Baghpat: गैंगरेप मामले में पीड़ि‍तों ने की यह शिकायत को एएसपी हुए कोतवाली प्रभारी से नाराज

Baghpat: गैंगरेप मामले में पीड़ि‍तों ने की यह शिकायत को एएसपी हुए कोतवाली प्रभारी से नाराज

sharad asthana | Updated: 12 Oct 2019, 04:03:42 PM (IST) Bagpat, Bagpat, Uttar Pradesh, India

Highlights

  • एक माह पूर्व Baraut में हुआ था नाबालिग लड़की से गैंगरेप
  • फैक्ट्री मालिक समेत तीन लोगों के विरुद्ध दी गई थी शिकायत
  • पीड़ि‍त परिजनों ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

बागपत। दुष्कर्म के आरोपी की एक माह बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने पर एएसपी (ASP) ने नाराजगी जताई है। उन्‍होंने तुरंत कोतवाली प्रभारी बड़ौत (Baraut) को आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी करने के निर्देश दिए हैं। बता दें क‍ि करीब एक माह पूर्व बड़ौत में अमीनगर सराय रोड स्थित एक फैक्ट्री में नाबालिग लड़की से गैंगरेप हुआ था। इस मामले में अभी तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इसको लेकर पीड़ि‍त परिजनों ने शुक्रवार को एएसपी से शिकायत की थी।

यह भी पढ़ें: Bulandshahr: पुलिस ने हत्‍या करने से पहले ही गिरफ्तार किए सुपारी किलर, महिला ने रची थी खौफनाक साजिश- देखें वीडियो

यह है मामला

पीड़िता के अनुसार, 7 सितंबर को वह रात को अपनी नानी के घर गई थी। आरोप है कि वहां पर रहने वाला शमशाद उसे बहला फुसलाकर अपने साथ एक फैक्ट्री में ले गया था। वहां पर तीन लोगों ने उससे गैंगरेप किया। किशोरी के पिता ने कोतवाली बड़ौत में फैक्ट्री मालिक समेत तीन लोगों के विरुद्ध तहरीर दी थी। पुलिस ने एक आरोपी नत्थू को गिरफ्तार कर लिया था। पीड़ितों का आरोप है कि आरोपी फैक्ट्री मालिक का नाम पुलिस (Police) ने रिपोर्ट से हटा दिया है और दूसरे को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर रही है। आरोप है कि आरोपी उन पर फैसले के लिए दबाव बना रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Bagpat: Police के Wahtsapp Group पर Viral हुआ आपत्तिजनक वीडियो तो मची खलबली- देखें वीडियो

गिरफ्तारी नहीं होने पर जताई नाराजगी

शिकायत मिलने के बाद एएसपी अनिल कुमार ने आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर नाराजगी जताई। उन्‍होंने फाैरन कोतवाली प्रभारी बड़ौत को आरोपी की गिरफ्तारी करने के निर्देश दिए। एएसपी अनिल कुमार ने कहा कि इस मामले में पॉक्सो एक्ट भी लगा है। इसमें अधिकतम 60 दिन के अंदर जांच पूरी करना अनिवार्य है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि समय से कोर्ट में रिपोर्ट पेश की जा सके।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned