scriptप्रकाश और कमल हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटर सील, स्वास्थ्य विभाग ने जानें क्यों की कार्रवाई | Patrika News
बरेली

प्रकाश और कमल हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटर सील, स्वास्थ्य विभाग ने जानें क्यों की कार्रवाई

शहर के प्रकाश अस्पताल में मालिकाना हक को लेकर विवाद चल रहा था। बीते दिनों प्रकाश हॉस्पिटल की मालकिन डॉ. मालती अग्रवाल की शिकायत पर पंजीकरण न होने पर संचालन बंद करा दिया गया है। डॉ. मालती ने सीएमओ को प्रार्थना पत्र सौंपकर अनुरोध किया था कि विधिक रूप से अस्पताल कि वे मालिक हैं

बरेलीJun 02, 2024 / 10:02 am

Avanish Pandey

बरेली। शहर के प्रकाश अस्पताल में मालिकाना हक को लेकर विवाद चल रहा था। बीते दिनों प्रकाश हॉस्पिटल की मालकिन डॉ. मालती अग्रवाल की शिकायत पर पंजीकरण न होने पर संचालन बंद करा दिया गया है। डॉ. मालती ने सीएमओ को प्रार्थना पत्र सौंपकर अनुरोध किया था कि विधिक रूप से अस्पताल कि वे मालिक हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच पूरी कर ली और अस्पताल को बंद करा दिया है। साथ ही शाहदाना में कमाल अस्पताल एंड ट्रामा सेंटर की अवैध लैब को सील कर दिया गया है। अस्पताल का पंजीकरण दस्तावेज नहीं दिखाने पर मैनेजमेंट को नोटिस जारी किया गया है।
जिलाधिकारी कार्यालय, सीएमओ कार्यालय में की थी शिकायत
स्टेडियम रोड स्थित प्रकाश हास्पिटल की मालकिन डॉ. मालती अग्रवाल ने जिलाधिकारी कार्यालय, सीएमओ कार्यालय में शिकायत की थी। आरोप था कि उनका अस्पताल अन्य व्यक्तियों द्वारा बिना पंजीकरण के संचालित हो रहा है। सीएमओ डॉ. विश्राम सिंह के निर्देश पर कमेटी ने मामले की जांच की। शनिवार को एसीएमओ डॉ. राकेश, डिप्टी सीएमओ डॉ. लईक, वरिष्ठ लिपिक सुनील कुमार टीम के साथ प्रकाश अस्पताल पहुंचे और बिना पंजीकरण अस्पताल का संचालन रुकवा दिया। साथ ही अस्पताल को बंद कराया। अस्पताल बंद कराने के दौरान कोई मरीज भर्ती नहीं था। भविष्य में बिना पंजीकरण अस्पताल संचालन पर विधिक कार्रवाई का नोटिस चस्पा किया है।
बीच शहर चल रही थी अवैध लैब, ऑपरेशन थिएटर हुआ सील
तमाम चेतावनी और कार्रवाई के बावजूद अस्पतालों के अवैध संचालन पर अंकुश नहीं लग रहा है। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शाहदाना रोड स्थित कमाल अस्पताल का निरीक्षण किया। संचालन संबंधी अभिलेख न दिखाने पर लैब, ऑपरेशन थिएटर सील कर दिया गया।
स्टाफ अस्पताल का पंजीकरण तक नहीं दिखा सका
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने शाहदाना में कमाल अस्पताल एंड ट्रामा सेंटर पर छापा मारा। वहां फायर फाइटिंग सिस्टम देखा, इलेक्ट्रिकल ऑडिट मांगा। स्टाफ अस्पताल का पंजीकरण तक नहीं दिखा सका। इस पर अधिकारियों ने अस्पताल को नोटिस जारी कर दिया है। वहां संचालित लैब का पंजीकरण ही नहीं था। यह चौंकाने वाली बात है कि बीच शहर अवैध लैब चल रही थी और मरीजों की जांच कर रही थी, लेकिन अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं थी।

Hindi News/ Bareilly / प्रकाश और कमल हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटर सील, स्वास्थ्य विभाग ने जानें क्यों की कार्रवाई

ट्रेंडिंग वीडियो