scriptहिजाब विवाद : कर्नाटक में बिगड़ रहे हालत, कॉलेजों में हिंसक प्रदर्शन | Hijab Controvery in Karnataka Takes Ugly Turn | Patrika News

हिजाब विवाद : कर्नाटक में बिगड़ रहे हालत, कॉलेजों में हिंसक प्रदर्शन

locationबैंगलोरPublished: Feb 09, 2022 06:00:21 pm

Submitted by:

Nikhil Kumar

कर्नाटक में हिजाब विवाद बढ़ता जा रहा है। मुद्दे के पक्ष-विपक्ष में छात्र सड़क पर उतर आए हैं। शिवमोग्गा में धारा 144 लगा दी गयी है। उपद्रव कर रहे छात्रों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया है।

hijab.jpg

बेंगलूरु. कर्नाटक में हिजाब (Hijab Controversy in Karnataka Takes Ugly Turn) को लेकर चल रहा विवाद मंगलवार को कई अन्य जिलों में फैल गया। राज्य के विभिन्न हिस्सों में कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो गई और कुछ जगहों से हिंसक प्रदर्शन हुए। कई जगह पुलिस को हालात संभालने के लिए बल प्रयोग करना पड़ा।

पथराव के बाद लाठीचार्ज
शिवमोग्गा के सरकारी पीयू कॉलेज में हिजाब के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पथराव और लाठीचार्ज (stone pelting and lathi charge) के बाद जिला प्रशासन ने शहर में बुधवार तक धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लगा दी। मंगलवार सुबह काफी संख्या में भगवा शॉल (saffron shawl) के साथ कॉलेज पहुंचे विद्यार्थियों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान एक छात्र ने ध्वज स्तंभ पर भगवा ध्वज फहरा दिया। हालांकि, स्थानीय लोगों का कहना है कि वहां पहले से कोई ध्वज नहीं लगा था। इसी दौरान नारेबाजी के बीच पथराव भी हुआ।

पथराव में कुछ छात्रों को मामूली चोटें आई हैं। यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि छात्रों पर पथराव किसने किया। छात्रों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। पुलिस अधीक्षक बी.एम. लक्ष्मी प्रसाद और जिलाधिकारी सेल्वामणि आर. ने परिसर का दौरा किया। सेल्वामणि ने बताया कि पथराव की कुछ घटनाओं के बाद शहर में धारा 144 लगाई गई है। बाद में विद्यार्थियों के एक समूह ने जिलाधिकारी कार्यालय के सामने भी प्रदर्शन किया। जिले के शिकारीपुर में इस मसले को लेकर सरकारी पीयू कॉलेज के सामने प्रदर्शन के दौरान कुछ शरारती तत्वों ने एक निजी बस पर पथराव कर दिया। पुलिस ने प्रदर्शनकारी विद्यार्थियों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया, इसी दौरान पथराव की घटना हुई।

बागलकोट में भी पथराव की घटना
बागलकोट जिले के बनहट्टी में सरकारी पीयू कॉलेज में इस मामले को लेकर हुए प्रदर्शन के दौरान एक विद्यार्थी को हल्की चोट आई। विद्यार्थियों के दो खेमों के विरोध प्रदर्शन के दौरान अज्ञात लोगों ने पथराव किया। भगवा शॉल के साथ पहुंचे विद्यार्थियों को कॉलेज के गेट पर रोक दिया गया। छात्रों ने कक्षा में जाने की अनुमति देने की मांग करते हुए कहा कि जब हिजाब के साथ छात्राओं को अनुमति दी गई है तो उन्हें भी दी जाए। इसे लेकर दोनों पक्षों के विद्यार्थी धरना देने लगे तभी पथराव की घटना हुई। मौके पर पहुंची पुलिस ने हालात को संभाला। बाद में कॉलेज में दिनभर के लिए अवकाश घोषित कर दिया गया।

उडुपी में दोनों पक्ष आमने-सामने
उधर, उडुपी के महात्मा गांधी मेमोरियल पीयू कॉलेज (Mahatma Gandhi Memorial Pu College) में मंगलवार को हिजाब के विरोध में कुछ विद्यार्थी भगवा पगड़ी पहनकर पहुंचे। भगवा शॉल और पट्टी बांधे विद्यार्थियों ने हिजाब के खिलाफ प्रदर्शन किया तो मुस्लिम छात्राओं (Muslim Students) ने हिजाब के समर्थन में नारे लगाए। तनाव की स्थिति पैदा होते देख कॉलेज के अधिकारियों ने गेट बंद कर दिया। इस बीच छात्रों के दोनों गुटों ने एक-दूसरे के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कॉलेज प्रशासन और स्थानीय पुलिस ने सभी को शांत करने की कोशिश की। स्थिति को देखते हुए कॉलेज प्रशासन ने दिनभर के लिए अवकाश घोषित कर दिया।

मण्ड्या, हासन में भी प्रदर्शन
मण्ड्या जिले में भी इस मामले को लेकर प्रदर्शन हुआ। हिजाब के साथ पहुंची एक छात्रा को विरोध का सामना करना पड़ा। पीईएस कॉलेज में कुछ विद्यार्थियों ने छात्रा को भगवा शॉल और स्कार्फ दिखाते हुए नारे लगाए। बाद में कॉलेज के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और छात्रा को कक्षा तक ले गए। जिले के अन्य कॉलेजों में प्रदर्शन हुए। मंड्या के पीएसएस कॉलेज में गले में भगवा गमछा डालकर विद्यार्थियों ने भगवा गमछा गले में डालकर मंगलवार कॉलेज में आने पर प्रवेश की अनुमति नहीं दी। इस पर विद्यार्थियों ने जिलाधिकारी कार्यालय के समाने धरना दिया। उधर, श्रीरंगपट्टण के सरकारी कॉलेज में विद्यार्थी भगवा गमछा डालकर आए। केआरपेट में विद्यार्थियों ने प्रदर्शन किया। दावणगेरे जिले के हरिहर सरकारी प्रथम दर्जा कॉलेज में इसे लेकर दो गुटों के बीच तकरार हुई। हालात को संभालने के लिए पुलिस को दखल देना पड़ा। हासन के सरकारी गृह विज्ञान कॉलेज में विद्यार्थियों के हिजाब और भगवा शॉल के साथ आने के बाद एक दिन का अवकाश घोषित कर दिया गया।

कलबुर्गी, विजयनगर में भी प्रदर्शन
कलबुर्गी और विजयनगर जिले में भी इसे लेकर प्रदर्शन हुआ। कलबुर्गी जिले के अफजलपुर तालुक के मन्नूर स्थित सरकारी पीयू कॉलेज में भगवा शॉल के साथ आए विद्यार्थियों ने प्रदर्शन किया। हालांकि, प्राचार्य और अन्य शिक्षकों के समझाइश के बाद प्रदर्शनकारी भगवा शॉल हटाकर कक्षाओं में चले गए। कॉलेज प्रशासन ने छात्राओं से भी हिजाब हटाकर कक्षा में जाने के लिए कहा। सात में से पांच छात्राएं बिना हिजाब कक्षा में जाने के लिए सहमत हो गई। बाकी दो छात्राएं अभिभावकों से अनुमति लेने की बात कहकर घर लौट गईं। जेवर्गी के सरकारी कॉलेज में भी इस मामले को लेकर प्रदर्शन हुआ।

ट्रेंडिंग वीडियो