scriptदोहरे हत्याकांड की पुलिस ने सुलझाई गुत्थी, दबंगों ने पत्रकार के घर में एल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर से लगाई आग | Police solved the mystery of double murder in Balrampur | Patrika News
बलरामपुर

दोहरे हत्याकांड की पुलिस ने सुलझाई गुत्थी, दबंगों ने पत्रकार के घर में एल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर से लगाई आग

– पुलिस ने प्रधान पुत्र समेत तीन को गिरफ्तार कर भेजा जेल – घटना में शामिल अन्य लोगों की तलाश जारी

बलरामपुरNov 30, 2020 / 08:23 pm

Neeraj Patel

2_4.jpg

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बलरामपुर. जिले में ग्राम प्रधान के भ्रष्टाचार को उजागर करना व पैसे के लेन देन में पत्रकार व उसके दोस्त के हत्या की मुख्य वजह बन गई। पुलिस ने पत्रकार व उसके दोस्त की वीभत्स हत्या का खुलासा करते हुए हत्या में शामिल मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक पत्रकार राकेश व उसके दोस्त हिन्दूवादी नेता पिंटू साहू की हत्या एल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर से जलाकर की गई। पुलिस ने ग्राम कलवारी के प्रधान पुत्र केसवानंद मिश्र उर्फ रिंकू मिश्र सहित अकरम अली व ललित मिश्रा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। घटना में शामिल अन्य लोगों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

दरअसल, 27 नवंबर की रात पत्रकार राकेश सिंह निर्भीक के घर संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गई थी। इस अग्निकांड में राकेश सिंह व उनके साथी पिंटू साहू की झुलस कर मौत हो गई थी। घटना के बाद से ही पत्रकार राकेश सिंह के परिजन हत्या की आशंका जता रहे थे। राकेश सिंह के पिता मुन्ना सिंह की तहरीर पर कोतवाली देहात पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। घटना का खुलासा के लिए पुलिस की चार टीमें हर पहलू पर जांच कर रही थी। 30 नवंबर को पुलिस ने दोहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्या में शामिल तीन मुख्य आरोपी केशवानंद मिश्रा उर्फ रिंकू मिश्रा, अकरम अली व ललित मिश्रा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

एसपी देव रंजन ने बताया कि पत्रकार राकेश सिंह एक निडर पत्रकार थे। राकेश सिंह और उनके साथी पिंटू साहू की धोखे से साजिश कर हत्या की गई है।उन्होंने बताया कि अभियुक्तों ने घटना को दुर्घटना में बदलने का प्रयास किया था जिससे किसी को हत्या किये जाने की आशंका न हो। एसपी देवरंजन ने बताया कि कुछ समय पहले पिंटू साहू ने एक ईऑन कार ललित मिश्रा को बेची थी। जिसके पूरे पैसे ललित ने पिंटू को नहीं दिया था।इसी बात को लेकर 27 नवंबर की रात पिंटू साहू और ललित मिश्रा का एक बीयर दुकान पर झगड़ा हुआ था। पिंटू साहू नशे में था जिसके बाद उसके एक दोस्त ने उसे घर के पास छोड़ दिया था। लेकिन पिंटू साहू घर न जाकर सीधे राकेश सिंह के घर चला गया। एसपी देव रंजन वर्मा ने बताया झगड़ा होने के बाद ललित मिश्रा ने अकरम अली को फोन किया। अकरम अली अपराधिक प्रवृत्त का है। पूर्व में भी श्रावस्ती जिले के थाना इकोना में उस पर 302 का मुकदमा दर्ज है। अकरम आग लगाने में काफी माहिर है।

सोची समझी साजिश के तहत दिया गया घटना को अंजाम

पत्रकार राकेश सिंह ग्राम कलवारी के प्रधान द्वारा किए गए भ्रष्टाचार को उजागर करना चाहता था जिस कारण से प्रधान पुत्र से उसकी कहासुनी हुई थी। 27 नवंबर की रात प्रधान पुत्र रिंकू मिश्र अपने साथियों के साथ राकेश सिंह के घर पहुंचा और वहां सुलह समझौता के बात करते हुए राकेश सिंह व पिंटू साहू को शराब पिलाई। शराब के नशे में जब राकेश और पिंटू बेसुध हो गए। तब प्रधान पुत्र ने कॉल करके अकरम अली व ललित मिश्रा को बुलाया। अकरम अली आग लगाने में माहिर माना जाता है। उसने एल्कोहल बेस्ड सेनीटाइजर डालकर राकेश व पिंटू साहू को जला दिया। कमरे से कोई बाहर न जा पाए इसलिए अभियुक्तों ने बाहर से कमरा बंद कर ताला लगा दिया था। इस तरह पत्रकार व उसके साथी की हत्या भ्रस्टाचार को उजागर करने व पैसे के लेन देन में हुई। पूरे घटनाक्रम को सोची समझी साजिश के तहत अंजाम दिया गया है।

Hindi News/ Balrampur / दोहरे हत्याकांड की पुलिस ने सुलझाई गुत्थी, दबंगों ने पत्रकार के घर में एल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर से लगाई आग

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो