scriptबस्ती DM से गैंगस्टर ने मांगी रंगदारी, खुद को बताया CM का सेक्रेटरी, STF ने दबोचा | Basti News Attempt to cheat DM Basti by posing as CM Yogi secretary STF caught | Patrika News
बस्ती

बस्ती DM से गैंगस्टर ने मांगी रंगदारी, खुद को बताया CM का सेक्रेटरी, STF ने दबोचा

Basti News: STF ने आरोपी के पास से तीन मोबाइल बरामद किए हैं, जिनसे वह अधिकारियों को फोन करता था। इसके साथ ही, उसने ट्रूकॉलर पर अपना नंबर सीएम योगी आदित्यनाथ के नाम से सेव कर रखा है।

बस्तीJun 24, 2024 / 09:57 am

Sanjana Singh

Basti News

Basti News

Basti News: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सचिव बताकर डीएम बस्ती से ठगी का प्रयास किया गया। एसटीएफ आगरा यूनिट ने आरोपी को बाह से दबोचा। आरोपित विवेक शर्मा उर्फ बंटू चौधरी बाह के गांव मढ़ेपुरा का निवासी है। उसके खिलाफ 16 मुकदमे पहले से दर्ज हैं। आरोपित ने एसटीएफ को बताया कि उसने ठगी के लिए सीडीओ बस्ती को भी सीयूजी नंबर पर फोन किया था। उसने ट्रूकॉलर पर अपना नंबर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम से सेव कर रखा है।

आरोपी ने डीएम बस्ती से फोन कर की रुपए की मांग

डीएम बस्ती को सीयूजी नंबर पर फोन करके रुपए की मांग की गई थी। फोन करने वाले ने खुद को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सचिव बताया था। इस संबंध में डीएम बस्ती कार्यालय के बाबू अमित श्रीवास्तव ने कोतवाली, बस्ती में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। बस्ती पुलिस को छानबीन में पता चला कि फोन बाह, आगरा से किया गया था। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ आगरा यूनिट से मदद मांगी गई। आरोपित की हरकत से अधिकारी परेशान थे।
आरोपित छवि धूमिल कर रहा था। आरोपित ने पूछताछ में बताया कि वह ऑनलाइन किसी भी अधिकारी का सीयूजी नंबर निकाल लेता है। जैसे ही अधिकारी को यह बताया जाए कि मुख्यमंत्री का सचिव बोल रहा हूं। सामने वाला कोई सवाल नहीं करता। सिर्फ जी सर जी सर कहता है।  इस बार उससे भूल हो गई। उसने सीधे डीएम बस्ती को फोन मिला दिया। 

आरोपी के पास से एक मोबाइल फोन बरामद

उनसे पहले सीडीओ बस्ती को भी फोन किया था। फोन पर उसने रुपए की मांग की थी। पूरे विश्वास के साथ बात की थी। एसटीएफ ने आरोपी के कब्जे से एक मोबाइल, एक पेपर जिस पर विवेक सचिव मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश लखनऊ लिखा है बरामद किया। आरोपित के पास से महज 500 रुपए मिले।
यह भी पढ़ें

दानपात्र से लेकर प्रसाद तक…राम मंदिर में ये बड़े बदलाव, ट्रस्ट ने खत्म की VIP व्यवस्था

पहले से दर्ज हैं 16 मुकदमे 

एसटीएफ को छानबीन में पता चला कि आरोपी के खिलाफ से पहले से 16 मुकदमे दर्ज हैं। ज्यादातर मुकदमे रंगदारी और धोखाधड़ी से संबंधित हैं। पहला मुकदमा वर्ष 2020 खैर, अलीगढ़ में लिखा गया था। आरोपित के खिलाफ बलरामपुर में छह, बांदा में एक, चार मथुरा, कानपुर नगर में एक और दो मुकदमे हरदोई में दर्ज मिले। एसटीएफ यह पता लगा रही है कि इन मुकदमों में क्या हुआ। ताकि आरोपी को जल्द से जल्द सजा भी कराई जा सके।

Hindi News/ Basti / बस्ती DM से गैंगस्टर ने मांगी रंगदारी, खुद को बताया CM का सेक्रेटरी, STF ने दबोचा

ट्रेंडिंग वीडियो