script चाचा को कागजों में फर्जी पिता बनाकर करोड़ों की जमीन का फर्जीबाड़ा, एडीजी ने कराई डॉक्टर दंपति पर धोखाधड़ी की एफआईआर | Fraud of land worth crores by calling grandfather's brother as fake fa | Patrika News

चाचा को कागजों में फर्जी पिता बनाकर करोड़ों की जमीन का फर्जीबाड़ा, एडीजी ने कराई डॉक्टर दंपति पर धोखाधड़ी की एफआईआर

locationबरेलीPublished: Feb 12, 2024 07:59:03 pm

Submitted by:

Avanish Pandey

बरेली । सिविल लाइंस की करोड़ों की प्रापर्टी के मालिकाना हक को लेकर डाक्टर फैमिली में जंग छिड़ी हुई है। अब एडीजी के आदेश पर डा. महिपाल पुरी और उनकी पत्नी हरमीत पुरी के खिलाफ एक और एफआईआर कोतवाली में दर्ज की गई है। उन पर अपने चाचा के भाई को पिता बताकर जमीन के कागजों में हेराफेरी और धोखाधड़ी करने का आरोप है।

 

dfsdfb.jpg
बेटे ने दी जानकारी, बोले फर्जी नाम रखकर कर रहे धोखाधड़ी

सिविल लाइन्स के रहने वाले राज करन पुरी ने बताया कि उनके चाचा के भाई का नाम डॉक्टर सन्मुख सिंह पुरी था। आठ अक्तूबर 2020 को उनका निधन हो गया। मृत्यु के बाद उनके भतीजे डॉक्टर महिपाल पुरी जो की स्वर्गीय सरदार दुख भजन सिंह पुरी के चरणजीत पुरी पुत्र हैं। उन्होंने खुद को स्वर्गीय सन्मुख पुरी का बेटा बताना और दिखाना शुरू कर दिया। महिपाल पुरी का आधारा कार्ड, पैन कार्ड, नैशनल मेडिकल कमीशन से उनका मेडिकल सर्टिफिकेट उपलब्ध है। इन सभी में महिपाल पुरी ने अपने पिता का नाम स्वर्गीय सरदार दुख भजन सिंह पुरी लिखा है। पारिवारिक सम्पत्तियो के लिए मुकदमेदारी शुरू हो गयी। कई मुकदमों में महिपाल पुरी आरोपी हैं जो कि सीजेएम कोर्ट बरेली यूपी और कोतवाली बरेली में विचाराधीन है। महिपाल पुरी ने दिवंगत डॉक्टर सन्मुख पुरी की एचयूएफ सम्पत्तियों और पारिवारिक एचयूएफ सम्पत्तियों का लाभ उठाने के लिए एक सुनियोजित साजिश के तहत खुद को डॉक्टर सन्मुख पुरी का बेटा बताकर गलत बयानी, जालशाजी और धोखाधड़ी करना शुरू कर दिया।
समाचार पत्रों में खुद को डॉक्टर सन्मुख सिंह का बेटा बताया

तीन जून का प्रकाशित विज्ञापन में डॉक्टर सन्मुख सिंह पुरी का पुत्र बताया। इतना ही नहीं उनकी पत्नी हरमीत पुरी ने खुद को डॉक्टर सन्मुख सिंह पुरी की बहू बताया था। फर्जी दस्तावेज न्यायालय में जमा करके गुमराह करते रहते हैं। महिपाल पुरी जानबूझ कर स्वेच्छा से कई संस्थानों में सन्मुख पुरी के गोद लिए हुए बेटे के रूप में धोखाधड़ी कर खुद को पेश कर रहा है। इंडियन बैंक जोनल कार्यालय, मुरादाबाद के अधिकारियों ने मेरी शिकायत के जबाव में महिपाल पुरी को सन्मुख पुरी का बेटा भी बताया। इस समय महिपाल पुरी जन्म दाता माता-पिता के पुत्र होने के बावजूद, परिवार की सभी सम्पतियों को हडपने के लिए खुद को डॉक्टर सन्मुख सिंह पुरी के गोद लिया हुए पुत्र के रूप में चित्रित करना शुरू कर दिया।

ट्रेंडिंग वीडियो