पटवारियों की बस्ताबंदी, कास्तकारों के काम में मंदी

-जिले के कुल 579 में से 335 पटवारी है नियुक्त, बाकी पटवार मंडलों के बस्ते तहसील कार्यालय में करा चुके हैं जमा, 15 जनवरी से नहीं हो रहे अतिरिक्त पटवार मंडलों के काम

By: Meghshyam Parashar

Updated: 17 Feb 2021, 01:25 PM IST

भरतपुर. 15 जनवरी से प्रदेश भर के पटवारियों ने अतिरिक्त पटवार मंडलों का काम बंद कर रखा है। उन पटवार मंडलों के राजस्व दस्तावेजों के बस्ते तहसीलों में जमा करा दिए हैं। ऐसे में किसान जमा बंदी, गिरदावरी, नामांतरण, म्यूटेशन जैसे काम नहीं करा पा रहे हैं। अतिरिक्त पटवार घरों पर ताले लटके हुए हैं। एक तरह से अघोषित हड़ताल चल रही है। प्रतियोगी परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को भी इसका नुकसान उठाना पड़ रहा है। वे विभिन्न प्रमाण पत्र नहीं बनवा पा रहे हैं। स्थानीय अधिकारी भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं। पटवारी अपनी मांगों को लेकर अतिरिक्त काम छोड़ चुके हैं और इसका समाधान सरकार स्तर से ही संभव है। ऐसे में अधिकारी भी मजबूर है। जिले में 579 पटवार मंडल है। 244 पटवार मंडलों के बस्ते तहसील कार्यालयों में जमा करा रखे हैं। इन दिनों राज्य सरकार की ओर से आयोजित विभिन्न भर्तियों के आवेदन भरे जा रहे हैं। इसमें ईडब्लूएस, जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास आदि की आवश्यकता रहती है। इससे आवेदन भरने में युवाओं को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

ये हैं पटवारियों की मांग

पटवारी आंदोलन के रूप में हर दिन कोई न कोई कार्यक्रम विरोध स्वरूप कर रहे हैं। पटवारियों की मांग हैं कि उन्हें बहुत कम वेतन मिलता है। आवागमन के लिए कोई अतिरिक्त खर्च तक नहीं दिया जाता है। इसलिए पटवारी वेतन विसंगतियों को दूर करने की मांग को लेकर अतिरिक्त काम छोड़ चुके हैं। वे पे ग्रेड 3600 रुपए चाहते हैं। एसीपी योजना तहत 9 ,18, 27 के स्थान पर 7, 14, 21, 28, 32 पर पदोन्नति का लाभ मांग रहे हैं। साथ ही नो वर्क नो पे का आदेश निरस्त करते हुए संभाग के पटवारियों का वेतन भुगतान करने की मांग है।

इन कामों में आ रही परेशानी

गिरदावरी, जमाबंदी, ईडल्ब्यूएस प्रमाण पत्र,जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र,नक्शा, धारा 91 के तहत प्रकरण दर्ज करना, नामांतरण, सरकारी विकास कार्य के लिए जमाबंदी व नक्शा जारी करने सहित अन्य कई कार्य।


-पटवारी शांतिपूर्वक आंदोलन कर रहे हैं। अतिरिक्त पटवार मंडलों के कार्य बहिष्कार कर रखा है। राज्य सरकार को हमारी मांगों पर ध्यान देना चाहिए। पटवारी सरकार की मुख्य कड़ी होता है।

बृजमोहन शर्मा
जिलाध्यक्ष पटवार संघ

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned