बिश्केक में मोदी ने जिनपिंग को बताया- आतंक मुक्त वातावरण नहीं बना पा रहे पाक से बातचीत का कोई फायदा नहीं

बिश्केक में मोदी ने जिनपिंग को बताया- आतंक मुक्त वातावरण नहीं बना पा रहे पाक से बातचीत का कोई फायदा नहीं

Shweta Singh | Publish: Jun, 13 2019 05:01:04 PM (IST) | Updated: Jun, 14 2019 09:15:36 AM (IST) एशिया

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को SCO शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए किर्गिस्तान पहुंचे
  • पीएम मोदी ने सम्मेलन के इतर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की
  • आतंकवाद के मुद्दे पर दोनों नेताओं के बीच हुई बातचीत

नई दिल्ली। किर्गिस्तान ( Kyrgyzstan ) की राजधानी बिश्केक में गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच मुलाकात हुई । मुलाकात में दोनों नेताओं बीच पाकिस्तान के मुद्दे पर भी चर्चा हुई। दोनों देशों की प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ता के बाद विदेश सचिव विजय गोखले ने इसकी पुष्टि की । विदेश सचिव गोखले ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच पाकिस्तान पर संक्षिप्त चर्चा हुई है। जिसमें पीएम मोदी ने जिनपिंग को कहा कि भारत ने पाकिस्तान से संबंध सुधारने के कई प्रयास किए, लेकिन कोई सकारात्मक असर नहीं दिखा। पाकिस्तान आतंकवाद मुक्त क्षेत्र बनाने का प्रयास करे करे लेकिन ऐसा होता दिख नहीं रहा है।पाकिस्तान को इस पर कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है। गौरतलब है कि मोदी और जिनपिंग SCO के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए बिश्केक पहुंचे हुए हैं।

भारत आएंगे शी जिनपिंग

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि बिश्केक में पीएम ने विशेष रूप राष्ट्रपति जिनपिंग को अवगत कराया कि दोनों देशों के रिश्ते को अपेक्षाओं के हिसाब से बढ़ाने की जरूरत है। अगले अनौपचारिक शिखर सम्मेलन के लिए पीएम ने उन्हें भारत में आमंत्रित किया। राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इस साल भारत आने की पुष्टि की है। चीन के राष्ट्रपति के साथ पीएम मोदी की मुलाकात पर बोलते हुए गोखले ने कहा कि भारत में बैंक ऑफ चाइना की शाखा खोलने और मसूद अजहर जैसे लंबित मुद्दों को हल कर चीन ने आपसे विश्वास को और भी मजबूत किया है। बैठक में पीएम मोदी ने चीन को दक्षिण एशिया की राजनीति से अवगत कराया।

 

शी ने दी पीएम मोदी को जीत की बधाई

यह मुलाकात दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती देने के लिए खास रही। बैठक में पीएम मोदी ने चीनी राष्ट्रपति को उनके जन्मदिन की पूर्व बधाई दी। पीएम ने कहा, '15 जून को आपके जन्मदिन के लिए, मेरी और पूरे भारत की ओर से हार्दिक बधाई।' पीएम मोदी ने इसके आगे शी की ओर से लोकसभा जीत के लिए दी गई बधाई का आभार जताया। उन्होंने साथ ही कहा कि ऐसे कई विषय हैं जिनपर भारत-चीन साथ मिलकर काम कर सकता है। पीएम ने कहा, 'हम दोनों को एक तरह से अधिक काम करने के लिए समानरूप से एक और कार्यकाल मिला है।'

मुलाकात के बाद पीएम मोदी का ट्वीट

पीएम मोदी ने इस मुलाकात के बाद अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इसका अनुभव साझा किया। उन्होंने लिखा, 'चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ अच्छी मुलाकात रही। हमने भारत-चीन रिश्तों पर चर्चा की।'

पीएम मोदी ने आगे लिखा, 'हम साथ मिलकर दोनों देशों की आर्थिक और सांस्कृतिक संबंधों की बेहतरी की दिशा में काम करेंगे।

यात्रा से पहले पीएम मोदी का बयान

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने SCO शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए किर्गिस्तान रवाना होने से पहले एक बयान जारी किया था। इसमें उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन में वैश्विक सुरक्षा की स्थिति, बहुपक्षीय आर्थिक सहयोग, लोगों से लोगों का संपर्क बढ़ाने समेत अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय महत्व के प्रासंगिक विषयों पर चर्चा होने की उम्मीद है। मेरी इस सम्मेलन से इतर कई नेताओं से मुलाकात कर द्विपक्षीय बातचीत करने की भी योजना है।' पीएम मोदी ने आगे यह भी कहा कि 'भारत ने किर्गिस्तान की अध्यक्षता को पूरा सहयोग दिया है। एससीओ शिखर सम्मेलन के समाप्त होने के बाद 14 जून को मैं किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव से द्विपक्षीय वार्ता करूंगा।'

SCO सम्मेलन में जिनपिंग और पुतिन से मुलाकात करेंगे पीएम मोदी, पाक पीएम से मुलाकात पर संदेह

विदेश मंत्रालय ने दिया था मोदी की वैश्विक नेताओं से मुलाकात का ब्यौरा

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यात्रा से पहले ही ट्वीट करते हुए जानकारी दी कि पीएम मोदी SCO शिखर सम्मेलन ( SCO summit 2019 ) से इतर किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव ( president Sooronbay Jeenbekov ) और अन्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। इसके अलावा ईरान ( Iran ) के राष्ट्रपति हसन रूहानी ( President Hasan Ruhani ) से भी बातचीत करेंगे। बता दें कि अमरीकी प्रतिबंधों के बाद इन दोनों नेताओं (पीएम मोदी और हसन रूहानी) के बीच द्विपक्षीय वार्ता काफी अहम मानी जा रही है।

SCO शिखर सम्मेलन में भाग लेने किर्गिस्तान पहुंचे पीएम मोदी, हवाई अड्डे पर हुआ जोरदार स्वागत

वहीं, विदेश मंत्रालय में सचिव गीतेश शर्मा ने कुछ समय पहले ही बताया था कि SCO शिखर सम्मेलन के मौके पर पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन के बीच तथा पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच द्विपक्षीय बैठक होगी। वहीं , पाक पीएम इमरान खान से बातचीत के अफवाहों को खारिज करते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और पाकिस्तानी समकक्ष बीच इमरान खान के बीच कोई बैठक नहीं हो रही है। हालांकि यह भी आशंका जताई गई कि दोनों नेताओं के बीच अनौपचारिक मुलाकात संभव हो सकती है।

 

 

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned