इमरान सरकार पर उठे सवाल, आखिर क्यों कोरोना के मरीजों को PoK में शिफ्ट कर रहा पाकिस्तान

Highlights

  • पाक में अब तक नौ लोगों की हो चुकी है मौत।
  • यहां पर 900 लोग संक्रमित पाए गए हैं।
  • पीओके के मीरपुर में मरीजों को शिफ्ट किया जा रहा।

Mohit Saxena

25 Mar 2020, 09:12 AM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यह संख्या बढ़कर 900 से ज्यादा हो गई है। क्वारंटीन कैंपों की बुरी हालत और डॉक्टरों को मास्क, दस्ताने जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित रखने के कारण इमरान सरकार (Imran Khan) पहले ही आलोचनाओं से घिरी हुई है। वहीं कोरोना के मरीजों को PoK (पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर) शिफ्ट करने को लेकर सरकार के खिलाफ एक और सवाल खड़ा हो गया है।

कोराना वायरस के मामले बढ़ते देख इमरान खान ने बुलाई सेना, दो प्रांतों को किया लॉकडाउन

PoK के पॉलिटिकल एक्टिविस्ट नासिर अजीज ने आरोप लगाया है कि इमरान सरकार पंजाब और सिंध के कोरोना पीड़ित मरीजों को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के मीरपुर शहर में शिफ्ट कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि पाक जानबूझकर देश में कोरोना फैलने दे रहा है, जिससे अंतरराष्ट्रीय सहायता हासिल कर सके।

सिर्फ अपना हित देख रहा पाकिस्तान

यूनाइटेड कश्मीर पीपल नेशनल पार्टी के प्रवक्ता नासिर ने आरोप लगाया कि दुनिया भर के देश इस संक्रमित बीमारी से निपटने पर जोर दे रहे हैं। वहीं पाकिस्तान इसके जरिए भी कर्ज माफ़ी और अंतरराष्ट्रीय सहायता हासिल करना चाहता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान इस मामले में बिल्कुल भी गंभीर नहीं है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस अब तक कई देशों में तबाही मचा चुका है। इससे निपटने में इटली, जर्मनी, फ्रांस और स्पेन जैसे अत्याधुनिक मेडिकल सुविधाओं वाले देश भी सक्षम नहीं हैं।

इमरान सरकार की साजिश

नासिर का आरोप है कि इमरान सरकार एक साजिश के तहत इस तरह का काम कर रही है। पीओके में मरीजों को लाना उनकी जान को खतरा है। अभी तक पीओके में सिर्फ एक मामला ही सामने आया है। यहां के अस्पतालोंं में स्वास्थ्य सेवाएं निम्न स्तर की हैं। वहीं लाहौर, इस्लामाबाद और कराची में सुविधाओं के बावजूद मरीजों को पीओके में शिफ्ट करना इमरान की नई चाल लगती है। नासिर ने बताया कि PoK के लोगों ने इसके खिलाफ प्रदर्शन भी शुरू कर दिए हैं।

सोमवार को लाए गए कोरोना के 27 मरीज

सोमवार को ही पंजाब से 27 कोरोना संक्रमितों को लाकर PoK के मीरपुर में भर्ती किया गया है। इनमें से 13 कोरोना पॉजिटिव हैं और बाकी का टेस्ट कर उन्हें क्वारंटीन में रखा गया है। नासिर के अनुसार हमारा पाकिस्तान सरकार से सवाल है कि क्या पंजाब और अन्य प्रांतों में PoK के बराबर मेडिकल सुविधाएं मौजूद नहीं हैं? नासिर के मुताबिक उन्होंने इसकी शिकायत WHO, UN और अन्य अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं से कर दी है। इन संगठनों से इमरान सरकार को ऐसा करने से रोकने की गुजारिश की गई है।

coronavirus What is Coronavirus?
Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned