UP Weather Updates : बलरामपुर में 48 घंटों से हो रही मूसलाधार बारिश, राप्ती नदी का जलस्तर बढ़ने से कटान का खतरा बढ़ा, प्रशासन अलर्ट

Rapti river water level increasing in Balrampur- बलरामपुर में लोगों को बाढ़ से बचाने के लिए दो दर्जन बाढ़ चौकियां बनायी गयी हैं, जिन पर नाव तैनात कर दिये गये हैं

By: Hariom Dwivedi

Updated: 14 Jun 2021, 05:55 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बलरामपुर. Rapti river water level increasing in Balrampur- उत्तर प्रदेश में मानसून (Monsoon) ने दस्तक दे दी है। कमोबेश सभी जिलों में झमाझम बारिश (Heavy Rain) हो रही है। बलरामपुर में बीते 48 घण्टों से हो रही मूसलाधार बारिश से राप्ती नदी का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है वहीं, पहाड़ी नाले उफान पर हैं। राप्ती नदी का जलस्तर बढ़ने से जहां जिले के दर्जनों गांवों में नदी के कटान का खतरा बढ़ गया है। बलरामपुर में राप्ती नदी के कटान व बाढ़ के कहर से लोगों को बचाने से लिए जिला प्रशासन अलर्ट पर है। बाढ़ व कटान से निपटने के जिला प्रशासन ने पूरी तैयारियों कर ली है।

बाढ़ व कटान की विभीषिका से काफी धन, जनहानि हो जाती है। ऐसे मे अगर पहले से सावधानी रहे तो नुकसान को कम किया जा सकता है। जनपद बलरामपुर में लोगों को बाढ़ से बचाने के लिए जिला प्रशासन तैयारी में जुटा है। जिले में दो दर्जन बाढ़ चौकियां बनायी गयी हैं, जिस पर नाव तैनात कर दिये गये हैं। सभी चौकियों पर कर्मचारी तैनात किये गये हैं। साथ ही आपदा प्रबंधन कार्यालय को 24 घंटे चालू कर दिया गया है। राप्ती नदी के कटान को रोकने के लिए तटबंधों पर पत्थर व बालू से भरी बोरियों को लगाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : 18 जून तक भारी बारिश का अलर्ट, किसान खुश, संक्रामक बीमारियों का खतरा बढ़ा

जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण
जिलाधिकारी श्रुति ने बाढ़ से पूर्व तहसील बलरामपुर सदर के ढोढरी ग्राम में कटान निरोधक परियोजना का निरीक्षण भी किया। सहायक अभियंता एएन अंचल ने बताया कि ग्राम में राप्ती नदी के कटान रोकने के लिए 350 मीटर लंबाई में पिचिंग एवं परक्यूपाइन का कार्य किया जा रहा। जल्द ही कार्य को पूर्ण कर लिया जाएगा। जिलाधिकारी ने बाढ़ से पूर्व कार्य पूर्ण कर लिए जाने तथा गुणवत्तापूर्ण कार्य किए जाने का निर्देश संबधित अधिकारियों को दिए। उप जिलाधिकारी उतरौला डॉ नगेंद्र नाथ यादव द्वारा राप्ती नदी के तट पर बसे ग्राम लाल नगर एवं एलनपुर का भौतिक निरीक्षण किया गया। दोनों ग्राम राप्ती नदी के जलस्तर बढ़ने पर बाढ़ के दृष्टिगत संवेदनशील ग्राम है। उप जिलाधिकारी ने बाढ़ खंड के अधिकारियों को जल स्तर पर नजर रखने एवं कटान को रोकने के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए है।

नदी के बढ़ते जल स्तर पर रखी जा रही नजर
आपदा अधिकारी/एडीएम अरुण कुमार कुमार शुक्ल ने बताया कि राप्ती नदी के बढ़ते जलस्तर पर लगातार नजर रखी जा रही है। बाढ़ से निपटने की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। क्षेत्रीय राजस्व अधिकारियों को स्थिति पर नजर रखने का निर्देश दिया गया है।

यह भी पढ़ें : इस साल तेज है मानसून की रफ्तार, झमाझम बारिश से हुआ आगाज

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned