श्रीलंका: राष्ट्रपति गौतबाया राजपक्षे ने संसद सत्र का किया उद्घाटन, सभी देशों के साथ मजबूत संबंध बनाने पर दिया जोर

  • गौतबाया राजपक्षे ( Gotabaya Rajapaksa ) पहली बार संसद पहुंचे तो वे अपने पहनावे को लेकर चर्चा में रहे
  • अपने संबोधन में राजपक्षे ने सभी देशों के साथ मजबूत संबंधों पर जोर दिया

By: Anil Kumar

Published: 03 Jan 2020, 02:28 PM IST

कोलंबो। श्रीलंका ( Sri Lanka ) के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति गौतबाया राजपक्षे ( President Gotabaya Rajapaksa ) ने शुक्रवार को संसद को संबोधित किया। वे पहली बार संसद पहुंचे, क्योंकि इससे पहले वे कभी भी संसद सदस्य नहीं रहे।

अपने संबोधन में राजपक्षे ने सभी देशों के साथ मजबूत संबंधों पर जोर दिया और अपनी सरकार के दृष्टिकोण को रेखांकित किया। राजपक्षे ने संसद के चौथे सत्र का उद्घाटन शुक्रवार को किया।

चीन के और करीब आना चाहता है श्रीलंका, महिंदा राजपक्षे ने दिया बड़ा बयान

बता दें कि संसद का इस सत्र ( parliament session ) की शुरुआत एक महीना पहले यानी कि 3 दिसंबर को होना था, लेकिन राष्ट्रपति गौतबाया राजपक्षे ने इसे एक महीने के लिए टाल दिया था और 3 जनवरी की तारीख तय की थी।

यूरोपीय सूट पहनकर पहुंचे संसद

राष्ट्रपति गौतबाया राजपक्षे पहली बार संसद पहुंचे तो वे अपने पहनावे को लेकर चर्चा में रहे। उन्होंने संसद में भाग लेने के लिए यूरोपीय सूट ( European suit ) चुना। हालांकि इससे पहले के राष्ट्रपति हमेशा पारंपरिक राष्ट्रीय पोशाक पहनकर संसद पहुंचते थे।

उन्होंने राष्ट्रीय पोशाक के साथ परिवार के ट्रेडमार्क मैरून रंग का शॉल नहीं पहना था, जो गिरुअट्टुवा के गहरे दक्षिणी क्षेत्र से किसानों का प्रतिनिधित्व करने का दावा करता है।

राष्ट्रपति गौतबाया ने अपने संबोधन में स्थानीय अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए त्वरित बुनियादी ढांचे के विकास के साथ दक्षता, भ्रष्टाचार और अपराध को खत्म करने के लिए अपनी सरकार के दृष्टिकोण को रेखांकित किया।

चीन के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध आगे बढ़ाने पर श्रीलंका का जोर, पीएम महिंदा राजपक्षे ने कहा- हमारा रिश्ता अटूट

उन्होंने सदन को बताया कि श्रीलंका को एक प्रगतिशील राज्य बनाने के लिए चुनावी और संवैधानिक सुधार की आवश्यकता होगी। बता दें कि गौतबाया राजपक्षे ने राष्ट्रपति चुनाव में भारी बहुमत से जीत हासिल की थी।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned