बालोद में पांच छोटी बच्चियों से 65 साल के बुजुर्ग ने किया बलात्कार, दर्द से चीखने लगी मासूम तब सच्चाई जानकर उड़े परिजनों के होश

बालोद जिले के एक थाना अंतर्गत पांच नाबालिग बच्चियों से बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। (Minor girl rape case in Balod)

By: Dakshi Sahu

Updated: 03 Aug 2020, 01:32 PM IST

बालोद. जिले के एक थाना अंतर्गत पांच नाबालिग बच्चियों से बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक गांव में जिसे छोटी बच्चियां दादा कहती थीं, उसी 65 साल के वृद्ध ने रिश्तों व इंसानियत की सारी हदें ही पार कर दी। गांव की 7, 8, 9 साल की नाबालिग बच्ची को चॉकलेट देने व टीवी दिखाने के बहाने अपने घर बुलाकर उनके साथ बलात्कार करता था। इस घटना की जानकारी मिलते ही अर्जुंदा थाना की पुलिस ने शुक्रवार देर रात को 65 वर्षीय आरोपी रेखूराम सेन को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। धारा 363, 354 क, 376 क, ख, 376 (2), पॉक्सो एक्ट के तहत शनिवार को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।

दोपहर एक से तीन बजे के बीच बुलाता था घर
डीएसपी दिनेश सिन्हा ने बताया कि घटना 28, 29 व 30 जुलाई की है। आरोपी वृद्ध रेखूराम सेन गांव की छोटी बच्चियों को अपने घर बुलाकर टीवी दिखाने व चॉकलेट खिलाने का लालच देकर एक कमरे में ले जाकर बलात्कार करता था। जब एक बच्ची ने जब अपनी मां को बताया कि उसके प्रायवेट पार्ट में दर्द हो रहा है। तब जाकर इस घटना की जानकारी परिजनों को हुई। बच्ची की हालत देख उनके होश उड़ गए। फिर गांव में बैठक भी हुई। जिसकी जानकारी मिलने पर पुलिस ने बारीकी से पूछताछ की तो मामला सही पाया गया।

एक बच्ची के परिजनों की रिपोर्ट पर अन्य चार बच्ची व उनके परिजनों को सह प्रार्थी बनाकर पुलिस जांच में जुट गई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में यह भी बातें सामने आई कि आरोपी बच्चियों को दोपहर एक से तीन बजे के बीच घर बुलाता था। उनके साथ गलत काम करता था। बच्चियों को किसी को न बताने की धमकी भी देता था।

वृद्ध को गिरफ्तार कर जेल भेजा
वर्तमान में मां व पिता अपने बच्चों को अपने नजर के सामने ही रखें। क्योंकि वर्तमान समय में कब क्या हो जाए। किसी को पता नही। डीएसपी गुंडरदेही दिनेश सिन्हा ने बताया कि
घटना की जानकारी मिली थी। पुलिस ने गांव में जाकर जानकारी ली तो मामला सही पाया गया। बलात्कार के आरोपी वृद्ध को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

बैठक के दौरान पहुंच गई पुलिस
मिली जानकारी के मुताबिक घटना के अंतिम दिन आरोपी वृद्ध पांच बच्चियों को अपने घर ले गया था। उसी दिन शाम को एक बच्ची को दर्द हुआ तो अपनी मां को घटना के बारे में जानकारी दी। इसके बाद परिजनों ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी। वहीं गांव में इस मामले में हल्ला हुआ तो 30 जुलाई को बैठक भी हुई। बैठक में इस घटना को लेकर चर्चा हो रही थी, तभी बैठक के बीच पुलिस की टीम भी आ पहुंची। मामले पर पीडि़त बच्चियों के परिजनों से पूछताछ की गई। उसी रात पुलिस ने आरोपी को थाना ले आई।

पुलिस कर रही है आरोपी से पूछताछ
पुलिस के मुताबिक आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद आरोपी से भी कड़ाई से पूछताछ की गई। आरोपी अलग-अलग बातें कर रहा है। पुलिस आरोपी के बारे में पूरी जानकारी ले रही है। इससे पहले और इस तरह की घटना को अंजाम दिया है या नहीं, इसकी भी जानकारी जुटा रही है।

सभी बच्चियों से की गई पूछताछ
डीएसपी दिनेश सिन्हा ने इस घटना को दु:खद बताया और कहा कि मामले की बारीकी से जांच किया जा रहा है। सभी पीडि़त बच्चियों से भी पूछताछ की गई है। सभी के बयान के आधार पर कार्रवाई की जा रही है।

अपने बच्चों व गतिविधियों पर रखें नजर
जिले में लगातार नाबालिग बच्चों के साथ इस तरह की गंभीर घटनाएं घट रही हैं। पालक अपने बच्चों पर नजर रखें। बच्चे कहां जा रहे हैं। कहां गए, इसकी जानकारी रखें। बच्चों को पड़ोसी या परिजनों की जिम्मेदारी में छोड़कर जा रहें हो तो भी समय-समय पर जानकारी लेते रहे। क्योंकि जिले में नाबालिगों के साथ अपने ही रिश्तेदार या फिर पड़ोसी इस तरह की घटना को भी अंजाम दे रहे हैं।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned