बांसवाड़ा : रिटायर अधिशासी अभियंता के खाते से 37 लाख उड़ाने के मामले में आरोपी ऑपरेटर गिरफ्तार

Banswara Crime News : यूजर आईडी-पासवर्ड पता होने का फायदा उठाकर किया गोलमाल

By: Varun Bhatt

Published: 15 Apr 2021, 06:51 PM IST


बांसवाड़ा. जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग से रिटायर अधिशासी अभियंता के खाते से उम्रभर की कमाई के 37 लाख रुपए उड़ाने के मामले में कोतवाली पुलिस ने विभाग में ही संविदा पर कार्यरत कम्प्यूटर ऑपरेटर को गिरफ्तार किया है। मामले में अनुसंधान अधिकारी एसआई महेंद्रसिंह ने बताया कि इस संबंध में नागर धर्मशाला के पीछे, त्रिपोलिया रोड निवासी सतीशचंद्र पुत्र पुरुषोत्तमलाल पंड्या ने गत 1 अप्रैल को रिपोर्ट दी थ। इसमें बताया कि पीएचईडी में अधिशासी अभियंता पद से हाल ही रिटायर हुए। उनका एसबीआई की न्यू क्लॉथ मार्केट शाखा में बचत खाता है। इसमें रिटायरमेंट का पैसा आया, तो उन्होंने ऑनलाइन एफडी करवाई। गत 28 मार्च को योनो एप से बेलेंस और ट्रांजेक्शन देखने पर पता चला कि उनके खाते से लेन-देन की गड़बडिय़ां हुई हैं। बैंक के प्रबंधक से संपर्क किया, तो उन्होंने 22 से 25 मार्च के बीच रातीतलाई निवासी नीतिश जोशी पुत्र सुरेशचंद्र जोशी द्वारा ऑनलाइन लेन-देन करना बताया। तब याद आया कि अपने सेवाकाल में ऑनलाइन बैंकिंग के लिए उन्होंने विभाग में संविदा पर कार्यरत नीतिश से मदद मांगी थी। फिर रिटायरमेंट पर प्राप्त राशि भी बैंक खाते में आई, तो ऑनलाइन एफडी करवाने में नीतिश ने सहयोग किया था। इससे यूजर आईडी और पासवर्ड मालूम होने का फायदा उठाकर नीतिश ने खाते से चार एफडी के 37 लाख रुपए की ऑनलाइन धोखाधड़ी कर दी। इस पर तहकीकात से धोखाधड़ी के साक्ष्य मिलने पर आरोपी नीतिश को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस अब उससे पूछताछ कर रही है।

Show More
Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned