फिर पकड़ा गया पाकिस्तान का झूठ, पुतिन ने नहीं दिया इमरान खान को न्योता

फिर पकड़ा गया पाकिस्तान का झूठ, पुतिन ने नहीं दिया इमरान खान को न्योता

Shweta Singh | Publish: Jul, 09 2019 01:50:39 PM (IST) | Updated: Jul, 10 2019 09:26:02 AM (IST) एशिया

  • Imran Khan Russia Visit: पाकिस्तान ने इमरान की रूस यात्रा को लेकर किया झूठा दावा
  • मंगलवार को रूसी विदेश मंत्रालय ने खारिज की पाक की मीडिया रिपोर्ट्स

मॉस्को। पाकिस्तान अक्सर ऐसा कुछ कर बैठता है, जिससे उनकी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फजीहत हो जाती है। हाल ही में पाक की ओर से दावा किया गया कि सितंबर में पीएम इमरान खान ( Imran Khan ) और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ( Vladimir Putin ) की मुलाकात होनी है।

यही नहीं, पाक पीएम के हवाले से पाकिस्तानी मीडिया ( Pakistan media ) में भी इस बात के जमकर दावे किए गए कि इमरान खान इस्टर्न इकोनॉमिक फोरम के लिए आमंत्रित किए गए हैं। हालांकि, इस खबर पर रूस ने पानी फेर दिया। मंगलवार को रूसी विदेश मंत्रालय ने इस बारे में ट्वीट कर सफाई दी।

रूस ने पाकिस्तानी दावों को झूठलाया

रूसी विदेश मंत्रालय ने इस संबंध में एक ट्वीट कर न सिर्फ पाकिस्तानी दावों को झूठलाया बल्कि उनके बारे में जानकारी दी, जिन्हें इस फोरम के लिए न्योता दिया गया था। विदेश मंत्रालय ने बताया, 'व्लादिवोस्तोक में हो रहे इस सम्मेलन में मंगोलिया के राष्ट्रपति एच बट्टूल्गा, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मलेशिया के प्रधानमंत्री एम मोहम्मद और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को निमंत्रण दिया गया है।

पाकिस्तान: इमरान खान के 'सेलेक्ट' या 'इलेक्ट' होने पर विवाद, कितना सच है विपक्ष का दावा

SCO समिट के दौरान मिले थे पुतिन-इमरान

विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के उन मीडिया रिपोर्ट्स का हवाला भी दिया, जिनमें दावा किया जा रहा था कि बिश्केक में पुतिन ने इमरान खान को न्योता दिया था। बता दें कि पिछले महीने बिश्केक में हुए SCO समिट के दौरान दोनों देशों के नेताओं ने मुलाकात की थी। इसी मुलाकात का हवाला देकर पाक में इन चर्चाओं ने जोर पकड़ा था।

विदेशी लेखकों पर इतने मेहरबान क्यों हैं पाक पीएम इमरान खान

पाक विदेश मंत्रालय ने भी झाड़ा पल्ला

आपको बता दें कि 4 से 6 सितंबर को रूस के व्लादिवोस्तोक में इस्टर्न इकोनॉमिक फोरम का आयोजन किया जाएगा। 2015 से शुरू हुए इस बैठक का उद्देश्य पूर्वी क्षेत्रों में रूस के निवेश को बढ़ावा देना है। वहीं, रूस की तरफ से इस बयान के आने के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भी इस खबर को अफवाह बताई है। पाक मंत्रालय ने कहा कि मीडिया में चल रहीं खबरें सिर्फ अटकलों पर आधारित है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned