script राजस्थान के इस जिले के लोग शक्कर के हैं दीवाने, प्रतिमाह 20 हजार क्विंटल चीनी गटक जाते हैं | Rajasthan Baran District Baran City Sugar 20 Thousand Quintals Jaggery | Patrika News

राजस्थान के इस जिले के लोग शक्कर के हैं दीवाने, प्रतिमाह 20 हजार क्विंटल चीनी गटक जाते हैं

locationबारांPublished: Jan 31, 2024 02:26:25 pm

Submitted by:

Omprakash Dhaka

Rajasthan News : राजस्थान के बारां जिले में शहर समेत जिलेभर के लोग प्रतिमाह करीब 20 हजार क्विंटल शक्कर गटक जाते हैं।

sugar_.jpg

Baran News : शहर समेत जिलेभर के लोग प्रतिमाह करीब 20 हजार क्विंटल शक्कर गटक जाते हैं। जिसमें करीब 6 हजार क्विंटल की खपत तो केवल बारां शहर में ही हो रही हैं।

डेढ़ से दो किलो प्रति व्यक्ति खपत
जिले में यदि प्रति व्यक्ति प्रति माह शक्कर की खपत देखें तो एक व्यक्ति प्रतिमाह डेढ़ से दो किलो है। शहर समेत जिलेभर में खपत होने वाली करीब 20 हजार क्विंटल शक्कर अधिकांश महाराष्ट्र से मंगवाई जाती है। शक्कर उत्पादन में यूपी भी अग्रणी है। लेकिन यहां से आने वाली शक्कर महंगी पड़ती है। इसके चलते व्यापारी वहां से कम ही मंगाते हैं। यहां पर कभी भावों में गिरावट होने तथा महाराष्ट्र, यूपी में अन्तर आने के दौरान कई व्यापारी यूपी से मंगवाते है। बारां समेत छबड़ा, छीपाबड़ौद, अटरु, मांगरोल, अन्ता, सीसवाली में महाराष्ट्र से ही शक्कर आती है। वहीं शाहाबाद क्षेत्र में अधिकांश शक्कर शिवपुरी से मंगवाई जाती है। नाहरगढ़ क्षेत्र में ज्यादातर व्यापारी गुना से शक्कर मंगवाते हैं।

सर्दी में बढ़ी मांग
सर्दी का मौसम होने के चलते इन दिनों गुड़ की मांग भी अच्छी बनी हुई है। शहर समेत जिले भर में प्रतिमाह 600 से 700 क्विंटल गुड़ की खपत होती है। कहावत है कि गुरु गुड़ रह गए, चेले शक्कर हो गए। लेकिन वर्तमान में गुड़ के भाव शक्कर से अधिक होने से गुड़ की महत्ता बनी हुई है। खुदरा बाजार में इन दिनों गुड़ शक्कर से 10 रुपए प्रति किलो अधिक महंगा बिक रहा है। जहां खुदरा बाजार में शक्कर के भाव 41 रुपए प्रति किलो हैं, वहीं गुड़ के भाव 51 रुपए प्रति किलो बने हुए है।


यह भी पढ़ें

कलेक्टर ने सख्त लहजे में डॉक्टरों को लगाई फटकार, पूछा सवाल मरीज क्यों हो रहे हैं रैफर

गुड़ खाने के फायदे
वैद्य राधेश्याम गर्ग ने शक्कर खाने के नुकसान बताते हुए गुड़ के प्रयोग पर जोर देते हुए बताया कि खाना खाने के बाद गुड़ खाने का सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि इससे पाचन क्रिया बेहतरीन हो जाती है, जो वजन घटाने में लाभकारी साबित होती है। किसी को पाचन तंत्र मजबूत करना है, तो उसको रोजाना गुड़ का सेवन करना चाहिए। ऐसा करने से गैस, बदहजमी और मतली आने जैसी शिकायतों से छुटकारा मिलता है। ऐसे में गुड़ का सेवन एनीमिया की समस्या को दूर रखता है। गुड़ में मौजूद आयरन शरीर में एनीमिया की कमी पूरी कर सकता है। रात को सोने से पहले गुड़ का सेवन दूध के साथ करने से नींद बेहतर होने के साथ अनिद्रा की समस्या दूर होती है। जिससे व्यक्ति अगले दिन सुबह उठकर खुद को तरोताजा महसूस करता है।

मध्यप्रदेश के सागर से आता है गुड़
किराना व्यापारी भूपेन्द्र शर्मा ने बताया कि शहर समेत जिले भर में करीब 60 से 70 टन गुड़ प्रतिमाह खपत होता है। अधिकतर गुड़ मध्यप्रदेश के सागर से मंगवाया जाता है। सर्दियों के दिनों में सम्पूर्ण खपत मध्यप्रदेश के गुड़ की ही होती है। वहीं गर्मियों के दिनों में उत्तरप्रदेश के मेरठ तथा महाराष्ट्र के पूना से गुड़ मंगवाया जाता है। इन दिनों में यहां पर भाव में काफी फर्क रहता है।

ट्रेंडिंग वीडियो