बीएसए ऑफिस का शिक्षामित्रों ने किया घेराव, ठंडी रात में कर रहे अनशन

- शिक्षामित्रों ने बेसिक शिक्षा अधिकारी के खिलाफ खोला मोर्चा

- गलत तरीके से नियुक्ति निरस्त करने का लगाया आरोप

By: Neeraj Patel

Published: 26 Dec 2020, 01:36 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बाराबंकी. जिले में आज शिक्षामित्रों ने बेसिक शिक्षा अधिकारी के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया। उनका आरोप है कि बाराबंकी के बीएसए ने नियमों के खिलाफ जाकर उनकी नियुक्ति निरस्त कर दी है। जबकि उन्हें 69000 शिक्षक भर्ती के सापेक्ष 31277 पदों पर हुई भर्ती के अतर्गत सारी औपचारिकचा पूरी करने के बाद नियुक्ति मिली थी।

बाराबंकी में स्थित बेसिक शिक्षा अधिकारी का आज शिक्षामित्रों ने घेराव कर लिया। लगभग 24 शिक्षामित्र किटकिटाने वाली ठंडी रात में बाराबंकी बीएसए ऑफिस के सामने डटे हैं और क्रमिक अनशन कर रहे हैं। ये सभी शिक्षामित्र 69000 शिक्षक भर्ती के सापेक्ष 31277 पदों पर हुई भर्ती से गलत तरीके से बाहर किये जाने का आरोप लगा रहे हैं। इनका आरोप है कि इनके नियुक्ति पत्र बाराबंकी के बीएसए वीपी सिंह ने नियमों के खिलाफ जाकर निरस्त किए हैं, जबकि उनकी नियुक्ति में कुछ भी गड़बड़ी नहीं है।

ये भी पढ़ें - बाराबंकी बीएसए ऑफिस का शिक्षामित्रों ने किया घेराव, ठंडी रात में कर रहे अनशन

बाराबंकी बीएसए ऑफिस के बाहर ठंडी रात में बैठे प्रदर्शनकारी शिक्षामित्रों का कहना है कि बाराबंकी बीएसए ने गलत तरीके से उन्हें शिक्षक भर्ती से बाहर किया है। जबकि उन्हें उनकी नियुक्ति कैंसिल करने का अधिकार नहीं है। उनका कहना है कि जब तक उनकी नियुक्ति मान्य करके उन्हें वापस नियुक्ति पत्र नहीं दिये जाते, वे सभी यहीं धरना प्रदर्शन और अनशन जारी रखेंगे।

ये भी पढ़ें - यूपी पंचायत चुनाव : ग्राम प्रधानों को आवंटित और आहरित धनराशि की जांच कराएगी योगी सरकार

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned