नवाज शरीफ को मिली 12 घंटे की पैरोल, पत्नी के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे

नवाज शरीफ को मिली 12 घंटे की पैरोल, पत्नी के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे

Mohit Saxena | Publish: Sep, 12 2018 09:32:20 AM (IST) | Updated: Sep, 12 2018 09:32:21 AM (IST) एशिया

उनके साथ बेटी मरियम नवाज और दामाद कैप्टन सफदर भी साथ होंगे, नवाज की पत्नी कुलसुम का निधन मंगलवार को हो गया था

लाहौर। भ्रष्टाचार के आरोपों की सजा काट रहे नवाज शरीफ को अपनी पत्नी के अंतिम संस्कार के लिए 12 घंटे की पैरोल पर छोड़ा जाएगा। उनके साथ बेटी मरियम नवाज और दामाद कैप्टन सफदर भी होंगे। गौरतलब है कि नवाज की पत्नी कुलसुम पिछले काफी समय से गले के कैंसर से जूझ रही थीं। लंदन में उनका इलाज चल रहा था। मंगलवार को लंदन में कुलसुम ने अंतिम सांसे लीं। नवाज के साथ उनकी बेटी और दामाद को भी यह छूट दी गई है।

लाहौर में होगा अंतिम संस्कार

कुलसुम का अंतिम संस्कार लाहौर में किया जाएगा। बता दें कि 68 वर्षीय कुलसुम नवाज़ पिछले काफी समय से गले के कैंसर से जूझ रही थीं। लंदन में उनका इलाज चल रहा था। लाहौर में सुपुर्द-ए-खाक़ करने के बाद लंदन में उनकी याद में शोक सभा का आयोजन किया जाएगा। यहां पाकिस्तान की पूर्व फर्स्ट लेडी के तौर पर उन्हें सम्मान भी दिया जाएगा। कुलसुम नवाज़ का इलाज लंदन के हार्ले स्ट्रीट क्लीनिक में जून 2017 से चल रहा था। उनको सोमवार से ही डॉक्टरों ने लाइफ सपोर्ट पर रखा था। नवाज शरीफ और मरियम नवाज पाकिस्तान की जेल में बंद हैं। नवाज शरीफ से कुलसुम का निकाह साल 1971 में हुआ था।

मौत से पहले वेंटीलेटर पर थीं

जानकारी के मुताबिक सोमवार को उनकी तबीयत और अधिक बिगड़ गई थी, इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। मौत से पहले वो वेंटीलेटर पर थीं, लेकिन उनका स्वास्थ लगातार गिरता जा रहा था।

बीते जून पड़ा था दिल का दौरा

आपको बता दें कि बीते जून में उनको दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद से उनका लंदन में इलाज चल रहा था। कुलसुम नवाज लिम्फोमा यानि गले के कैंसर से भी जंग लड़ रहीं थीं। उनका कीमोथेरेपी की मदद से इलाज किया जा रहा था। साल 2017 के सितंबर में कुलसुम का लिंफोमा का तीसरा ऑपरेशन हुआ था।

Ad Block is Banned