पता नहीं पूरी तरह कब से खुलेंगे स्कूल: शिक्षा मंत्री

- बच्चों में सामाजिक जागरूकता और जिम्मेदारी पैदा करने की अपील

By: Nikhil Kumar

Published: 01 Mar 2021, 01:42 AM IST

मेंगलूरु. प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस. सुरेश कुमार ने रविवार को कहा कि कोरोना ने शिक्षण गतिविधियों को बुरी तरह से प्रभावित किया है। शैक्षणिक वर्ष 2020-21 बेहद चुनौतीपूर्ण रहा। अब भी पता नहीं कि स्कूल पूर्ण रूप से कब से प्रारंभ होंगे, कब से जिंदगी सामान्य होगी।

एक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद मंत्री ने कहा कि विद्यागम और ऑनलाइन शिक्षा प्रभावी रही है। विद्यार्थियों का साल बर्बाद होने से बच गया और शिक्षण गतिविधियां जारी रहीं।

उन्होंने शिक्षकों व अभिभावकों से बच्चों में सामाजिक जागरूकता और जिम्मेदारी पैदा करने की अपील की।

शिक्षक निर्मला का उदहारण देते हुए मंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र से होने के बावजूद अंजनप्पा 92 फीसदी अंकों के साथ एसएसएसली परीक्षा में उत्तीर्ण हुआ। सीइटी में 131 रैंक और जेइइ में 91 रैंक हासिल किया। अंजनप्पा आइआइटी, मुंबई में इंजीनियर बनने का सपना पूरा करने में जुटा है। इसका श्रेय निर्मला को जाता है। कार्यक्रम में मौजूद विधायक वेदव्यास कामत ने कहा कि जीवन एक दौड़ है। लेकिन, दौड़ जीतने से ज्यादा महत्वपूर्ण है जिंदगी जीतना।

कर्नाटक बैंक के अध्यक्ष महाबलेश्वर ने कहा कि शिक्षक, विद्यार्थी, अभिभावक और प्रबंधन स्कूल के चार मजबूत स्तंभ हैं। सफलता के लिए सभी को मिल कर काम करना होगा।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned