scriptAttack on police, four police personnel injured, Chhabra case, accused | पुलिस पर हमला, 4 जवान चोटिल, आरोपी को छुड़ाया | Patrika News

पुलिस पर हमला, 4 जवान चोटिल, आरोपी को छुड़ाया

locationबारांPublished: Jan 22, 2024 11:54:31 pm

Submitted by:

mukesh gour

महिलाओं के साथ अभद्रता व मारपीट का लगाया आरोप

पुलिस पर हमला, 4 जवान चोटिल, आरोपी को छुड़ाया
पुलिस पर हमला, 4 जवान चोटिल, आरोपी को छुड़ाया
छबड़ा इलाके में पाली थाना क्षेत्र के सेमली गांव में सोमवार को मारपीट के मामले में आरोपी को पकडऩे पहुंची पुलिस पर परिजनों ने पत्थरों से हमला कर दिया और आरोपी को पुलिस कब्जे से छुड़ाकर भगा दिया। इस दौरान चार पुलिस जवानों के चोट आई है। दिनदहाड़े हुई इस घटना की सूचना से आला अधिकारी भी सकते में आ गए। बाद में पुलिस अधीक्षक राजकुमार चौधरी के निर्देश पर थाना प्रभारी जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे तथा समझाइश कर मामला शांत किया। इस मामले में पुलिस टीम पर हमला करने एवं राजकार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में एक दर्जन महिला-पुरूषों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वहीं, पीडि़त पक्ष की ओर से पुलिस पर घर की महिलाओं के साथ अभद्रता करने एवं मनगढंत कहानी बनाकर झूठा फंसाने का आरोप लगाया हैै।
सूचना मिलते ही गांव से भाग जाता था मप्र
्र
पाली थाना प्रभारी प्रहलाद सिंह ने बताया कि बीस दिन पहले 3 जनवरी को सेमली निवासी गोविन्द मीणा ने ट्रक चालक अरविन्द की पत्नी के साथ घर में घुसकर मारपीट कर दी थी। इस पर मुकदमा दर्ज होने के बाद से पुलिस टीम उसकी तलाश में जुटी हुई थी, लेकिन आरोपी मप्र क्षेत्र में भाग जाता था। इसी दौरान सोमवार को गोविन्द के गांव में होने की सूचना पर दोपहर को हैड कांस्टेबल धर्मेन्द्र गालव, कांस्टेबल विनोद कुमार, उगमाराम व भरत सिंह की टीम सेमली गांव पहुंची। इस दौरान ट्यूबवैल से भागकर जाते समय पुलिस टीम ने पीछा कर गोविंद को धर दबोचा। इसका पता लगते ही परिजन मौके पर जमा हो गए तथा पुलिस से धक्का-मुक्की करते हुए गोविंद को छुड़ा लिया और सरसों के खेत में भगा दिया। इस दौरान पुलिस पर पथराव भी किया। हमले मेें हैड़ कांस्टेबल समेत चारों जवानों के चोटें भी आई हैं। इनका पाली के अस्पताल में उपचार कराया गया।
निष्पक्ष जांच की मांग

सेमली निवासी लक्ष्मीनारायण ने बताया कि गोविंद गांव में नहीं था, पुलिसकर्मी जब घर पहुंचे तो उन्होंने गोविंद को गिरफ्तार करवाने की बात कही। उसके बारे में कोई जानकारी होने से इंकार किया तो पुलिस ने घर की महिलाओं के साथ अभद्रता की और हमारे साथ मारपीट की। उन्होंने पुलिस पर मनगढंत कहानी बनाकर झूठी रिपोर्ट दर्ज करने तथा महिला कांस्टेबल साथ नहीं होने का आरोप लगाया। पूर्व महिला सरपंच राधाबाई ने पुलिस कर्मियों पर घर में घुसकर अभद्रता व मारपीट किए जाने का आरोप लगाते हुए मामले की निष्पक्ष जांच कर नियमानुसार कार्रवाई करने की मांग की है।
इनपर मुकदमा

इस मामले में गोविंद के पिता लक्ष्मीनारायण, राधेश्याम, हंसराज, दिनेश, विमल, भांजा कमलपुरा निवासी पवन मीणा, महिला राजबाई, राधाबाई, कांतिबाई, रूकमा बाई, नटी बाई व टिन्नी आदि के खिलाफ पुलिस पर हमला करने एवं राजकार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया।

ट्रेंडिंग वीडियो