script ट्रेलर की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत, नहीं उठाया शव | barmer accident | Patrika News

ट्रेलर की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत, नहीं उठाया शव

locationबाड़मेरPublished: Nov 18, 2023 10:20:13 pm

Submitted by:

Mahendra Trivedi

ग्रामीणों ने रोष जताते हुए शव उठाने से मना करते हुए शव ले कर मौके पर बैठ गए। इसके बाद उपखंड अधिकारी ने मौके पर पहुंच कर समझाइश करने के प्रयास किए, लेकिन वे आर्थिक सहायता देने की मांग पूरी होने तक शव नहीं उठाने पर अड़ गए। देर रात तक पुलिस की ओर से शव उठाने के लिए समझाइश करने के प्रयास किए जा रहे थे।

परिजनों व ग्रामीणों से कई बार समझाइश कर वार्ता की, सहमति नहीं बन पाई
परिजनों व ग्रामीणों से कई बार समझाइश कर वार्ता की, सहमति नहीं बन पाई
  • जसोल थाना क्षेत्र के सिणली गांव की घटना
  • मृतक के परिजनों ने आर्थिक सहायता की मांग
  • देर रात तक चलते रहे समझाइश के प्रयास

जसोल थाना क्षेत्र के सिणली जागीर गांव की सरहद में शनिवार सुबह ट्रेलर की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत हो गई। ट्रेलर वजावास और भीमरलाई गांव की तरफ जिप्सम भरने के लिए जा रहा था। सूचना मिलने पर मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण व मृतक के परिजन एकत्र हो गए। जसोल थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। ग्रामीणों ने रोष जताते हुए शव उठाने से मना करते हुए शव ले कर मौके पर बैठ गए। इसके बाद उपखंड अधिकारी ने मौके पर पहुंच कर समझाइश करने के प्रयास किए, लेकिन वे आर्थिक सहायता देने की मांग पूरी होने तक शव नहीं उठाने पर अड़ गए। देर रात तक पुलिस की ओर से शव उठाने के लिए समझाइश करने के प्रयास किए जा रहे थे।
आर्थिक सहायता व नौकरी की मांग
पुलिस के अनुसार जसोल थाना क्षेत्र के सिणली जागीर गांव में शनिवार सुबह करीब 8:30 बजे सिणली-वजावास सड़क पर एक ट्रेलर जिप्सम भरने के लिए सिणली से वजावास गांव की ओर जा रहा था। इसी दौरान ट्रेलर ने सामने से आ रही बाइक को चपेट में लिया। इससे बाइक सवार आकल सिणली जागीर निवासी गणेशाराम (25) पुत्र चैनाराम देवासी की मौके पर मौत हो गई। जानकारी पर जसोल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव अस्पताल में भिजवाने की बात कही, लेकिन मौके पर पहुंचे बड़ी संख्या में ग्रामीणों व मृतक के परिजन ने घटना को लेकर रोष जताते हुए शव उठाने से मना कर दिया। उन्होंने आर्थिक सहायता व परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की।
सहमति नहीं बन पाई
सूचना मिलने पर बालोतरा उपखंड अधिकारी राजेशकुमार भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने समझाइश करने के प्रयास किए, लेकिन वे नहीं माने। इसके बाद देर रात तक पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से परिजनों व ग्रामीणों से कई बार समझाइश कर वार्ता की गई, लेकिन सहमति नहीं बन पाई थी।

ट्रेंडिंग वीडियो