विधायक को गोली मारने की धमकी देने वाला रायपुर से गिरफ्तार, नाम बदलकर गुरुद्वारे में रह रहा था आरोपी

दुकान खाली कराने से दुखी था आरोपी, विधायक को दे डाली जान से मारने की धमकी। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी को रायपुर के एक गुरुद्वारे से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, यहां आरोपी नाम बदलकर रह रहा था।

By: Faiz

Updated: 18 Mar 2021, 08:08 PM IST

बैतूल। विधायक निलय डागा को जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी को पुलिस ने रायपुर से गिरफ्तार लिया है। आरोपी की दुकान खाली कराई गई थी, जिसके बाद से ही लोग उसका मजाक उड़ाने लगे थे, जिससे परेशान होकर गुस्साएं आरोपी ने विधायक डागा को जान से मारने की धमकी दी थी। बताया जा रहा है कि, आरोपी अपना नाम बदलकर गुरुद्वारे में रह रहा था। पुलिस द्वारा विधायक को धमकी दिये जाने वाला मोबाइल और सिम भी जब्त कर लिया है। फिलहाल, पुलिस का कहना है कि, आरोपी की मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं है।

 

पढ़ें ये खास खबर- MIG-21 क्रैश हादसा : नम आंखों के साथ शहीद ग्रुप कैप्टन आशीष गुप्ता को सैन्य सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई


पुलिस ने किया मामले का खुलासा

डीएसपी पल्लवी गौर और कोतवाली थाना प्रभारी संतोष पंद्रे ने पुलिस कंट्रोल रुम में गुरुवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि, विधायक निलय डागा को गोली मारकर हत्या करने की धमकी देने वाले बैतूल निवासी 70 वर्षीय आरोपी ऐंसीलाल झाम पिता भवानीदास झाम पंजाबी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी ने अपना नाम बदलकर दयासिंह सरदार रखा हुआ था। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को बताया कि, करीब 24 साल पहले उसके पिता ने उसे घर से निकाल दिया था। पारिवारिक कारणों से पत्नी वीणा झाम ने भी तलाक ले लिया था।


इसलिये दी थी विधायक को जान से मारने की धमकी

पूर्व में गंज बैतूल स्थित दिलबहार चौक में उनके पिताजी की कपड़े की दुकान थी और अच्छा व्यापार था। दुकान मालिक स्व.विनोद कुमार डागा ने खाली करा ली। सदमें में पिताजी भवानीदास झाम की मृत्यु भी हो गई थी। लोग भी मेरी गरीबी का अक्सर मजाक उड़ाते थे। इसलिए मैंने एक पत्रिका में ब्लड डोनेट करने वाले लोगों की सूची में बैतूल के लिखित गोठी, विधायक योगेश पण्डाग्रे सहित लोगों का नाम मोबाइल नंबर देखा और नोट कर लिया। आरोपी ने बताया कि, सफर के दौरान उज्जैन जिले के नागदा जाकर लिखित गोठी को फोन लगाकर विधायक डागा को जान से मारने की धमकी दी।


आरोपी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं- पुलिस

पुलिस का कहना कि, आरोपी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं लग रही है। जिस नंबर से उसने विधायक को धमकी दी थी, उस मोबाइल और सिम को भी जब्त कर लिया गया है। बता दें कि, आरोपी ने 6 मार्च को विधायक को जान से मारने की धमकी दी थी।

 

पढ़ें ये खास खबर- पुलिस अधिकारी सीख रहे हैं टकराव प्रबंधन, IIM में ले रहे 3 दिन का प्रशिक्षण


ऐसे गिरफ्त में आया आरोपी

थाना प्रभारी संतोष पंद्रे के मुताबिक, आरोपी ने विधायक को धमकी देने के बाद अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया था। हालांकि, पुलिस द्वारा उसके काल रिकॉर्ड के आधार पर इटारसी, भोपाल, इंदौर, उज्जैन, नागदा, नागपुर, अकोला, नांदेड, मनमाड़ आदि स्थानों पर तलाश की गई। पता साजी के दौरान नागपुर बुद्धनगर गुरूद्वारा में जानकारी मिली कि, उक्त मोबाइल नंबर दयासिंह सरदार का है, जो कभी-कभी सेवा करने गुरूद्वारा आता है, लेकिन कहां जाता है, इस बारे में जानकारी नहीं है। उक्त सूचना एवं आरोपी की काल रिकार्ड के आधार पर ज्ञात हुआ कि, आरोपी की अधिकतम लोकेशन प्रदेश के अलग अलग गुरूद्वारों में ही रहा है। थाना प्रभारी कोतवाली बैतूल द्वारा टीम बनाकर छत्तीसगढ़ के रायपुर में तलाश शुरु की गई। आरोपी रायपुर मे गंज थाना इलाके में स्थित एक गुरूद्वारे में रह रहा था, जहां से उसे गिरफ्तार किया गया।

 

किसान आंदोलन में बारात लेकर पहुंची दुल्हन - video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned