बांसवाड़ा : झेर व जीवाखूंटा एनिकट से पेयजल योजना की बनेगी डीपीआर

Banswara Latest Hindi News : प्रदूषण मंडल का क्षेत्रीय कार्यालय खुलेगा, इंजीनियरिंग कॉलेज अब जीजीटीयू का संघटक

By: Varun Bhatt

Published: 05 Mar 2021, 04:23 PM IST

बांसवाड़ा. प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य बजट की बहस का जवाब देते हुए भी अंचल के लिए घोषणाओं का पिटारा खोला। इसमें बांसवाड़ा जिले के लिए भी विभिन्न विभागों से जुड़ी कई प्रमुख घोषणाएं की गई। मुख्यमंत्री ने जिले के झेर एवं जीवाखूंटा एनिकट से पेयजल के लिए दो करोड़ रुपए की लागत से डीपीआर तैयार कराने की घोषणा की। इसके अतिरिक्त हरिदेव जोशी नहर में साइफन बनाने की घोषणा की। इस घोषणा के बाद बागीदौरा-गांगड़तलाई क्षेत्र में लोगों में हर्ष व्याप्त हो गया और उन्होंने आतिशबाजी भी की। कार्यकर्ताओं ने विधायक महेंद्रजीतसिंह मालवीया का भी आभार व्यक्त किया।

सडक़ों का होगा निर्माण
मुख्यमंत्री ने कुशलगढ़ क्षेत्र में संपर्क सडक़ टाड़ावड़ला से ऊकाला, कलिंजरा से वलूड़ा वसूनी सीमा तक एवं मुंदरी हमीरपुरा से सूरजकुंड तक सडक़ निर्माण, डामरीकरण तथा संपर्क सडक़ चनावला पर पुल निर्माण की घोषणा की।

यह रही प्रमुख घोषणाएं
- बड़ोदिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत होगा।
- वित्तीय प्रबंधन सुनिश्चित करने इंजीनियरिंग कॉलेज जीजीटीयू का संघटक कॉलेज बनाया।
- जिले में राज्य प्रदूषण मंडल का क्षेत्रीय कार्यालय खोला जाएगा।
- जिला मुख्यालय पर स्किल टेस्टिंग व कॅरियर काउंसलिंग सेंटर बनाया जाएगा।
- नगर परिषद के उद्यानों में तीन तथा नगरपालिकाओं के उद्यानों में एक-एक ओपन जिम।
- अंगे्रजी माध्यम से स्कूलों में विज्ञान संकाय प्रस्तावित।
- कुसुम योजना में जनजाति कृषकों के यहां सोलर कनेक्शन का खर्च सरकार वहन करेगी।
- सागवाड़ा में पांच करोड़ की लागत से वागड़ सांस्कृतिक केंद्र बनेगा।

Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned