राफेल मामले में भाजपा को मिली क्लीन चिट, लेकिन मायावती ने दे दिया झटका, दिया ऐसा बयान

राफेल मामले में भाजपा को मिली क्लीन चिट, लेकिन मायावती ने दे दिया झटका, दिया ऐसा बयान
Mayawati

Abhishek Gupta | Publish: Dec, 14 2018 05:49:21 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

मायावती ने भी इस मामले पर भाजपा और कांग्रेस दोनों पर ही निशाना साधा। और बड़ी नसीहत भी दे डाली।

लखनऊ. राफेल डिल में क्लीन चिट मिलने के बाद चुनाव में हार का सामना करने वाली भाजपा कुछ राहत में है और इससे वो कांग्रेस को फिर से आड़े हाथों लेने की कोशिश है, लेकिन बसपा सुप्रीमो यहां पर भी भाजपा पर कोई रियायत बरतने के मूड में नहीं दिख रही। मायावती ने भी इस मामले पर भाजपा और कांग्रेस दोनों पर ही निशाना साधा। और बड़ी नसीहत भी दे डाली।

ये भी पढ़ें- राजस्थान में नहीं खुला था सपा का खाता, लेकिन इस प्रत्याशी ने भाजपा को पछाड़ा और बसपा को इस सीट पर दी कांटे की टक्कर, नहीं गया इसपर किसी का ध्यान

दीर्घकालीन व पारदर्शी नीति बनाएं-

मायावती ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से संकट में घिरी केंद्र सरकार को राहत मिली है, लेकिन अब जरूरी है कि सरकार दीर्घकालीन पारदर्शी नीति बनाए, जिससे देशहित में रक्षा सौदों में होने वाली गड़बड़ियां रोकी जा सकें। मायावती ने देशहित में अब केंद्र सरकार सहयोगी पार्टियों के साथ मिलकर रक्षा सौदों की खरीद में एक दीर्घकालीन व पारदर्शी नीति बनाए। रक्षा सौदों के लिए दीर्घकालीन पारदर्शी नीति बनाकर देश की छवि धूमिल होने के साथ-साथ ऐसे मामलों में कोर्ट कचहरी की मजबूरी से भी बचा जा सकता है।

ये भी पढ़ें- पीएम मोदी-सीएम योगी के आगमन से पहले यहां हुआ बड़ा हादसा, प्रशासन के फूले हाथ-पांव

भाजपा और कांग्रेस एक ही थाली के चट्टे-बट्टे-

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टियों पर सत्ता मिलने के बाद भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं। दोनों ही पार्टियां एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं और कोई किसी से कम नहीं। केंद्र में कांग्रेस की सरकार आई तो बोफोर्स तोप का घोटाला हुआ और अब केंद्र में बीजेपी है तो राफेल डील में गड़बड़ी हुई है।

ये भी पढ़ें- तीन राज्यों में जीत मिलते ही कांग्रेस के बदल गए स्वर, सपा-बसपा से गठबंधन पर साफ कर दिया अपना एजेंडा, रख दी यह शर्त, अखिलेश के उड़ होश

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned