scriptरेलवे ने कमाई में तोड़े सभी रिकॉर्ड | Railways broke all records in earnings | Patrika News
बैंगलोर

रेलवे ने कमाई में तोड़े सभी रिकॉर्ड

प्रथम आठ माह में माल लदान बढ़ा 4.3 प्रतिशत

बैंगलोरDec 02, 2023 / 06:29 pm

Yogesh Sharma

Long hall goods train stopped for two hours at Khimlasa Gate due to lack of signal

Long hall goods train stopped for two hours at Khimlasa Gate due to lack of signal

बेंगलूरु. भारतीय रेलवे ने नवम्बर 2023 तक 1015.6 मीट्रिक टन माल लदान कर लक्ष्य अर्जित किया है। पिछले वर्ष की तुलना में समान अवधि की तुलना में माल लदान में 36.9 मीट्रिक टन की वृद्धि दर्ज की गई है। रेलवे को अप्रेल-नवम्बर के दौरान माल लदान से 110007.5 करोड़ रुपए की आय हुई है। पिछले साल की समान अवधि की तुलना में माल ढुलाई आय 4102.4 करोड़ रुपए बढ़ी है।
रेलवे ने नवम्बर 2023 में 128.4 मीट्रिक टन अधिक माल लदान किया जो पिछले गत वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 4.3 प्रतिशत अधिक है। अप्रेल-नवम्बर 2023 तक संचयी आधार पर भारतीय रेलवे की ओर से पिछले वर्ष की 978.724 मीट्रिक टन की लोडिंग के मुकाबले 1015.669 मीट्रिक टन की माल लदान हासिल की गई, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में लगभग 36.945 मीट्रिक टन का सुधार है।
दक्षिण पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी अनीश हेगड़ ने बताया कि रेलवे ने पिछले वर्ष के 105905.1 करोड़ रुपए के मुकाबले 110007.5 करोड़ रुपए की कमाई की है, जो कि पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में लगभग 4102.445 करोड़ रुपए अधिक है। नवम्बर 2023 के महीने के दौरान, नवम्बर 2022 में 123.088 मीट्रिक टन की लोडिंग के मुकाबले 128.419 मीट्रिक टन की प्रारंभिक माल ढुलाई हासिल की गई है, जो पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 4.33 प्रतिशत का सुधार है। माल ढुलाई राजस्व रुपए नवंबर 2022 में 13559.83 करोड़ रुपए की माल ढुलाई आय के मुकाबले नवम्बर 2023 में 14077.94 करोड़ रुपए हासिल किए गए, जो पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 3.82प्रतिश्त का सुधार दर्शाता है।
भारतीय रेलवे ने कोयले में 65.48 मीट्रिक टन, लौह अयस्क में 14.99 मीट्रिक टन, पिग आयरन और तैयार स्टील में 5.25 मीट्रिक टन, सीमेंट में 5.58 मीट्रिक टन, क्लिंकर में 4.61 मीट्रिक टन, खाद्यान्न में 3.82 मीट्रिक टन, उर्वरक में 5.97 मीट्रिक टन की लोडिंग हासिल की। नवम्बर, 2023 के दौरान खनिज तेल में 4.176 मीट्रिक टन, कंटेनरों में 6.91 मीट्रिक टन और शेष अन्य सामान में 8.59 मीट्रिक टन की वृद्धि दर्ज की गई है। “हंग्री फॉर कार्गो” मंत्र का पालन करते हुए रेलवे ने व्यापार करने में आसानी के साथ-साथ प्रतिस्पर्धी कीमतों पर सेवा वितरण में सुधार के लिए निरंतर प्रयास किए हैं। ग्राहक केंद्रित दृष्टिकोण और त्वरित नीति निर्माण द्वारा समर्थित व्यवसाय विकास इकाइयों के काम ने रेलवे को इस महत्वपूर्ण उपलब्धि में मदद की।

Hindi News/ Bangalore / रेलवे ने कमाई में तोड़े सभी रिकॉर्ड

ट्रेंडिंग वीडियो