बांसवाड़ा : दो की प्लांनिग के बाद प्रशासन के निर्देश पर जिले में चार जगह किया वैक्सीन का ड्राइ-रन

Coronavirus In Rajasthan, Covid Vaccine Latest News : कलक्टर ने पहुंचकर देखा डेमो, इंतजाम पर की चर्चा

By: Varun Bhatt

Published: 03 Jan 2021, 04:27 PM IST

बांसवाड़ा. जिले में कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए वैक्सीन आने से पहले चिकित्सा विभाग ने टीकाकरण की व्यवस्थाएं कर चार जगह पर पूर्वाभ्यास किया। इनका जायजा कलक्टर ने लिया।
इससे पहले विभाग ने शुक्रवार को शहर की आंबावाड़ी यूपीएचसी और वजवाना पीएचसी में ही डेमो करने का निर्णय किया था, लेकिन रात को कलक्टर अंकितकुमार सिंह ने निर्देश दिए, तो जिला अस्पताल परिसर के एएनएम ट्रेनिंग सेंटर में बनाए आदर्श वैक्सीनेशन सेंटर और गांगड़तलाई पीएचसी में भी ड्राइरन के इंतजाम किए गए। आरसीएचओ एवं टीकाकरण के नोडल अधिकारी डॉ. नरेंद्र कोहली ने बताया कि कलक्टर अंकित कुमार सिंह एवं एडीएम नरेश बुनकर ने एएनएम ट्रेनिंग सेंटर, आंबावावड़ी और वजवाना में ड्राइरन की प्रक्रिया देखी। एएनएम प्रशिक्षण सेंटर पर कलक्टर स्वयं ने मोबाइल से वैक्सीन के लाभार्थियों की ऑनलाइन एंट्री की। पूरी तरह से आश्वस्त होने के बाद ही उन्होंने आगे की प्रक्रिया का जायजा लिया।

पांच चरण में है पूरी प्रक्रिया
वेक्सीन लगाने के लिए सेंटर पर लाभार्थी को पांच चरण की प्रक्रिया में पांच चरणों से गुजरना होगा। सेंटर में प्रवेश के समय गार्ड आईडी कार्ड चेक करके पहले से तय सूची में नाम का मिलान करेगा। सेनिटाइजेशन के बाद लाभार्थी को वेटिंग रूम में भेजा जाएगा, जहां सोशल डिस्टेंसिंग के बीच उसकी बारी आने पर जांचकर्ता के पास जाकर अपना परिचय पत्र दिखाना होगा। यहां वेरिफिकेशन अधिकारी मोबाइल से ही ऑनलाइन डाटा अपडेट करेगा। इसके बाद लाभार्थी वैक्सीन कक्ष में जाएगा, जहां मेडिकल टीम दाएं हाथ के बाजू पर वैक्सीन लगाएगी। इसके बाद लाभार्थी को आधा घंटा करीब के उसे निगरानी कक्ष में रखा जाएगा, जहां किसी भी तरह की साइड इफेक्ट पर निगरानी की जाएगी। इस बीच हर स्टेप पर अलग-अलग अधिकारी मॉनीटरिंग करेंगे। इसके बाद लाभार्थी घर वापसी कर सकेगा। पहले वैक्सीनेशन के 28 दिन के अंतराल में दूसरी डोज दी जाएगी।

लगाए साइन बोर्ड, आईईसी पर भी रहा जोर
आंबावाड़ी यूपीएचसी, वजवाना और गांगड़तलाई में भी इसी तर्ज पर डेमो दिए गए। इस बीच, जगह-जगह साइन बोर्ड और आईईसी से केंद्र निखरे-निखरे नजर आए। लाभार्थी बगैर किसी मदद के लिए भी पांचों चरण के लिए जा सके, इसके लिए जगह-जगह साइन बोर्ड लगाए गए तो निगरानी कक्ष और वेटिंग क्षेत्र में कोरोना जागरूकता के लिए आईईसी लगाई गई थी। वजवाना में बीसीएमओ डॉ. दीपिका रोत के निर्देशन में एनसीसी कैडेट ने ड्राइरन के दौरान सेवाएं दी। गागड़तलाई में डिप्टी सीमएचओ डॉ. दीपक निनामा ने व्यवस्थाएं संभाली।

Show More
Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned