छबड़ा में हालात बेकाबू, दो समुदायों में संघर्ष

सुबह से शाम तक उत्पाती मचाते रहे तांडव, पुलिस को दौड़ाया, -दंगाइयों ने दिनभर मचाया उत्पात, कई दुकानें व वाहन फूंके

By: Ghanshyam

Published: 11 Apr 2021, 06:26 PM IST

छबड़़ा. जिले के छबड़ा उपखंड मुख्यालय पर रविवार दोपहर बाद तक हालात बेकाबू रहे, सुबह से शाम पांच बजे तक दोनों समुदायों के असामाजिक तत्व जमकर उत्पात मचाते रहे। उपद्रवियों ने एक-दूसरे समुदाय के लोगों को निशाना बनाते हुए दर्जनों दुकानें आग के हवाले कर दी। पुलिस ने हवाई फायर करने के बाद आसू गैस के गोले दागना शुरू किया तो उत्पातियों ने पुलिस को निशाना बनाना शुरू दिया। कस्बे में शनिवार रात को हुई वारदात के बाद पुलिस ने प्रभावी कार्रवाई की होती तो सुबह से कस्बे में ऐसे हालात नहीं बनते। कस्बे में दो समुदायों के बीच हो रहे संघर्ष की शुरुआत से पूर्व ही पहले से पुख्ता प्रबंध किए गए होते तो यह हालात नहीं बनते। दोपहर में यहां पहुंचे पुलिस अधीक्षक विनीत बंसल मीडिया के सवालों से बचते रहे। उन्होंने इतना ही कहा कि हालात को जल्द नियंत्रित कर लिया जाएगा। पुलिस के बड़े अधिकारी भी भारी लवाजमे के साथ पहुंच रहे हैं।

अलग-अलग जगह डटे उत्पाती
दोनों समुदायों के लोगों ने अलग-अलग स्थानों पर मोर्चाबंदी विरोधी पक्ष की लोगों की दुकानों को ढूंढ़कर आग के हवाले कर रहे हैं। कुछ उत्पाती तो एक मोबाइल की दुकान का शटर तोड़कर लगभग 20 से 25 लाख रुपए मूल्य के मोबाइल लूट ले गए। इलाके विशेष में एक समुदाय की कई दुकानों को जलाया गया है। इनमें कई बड़े शोरूम भी शामिल हैं।

पुलिस को कई बार दौड़ाया
एक पक्ष के लोग तो पुलिस के पीछे पड़ गए। तीन-चार समूह में इन युवकों की टोलियों ने पुलिस का पीछा कर हमला करना शुरू कर दिया। इससे कई पुलिस अधिकारियों व जवानों ने भागकर अपनी जान बचाई। काफी देर तक तो कस्बे में पुलिस के जवान नजर नहीं आए। लोगों ने इन हालात के लिए पुलिस को पूरी तरह जिम्मेदार बताया है।

कई वाहन व बल्गर फंूके
उपद्रवियों ने दुकानों व गुमटियों के बाद वाहनों में आग लगाना शुरू कर दिया। लगभग एक दर्जन से अधिक वाहनों में आग लगा दी गई। इसके बाद हालात और भी बिगड़ गए। कई वाहन चालकों ने तो उपद्रव की जानकारी मिलने के बाद अपने वाहनों को लेकर वापस लौटना शुरू कर दिया।

झालावाड़ से भी बुलाया पुलिस बल
छबड़ा में दोपहर बाद बारां जिले के सभी थाना प्रभारी जाप्ते के के साथ छबड़ा बुला लिए गए। यहां पुलिस लाइन के अलावा आरएसी के जवान भी छबड़ा पहुंच गए थे। इसके बाद झालावाड़ जिले से अतिरिक्त पुलिस बल मंगवाया गया, लेकिन हालात नियन्त्रण में नहीं होने से झालावाड़ जिले से भी पुलिस बल मंगवाया गया। शाम को कोटा से भी अतिरिक्त पुलिस जाप्ता मौके पर बुलाया गया।

इससे भड़की हिंसा की चिंगारी
छबड़ा कस्बे के धरनावदा चौराहे पर शनिवार देर शाम वाहन खड़ा करने को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद एक समुदाय के लोगों ने एक युवक को दुकान के सामने खड़ी बाइक हटाने को कहते हुए झगड़ा शुरू कर दिया। बाद में बाइक मालिक पर इन युवकों ने चाकूओं से हमला कर दिया। उस बचाने आए अन्य युवक पर भी किया। इसके बाद आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर लोग सड़क पर उतर आए। रात को पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। दो अन्य की गिरफ्तारी का भरोसा दिया था। रविवार सुबह दोनों समुदायों के लोग आमने-सामने हो गए। इसके बाद हिंसा की आग भड़क उठी।

Ghanshyam Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned