script कोरोना: अस्पताल में तैयारियों का मॉकड्रिल, 4 ऑक्सीजन प्लांट मिले बंद | mockdrill at hospital | Patrika News

कोरोना: अस्पताल में तैयारियों का मॉकड्रिल, 4 ऑक्सीजन प्लांट मिले बंद

locationबाड़मेरPublished: Dec 26, 2023 09:09:12 pm

Submitted by:

Mahendra Trivedi

बाड़मेर जिले में अभी तक कोविड पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है। भर्ती रोगियों के नमूने नियमित रूप से लिए जा रहे है। लेकिन पॉजिटिव नहीं मिलने से अभी राहत है। अस्पताल में तीस बेड का आइसाेलेशन वार्ड बना दिया गया है। केस मिलने पर वहां शिफ्ट किया जाएगा।

राजकीय जिला अस्पताल में भी तैयारियां परखी
राजकीय जिला अस्पताल में भी तैयारियां परखी
  • जिला अस्पताल में कुल 6 ऑक्सीजन प्लांट
  • दवाइयां सहित अन्य संसाधन की तैयारी रखें

कोविड के नए वेरिएंट के चलते चिकित्सा संस्थानों में तैयारियों को लेकर प्रदेश स्तर पर मंगलवार को किए गए मॉकड्रिल के तहत बाड़मेर राजकीय जिला अस्पताल में भी तैयारियां परखी गई। इस दौरान निरीक्षण में 4 ऑक्सीजन प्लांट बंद मिले। जिनको फिर से शुरू करने का कहा गया। साथ ही दो प्लांट के सुचारू संचालन के साथ ही सभी तरह की तैयारियां रखने के लिए एडीएम अंजुम ताहिर सम्मा ने निर्देश दिए।
राजकीय अस्पताल में निरीक्षण के दौरान इमरजेंसी, आइसीयू, सीसीयू सहित अन्य वार्ड में तैयारियां देखी गई। कोविड के खतरे को देखते हुए पर्याप्त स्टॉक में दवाइयां रखने और किसी भी स्थिति से निपटने को लेकर निर्देश दिए गए। इस दौरान बंद पड़े चारों ऑक्सीजन प्लांट को शुरू करने का कहा। वहीं अन्य व्यवस्थाओं को भी दुरुस्त करने की बात कही। जरूरत पर अतिरिक्त संसाधन के साथ वेंटिलेटर व बेड आदि की तैयारी के अलावा प्रत्येक वार्ड में मरीजों की जरूरत के अनुसार जांच की व्यवस्थाएं होनी चाहिए। इसके लिए सभी कार्मिकों को पाबंद किया जाए। निरीक्षण के दौरान अस्पताल अधीक्षक डॉ. बीएल मंसूरिया साथ रहे।
महामारी के दौरान बने थे प्लांट, फिर बंद
जिला अस्पताल में कोविड महामारी के दौरान प्लांट बनाए गए थे। इस दौरान एक के बाद एक प्लांट का निर्माण हुआ। जैसे-जैसे कोविड खत्म हुआ, प्लांट भी बंद होते गए। जरूरत नहीं होने पर देखरेख भी नहीं हुई। ऐसे में अब स्थिति यह हो गई कि केवल दो प्लांट ही चल रहे है। इसके अलावा चार खराब हो चुके है।
अभी तक कोई पॉजिटिव केस नहीं
बाड़मेर जिले में अभी तक कोविड पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है। भर्ती रोगियों के नमूने नियमित रूप से लिए जा रहे है। लेकिन पॉजिटिव नहीं मिलने से अभी राहत है। अस्पताल में तीस बेड का आइसाेलेशन वार्ड बना दिया गया है। केस मिलने पर वहां शिफ्ट किया जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो