शादीशुदा औरत को टमाटर बेचने वाले से हो गया प्यार, पति के खिलाफ रची ये खौफनाक साजिश

आरोपी रामू यादव के पास पिस्तौल थी। जिससे कामता बघेल को मारने हामी भर दी। यदू कुमार नवरंगे ने अपने दो अन्य दोस्त रामू यादव और राजा बाबू के साथ मिलकर कामता को मिलने के लिए बुलाया। जैसे ही कामता शराब भट्टी सुरखी रोड के पास पंहुचा रामू यादव एवं यदू कुमार नवरंगे ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी।

बलौदा बाजार. 5 अक्टूबर को भाटापारा के सुरखी गाँव के शराब भट्ठी के पास गोली मार दी गयी थी। इस मामले में पुलिस को 9 दिन बाद सफलता मिली है। मृतक की हत्या की साजिश किसी और ने नहीं बल्कि उसकी पत्नी ने ही अपने आशिक के साथ मिलकर रची थी। आपको बता दें कि इसी हत्याकांड की छाननबीन के दौरान थाना प्रभारी की पिटाई तक हो चुकी है।

फिल्मी स्टाइल में वेश बदल कर जुआरियों तक पहुंचे पुलिस वाले, सच पता चला तो मच गयी भगदड़

एसपी नीथूकमल के अनुसार गोलीकांड में मृतक पति कामता बघेल की पत्नी आरोपी मंजू बघेल, आशिक यदु कुमार नवरंगे और साथी रामू यादव व राजा बाबू को गिरफ्तार किया गया है। इन चारों ने ही मिलकर युवक की हत्या को अंजाम दिया था। हत्या में इस्तेमाल पिस्टल बरामद कर लिया गया है।

अध्यापिका का गजब कारनामा, एक ही समय पर दो-दो स्कूलों में करती है ड्यूटी

टमाटर बेचने वाले पर फ़िदा थी पत्नी

मृतक की पत्नी मंजू बघेल पहले भाटापारा सब्जी मंडी में मजदूरी का काम करती थी। वहीं पर उसकी मुलकात ठेले पर घूम-घूमकर आलू,प्याज,टमाटर बेचने वाले बिटकुली निवासी यदू कुमार नवरंगे से हुई और दोनों को एकदूसरे से प्यार हो गया। इसकी जानकारी पति को घटना के 7 महीने पहले लग गयी थी।

मंत्री अमरजीत भगत ने अधिकारियों को धमकाया, कहा- गलती की तो भेज देंगे बस्तर और सरगुजा

जिसके बाद पति ने पत्नी को समझाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं मानी जिसके बाद उन दोनों में मारपीट भी होने लगी। विवाद इतना बढ़ा कि मृतक की पत्नी मृतक को छोड़कर अपने मायके चली गई।

प्रेमी के साथ मिलकर रची साजिश

पुलिस ने जांच के दौरान ये पाया कि मृतक की पत्नी का यदू कुमार नवरंगे से लगातार संपर्क हो रहा था। सूचना मिलने पर आरोपी यदू कुमार नवरंगे को पूछताछ किया गया. पूछताछ में पता चला कि पत्नी का यदू कुमार नवरंगे से लगातार संपर्क रहा और दोनों के बीच प्रगाढ़ प्रेम संबंध था ।

लेकिन मृतक के कारण दोनों का मिल पाना संभव नहीं हो पा रहा था जिस पर मृतक की पत्नी ने यदू नवरंगे के साथ मिलकर चन्द्रकात बघेल उर्फ कामता को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया।हत्या के बाद एक साथ आंध्र प्रदेश या अन्य राज्य भाग जाने की भी योजना दोनों ने बनाई।यदू कुमार नवरंगे भी पहले से शादीशुदा हैं लेकिन इसके बावजूद वह अपनी पत्नी और बच्चों को छोड़ने के लिए तैयार था।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम

आरोपी रामू यादव के पास पिस्तौल थी। जिससे कामता बघेल को मारने हामी भर दी। यदू कुमार नवरंगे ने अपने दो अन्य दोस्त रामू यादव और राजा बाबू के साथ मिलकर कामता को मिलने के लिए बुलाया। जैसे ही कामता शराब भट्टी सुरखी रोड के पास पंहुचा रामू यादव एवं यदू कुमार नवरंगे ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी।

पीसीसी चीफ ने रमन और जोगी पर कसा तंज, कहा- दोनों पूर्व मुख्यमंत्री जेल जाने की तैयारी में…

हत्या करने के बाद रामू यादव ने उपयोग किए गए पिस्तौल को सुरखी पुल के पास छुपा कर रख दिया था। पुलिस ने अब चारों आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. घटना में इस्तेमाल बाइक एवं पिस्तौल को आरोपियों के कब्जे से बरामद कर लिया गया है।

ये भी पढ़ें: इन खिलाड़ियों के जूनून के सामने बौना साबित हो रहा उम्र, 75 और 65 साल की उम्र में जीते कई नेशनल एथलेटिक्स मेडल

Karunakant Chaubey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned