मृत्युभोज में दूषित भोजन से 60 से अधिक बीमार, आधा दर्जन अस्पताल में भर्ती

मृत्युभोज पर लगी रोक के बाद भी भुसावर थाना क्षेत्र के गांव ग्राम पंचायत सैंदली के बन्ध का नगला में मृत्यु भोज का आयोजन किया गया। दूषित भोजन करने से करीब 60 से अधिक लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार हो गए।

By: rohit sharma

Published: 30 Sep 2020, 11:45 PM IST

भरतपुर. मृत्युभोज पर लगी रोक के बाद भी भुसावर थाना क्षेत्र के गांव ग्राम पंचायत सैंदली के बन्ध का नगला में मृत्यु भोज का आयोजन किया गया। दूषित भोजन करने से करीब 60 से अधिक लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार हो गए। कार्यक्रम की प्रशासन से अनुमति नहीं ली गई और ना ही सोशल डिस्टेंस की पालना की गई। उल्टी-दस्त के शिकार लोगों को सरकारी अस्पताल समेत निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। भुसावर के अस्पताल में आधा दर्जन ही बीमार पहुंचे। जबकि कुछ लोगों को प्राथमिक उपचार के बाद छ्ट्टी दे दी।
ग्राम पंचायत सैंदली के गांव बन्ध का नगला सैंदली निवासी भजनलाल सैनी के पिता फैलीराम के निधन हो जाने पर मंगलवार को मृत्यु भोज का कार्यक्रम था। इसमें में बड़ी संख्या में मृतक के परिजन, रिश्तेदार एवं गांव के लोग शामिल हुए। मृत्यु भोज में बनी दावत खाने से कुछ देर बाद 60 से अधिक लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार हो गए। बीमार हुए लोगों को कस्वा भुसावर के आधा दर्जन निजी चिकित्सक तथा राजकीय अस्पताल में उपचार को भर्ती कराया। जिन्हे उपचार के बाद घर भेज दिया। सामुदायिक अस्पताल भुसावर के प्रभारी डॉ.दीपक कुमार शर्मा ने बताया कि गांव बन्ध का नगला में दूषित दावत खाने से अनेक लोग बीमार हो गए। उपचार के बाद सभी की छुट्टी कर दी। एसडीएम रामकिशोर मीणा ने बताया कि गांव बन्ध का नगला में मृत्यु भोज का आयोजन की सूचना मिली है। जिसमें दूषित दावत खाने से अनेक लोग बीमार हुए बताए। प्रकरण की जांच कराई जाएगी। यदि मृत्यु भोज का आयोजन निकला तो ग्राम विकास अधिकारी व हलका पटवारी आदि के खिलाफ विभागीय कार्रवाई होगी।

rohit sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned