जाट आरक्षण आंदोलन: अब महापंचायत की जगह होंगी नुक्क्कड़ सभाएं

-भरतपुर व धौलपुर जिले में गांव-गांव जाकर आंदोलन के लिए करेंगे एकजुट

By: Meghshyam Parashar

Updated: 24 Nov 2020, 03:57 PM IST

भरतपुर. भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक नेम सिंह फौजदार ने सोमवार को पत्रकार वार्ता के दौरान ओबीसी वर्ग में केन्द्र में भरतपुर-धौलपुर जिले के जाटों को आरक्षण की मांग के मामले में कहा कि जाट समाज आंदोलन का बिगुल बजाएगा। इन दिनों कोरोना के बढ़ रहे हैं। इसके चलते धारा 144 लागू कर दी है। जाट समाज कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार के साथ है। ऐसे में समाज के पंच-पटेलों ने सर्वसम्मति से जाट महापंचायतों को फिलहाल स्थगित कर दिया है। अब महापंचायतों की जगह नुक्कड़ सभाएं होंगी। फौजदार ने कहा कि पथैना में 18 नवंबर को हुई महापंचायत में सरकार को 15 दिन का समय दिया था, लेकिन अब कोरोना की वजह से जाट समाज सरकार को 20 दिन का समय दे रहा है। यदि सरकार ने जाटों कि मांग पूरी नहीं की तो 20 दिनों के अंदर जाट समाज आंदोलन का बिगुल बजा देगा।
फौजदार ने कहा कि आंदोलन की घोषणा की जा चुकी है। आंदोलन बड़े स्तर पर किया जाएगा। जाट समाज धौलपुर-करौली सांसद डॉ. मनोज राजोरिया का शुक्रिया अदा करता है, जिन्होंने जाटों को आरक्षण के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। प्रदेश के सभी सांसद इस पक्ष में आएं। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों पूर्व कैबीनेट मंत्री व विधायक विश्वेन्द्र सिंह ने बयान जारी किया था कि वह मुख्यमंत्री से मिले हैं और सकारात्मक वार्ता हुई है। राज्य सरकार जल्द ही सिफारिश चि_ी भेजेगी। आंदोलन तर्कसंगत नहीं है। इस पर फौजदार ने कहा कि विश्वेन्द्र सिंह जाट समाज के मुखिया हैं और रहेंगे, लेकिन सरकार ने हमेशा विश्वेन्द्र सिंह को धोखा दिया है। यदि सिंह की सरकार से सकारात्मक वार्ता हुई है तो विश्वेन्द्र सिंह सरकार की लिखित चि_ी जाट समाज के सामने दें यदि नहीं दी है तो सिंह खुद अपनी ओर से आश्वासन चि_ी समाज को दे दें। समाज उस पर ही विश्वास कर लेगा। इस दौरान विजय सिंह फौजदार, सुनील सरपंच, बृजेश सरपंच, ईश्वर सिंह बल्लभगढ़, सुजान सिंह, गोपाल सिंह, नीटू सरपंच खेड़ा, सोहन सिंह सरपंच एवं राजू सरपंच कटारा आदि मौजूद रहे।

व्यापार महासंघ के प्रतिनिधिमंडल ने की कलक्टर से मुलाकात

भरतपुर . भरतपुर जिला व्यापार महासंघ का एक प्रतिनिधि मण्डल जिलाध्यक्ष संजीव गुप्ता के नेतृत्व में जिला कलक्टर से मिला।
प्रतिनिधि मण्डल ने कोरोना के कारण शादी समारोह जैसे (बारात, निकासी, गौरी पूजन, चाक व डीजे) आदि पर प्रशासन द्वारा रोक के कारण फोटोग्राफी, हलवाई, बैण्ड, लाइट एवं घोडी वाले आदि के काम को लेकर प्रश्न चिह्न लग गया। इसको लेकर कलक्टर से चर्चा कर इन सभी की परेशानियों से अवगत कराया। ऐसे कार्यों से जुड़े लोग पिछले 8 माह से इन्हीं सावों के इन्तजार में थे। जिला कलक्टर ने समस्या सुनकर सभी को गाइन लाइनों की पालना करते हुए सशर्त छूट देने का आश्वासन दिया। साथ ही शहर के बाजारों में कोरोना गाइड लाइनों में बरती जा रही लापरवाही को लेकर शहर के सभी व्यापारिक संगठनों की मीटिंग जिला कलक्टर ने मंगलवार को बुलाई है। इसमें सख्ती से कोरोना गाइड लाइनों व सोशल डिस्टेन्सिंग की पालना कैसे कराई जाए, इस पर चर्चा की जाएगी। प्रतिनिधिमण्डल में जिला महामंत्री नरेन्द्र गोयल, जिला प्रवक्ता विपुल शर्मा, शहर सह अध्यक्ष अशोक शर्मा व गोविन्द गर्ग शामिल रहे।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned