कॉन्टैक्ट लेंस का करते हैं इस्तेमाल ताे इन बाताें का रखें ध्यान

कॉन्टैक्ट लेंस की सफाई पर अगर ध्यान न दिया जाए तो कंजक्टिवाइटिस, कॉर्नियल एब्रेशन या कॉर्निया पर सफेद दाग हो सकते हैं

By: युवराज सिंह

Published: 09 Aug 2019, 09:27 AM IST

कॉन्टैक्ट लेंस ( contact lens ) की सफाई पर अगर ध्यान न दिया जाए तो कंजक्टिवाइटिस ( Conjunctivitis ) , कॉर्नियल एब्रेशन ( corneal abrasion ) या कॉर्निया पर सफेद दाग हो सकते हैं। समय रहते इन समस्याओं पर ध्यान न दिया जाए तो आंखों की रोशनी तक जा सकती है। अगर लैंस को सही तरीके से नहीं लगाया जाता है तो ये कॉर्निया की फिजियोलॉजी को बदल सकते हैं। इसलिए लैंस का इस्तेमाल नेत्र रोग विशेषज्ञ की देखरेख में ही करें।

कितनी देर तक लगाएं कॉन्टेक्ट लेंस ( how long can you wear contact lenses )
इसका उपयोग अपनी जरूरत के आधार पर किया जा सकता है। दिन में सुरक्षित तरीके से 10 घंटे तक लगा सकते हैं। अगर आप सफाई पर ध्यान नहीं देंगे तो इससे आंखों में संक्रमण का खतरा रहता है।

कॉन्टेक्ट लेंस के दुष्प्रभाव ( Side effects of contact lenses )
कांटेक्‍ट लेंस आँखों के लिए हानिकारक भी हो सकते हैं, क्‍योंकि लगातार इस्तेमाल से इनकी आगे व पीछे की सतह पर बैक्‍टीरिया व अन्‍य संक्रमण जनक घटक इकट्ठे होते जाते हैं।अगर साफ सफार्इ का ध्यान रखा जाए ताे संक्रमण हाेने का खतरा बढ़ जाता है।

सावधानी ( Contact Lens Precautions )
कॉन्टेक्ट लेंसों को छूने से पहले अपने हाथों को साबुन से धोएं और साफ तौलिए से पोछ लें। इसके बाद मोटे टिशू पेपर से दोबारा से हाथ को साफ करें। लेंस को निकालने और लगाने से पहले लेंस को सल्यूशन से साफ करें और इसे सल्यूशन में ही रखें। इसके साथ ही नेत्र विशेषज्ञ द्वारा बतायें गये कांटेक्ट लेंस सलूशन का ही उपयोग करें और बिना परामर्श के सलूशन को न बदलें। हर बार लेंस साफ करने के लिए फ्रेश सलूशन का उपयोग करें और इस्‍तेमाल हो चुके सलूशन को दुबारा प्रयोग में न लाएं।

Show More
युवराज सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned