भीड़ ने की तोड़फोड़, वीडियो वायरल

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत गणेश मंदिर पर हमला, उपद्रवियों ने की जमकर तोड़फोड़, इमरान खान के असिस्टेंट बोले- दोषियों को खिलाफ होगी कार्रवाई

By: धीरज शर्मा

Published: 05 Aug 2021, 11:30 AM IST

नई दिल्ली। पाकिस्तान ( Punjab ) के पंजाब क्षेत्र में कट्टरपंथियों ने एक बार फिर हिंदू मंदिर ( Hindu Temple In Pakistan ) में तोड़फोड़ की है। सिद्धी विनायक मंदिर ( Sidhi Vinayak Temple ) में लाठी डंडे लेकर पहुंचे कट्टरपंथियों ने हमला कर दिया। इस कायराना हमले के कई वीडियो भी बनाए गए जो वायरल हो रहे हैं।

इन वीडियो में कट्टरपंथियों की भीड़ को मंदिर में तोड़फोड़ करता देखा जा सकता है। यह घटना पाकिस्तान स्थित पंजाब के रहीम यार खान के पास भोंग शहर की बताई जा रही है।

यह भी पढ़ेंः China: वुहान ने फिर बढ़ाई दुनिया की चिंता, तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों के बीच सील हुआ शहर

पाकिस्तान में एक बार फिर हिंदू मंदिर को निशाना बनाया गया है। पंजाब प्रांत के सादिकाबाद जिले के भोंग शरीफ गांव स्थित गणेश मंदिर में बुधवार शाम जमकर तोड़फोड़ की गई।

जमकर मचाया उत्पात
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में देखा जा सकता है कि उपद्रवी अचानक मंदिर के अंदर लाठी-डंडे के साथ घुसते हैं और तोड़फोड़ शुरू कर देते हैं।

बेकाबू भीड़ ने मंदिर में शीशे तक तोड़ दिए। इन शीशों के पीछे देवी-देवताओं की मूर्तियां रखी हुई थीं।
यही नहीं उपद्रवियों ने मंदिर के कई हिस्सों को नुकसान पहुंचाया।

अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं
खास बात यह है कि उपद्रवियों की इस कायराना हरकत के बाद इलाके में बड़े पैमाने पर पुलिस बल तो तैनात कर दिया गया। मामले की जांच भी शुरू हो गई, लेकिन अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

ये बोले इमरान की पार्टी के नेता
इमरान खान की पार्टी PTI के नेता और युवा हिंदू पंचायत पाकिस्तान के संरक्षक जय कुमार धीरानी ने इस घटना की कड़ी निंदा की। उन्होंने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने लिखा कि, जिले के भोंग शरीफ में मंदिर पर हुए इस नृशंस हमले की कड़ी निंदा करता हूं। यह हमला प्यारे पाकिस्तान के खिलाफ साजिश है। मैं अधिकारियों से दोषियों को सलाखों के पीछे डालने का अनुरोध करता हूं।

इमरान के असिस्टेंट बोले-दोषियों नहीं बख्शेंगे
पीएम इमरान खान के स्पेशल असिस्टेंट डॉ. शहबाज गिल ने घटना को दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस अप्रिय घटना का संज्ञान लिया और जिला प्रशासन को मामले की जांच करने के आदेश दिए हैं।

उन्होंने कहा, हम आवाम को भरोसा दिलाना चाहते हैं कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पाकिस्तानी संविधान अल्पसंख्यकों को उनकी पूजा को स्वतंत्र रूप से करने की स्वतंत्रता और सुरक्षा प्रदान करता है।

यह भी पढ़ेंः Financial Crunch in Pakistan : पैसे जुटाने को इस्लामाबाद में पीएम इमरान खान का घर किराए पर दिया

सुप्रीम कोर्ट से लगाई गुहार
वहीं पुलिसिया कार्रवाई असंतुष्ट अल्‍पसंख्‍यक समुदाय ने अब सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस से हस्‍तक्षेप की गुहार लगाई है। पाकिस्‍तान के हिंदू परिषद के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर रमेश वानकानी ने बताया कि पंजाब प्रांत के रहीमयार खान जिले के भोंग शहर में यह हिंदू मंदिर स्थित है जिस पर कट्टरपंथियों ने हमला किया है। उन्‍होंने कहा कि इलाके में बुधवार को हालात तनावपूर्ण हो गए थे।

लॉकडाउन में बढ़े मामले
पिछले साल दिसंबर में खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में सौ से अधिक लोगों की भीड़ ने एक हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ के बाद आग लगा दी थी। घटना करक जिले के टेरी गांव की थी। वहीं लॉकडाउन के दौरान हिंदू और ईसाई लड़कियों का जमकर धर्मांतरण भी हुआ है। पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने चिंता जताते हुए कहा है कि इस कारण अल्पसंख्यकों के मन में असुरक्षा की भावना भी तेजी से बढ़ी है।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned