script बेदर्द जमाना...एम्बुलेंस में तड़पती रही प्रसूता, चिल्लाता रहा चालक | Commons troubled by traffic jam, people in charge don't care | Patrika News

बेदर्द जमाना...एम्बुलेंस में तड़पती रही प्रसूता, चिल्लाता रहा चालक

locationभरतपुरPublished: Jan 15, 2024 11:38:53 pm

Submitted by:

Gyan Prakash Sharma

जाम में आधा घन्टे तक फंसी रही प्रसूता की एम्बुलेंस, बयाना में जाम से परेशान आम, जिम्मेदारो का नहीं ध्यान

बेदर्द जमाना...एम्बुलेंस में तड़पती रही प्रसूता, चिल्लाता रहा चालक
बेदर्द जमाना...एम्बुलेंस में तड़पती रही प्रसूता, चिल्लाता रहा चालक
बयाना. कस्बे में इन दिनों जगह जगह जाम से लोग परेशान नजर आ रहा हैं। मगर जिम्मेदारों का इस ओर ध्यान नहीं होने से लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड रहा है। बदहाल ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर कई बार व्यापारियों की ओर से भी सीएलजी मीटिंग सहित प्रशासन से कई बार गुहार लगाई है। मगर इस जाम से निजात नहीं मिलने से लोगो को खासी मुसीबतों का सामना करना पड रहा है। सोमवार को जाम में फंसे लोगो का ऐसा ही नजारा कस्बे में विभिन्न स्थानों पर देखने को मिला है।
बयाना की पुरानी सब्जी मण्डी चौराहा
कस्बे के पुरानी सब्जी मण्डी चौराहे पर सोमवार को सांय करीब 4 बजे चौतरफा वाहनों के आवागमन के चलते जाम लग गया। इस जाम में एक प्रसूता को अस्पताल लेकर जा रही एक एम्बुलेंस फंस गई। इधर प्रसूता को प्रसव पीड़ा हो रही थी तो दूसरी ओर एम्बुलेंस का चालक भी लोगों को चिल्ला-चिल्ला कर बोल रहा था कि भाई मुझे निकलने दो मगर वेदर्द जमाने को अपनी अपनी जल्दबाजी के चक्कर में किसी की भी कोई परवाह नहीं है। सबसे मजे की बात तो यह कि इस जाम की समस्या को लेकर कई बार प्रशासन और पुलिस से व्यापारियों ने शिकायत कर पुरानी सब्जी मण्डी चौराहे पर ट्रैफिक पुलिस की तैनाती की मांग की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होने से लोगों को परेशानी एवं मुसीबतों का सामना करना पड रहा है। जाम में फंसी एम्बुलेंस को जाम से निकलने में आधा घन्टा लग गया। इस दौरान यह प्रसूता प्रसव पीड़ा से एम्बुलेंस में आधा घन्टे तक तड़पती रही। मौके पर मौजूद महमदपुरा निवासी मोहन सहारिया ने बताया कि दिन भर इस चौराहे पर जाम के हालत रहते है। जिससे वाहनों का इस मार्ग से निकलना मुश्किल हो जाता है। क्योंकि लोग आडे-तिरछे वाहनों को खडा कर घन्टों तक गायब हो जाते हैं। जिससे जाम लग जाता है।
गांधी चौक चौराहा

कस्बे के बयाना-हिण्डौन हाईवे स्थित गांधी चौक चौराहे पर भी आए दिन जाम लग जाने से लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। लोग अपने वाहनों को गांधी चौक चौराहे तक खड़ा कर बाजार में सामान लेने के लिए चले जाते हैं। जो घन्टों तक वापिस नहीं लौटते हैं। जिसके चलते चौतरफा वाहनों के आवागमन से जाम लग जाता है। जिससे लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है।
कस्बे के गणेशी मार्केट
कस्बे के गणेशी मार्केट में बड़े-बड़े ट्रक और अन्य वाहनों के घन्टे तक खडे रहने के चलते जाम के हालत हो हो जाते हैं। जिससे यहां से आने वाले वाले लोगों को जाम में फंसकर घंटों तक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
कस्बे के जवाहर चौक एवं आजाद मण्डी

कस्बे के प्रमुख बाजार जवाहर चौक एवं आजाद मण्डी में आए दिन जाम के हालत के चलते लोगों को मुसीबतों का सामना करना पडता है। यहां भी दुपहिया वाहन चालक अपने वाहनों को खड़ा कर घन्टों तक गायब हो जाते हैं।
इनका कहना,,,,,
आए दिन जाम के हालत से लोगों को परेशानी एवं मुसीबतों का सामना करना पड रहा है। प्रमुख चौराहों पर ट्रैफिक पुलिस की व्यवस्था कराई जाए।
- दीनूपाराशर, महामंत्री व्यापार संघ बयाना।
ट्रैफिक व्यवस्था के लिए पुलिस की भी जिम्मेदारी है। पूर्व में कोई बडे वाहनों के प्रवेश की समय सारणी पालिका ने शहर मेें घुसने के लिए निर्धारित होगी तो उसकी जानकारी कर लोगो को राहत दिलाने का कार्य करेंगे।
-अमित शर्मा, तहसीलदार एवं ईओ नगर पालिका बयाना।

ट्रेंडिंग वीडियो