scriptThere is a ruckus for water, women boil at the water supply office | पानी के लिए हा-हाकार, महिलाओं ने जलदाय कार्यालय पर फोड़े मटके | Patrika News

पानी के लिए हा-हाकार, महिलाओं ने जलदाय कार्यालय पर फोड़े मटके

डीग उपखंड के गांव नारायना कटता के वाशिंदों ने भीषण गर्मी के दौरान गांव में पीने के पानी समस्या को लेकर गुरुवार को जलदाय विभाग के कार्यालय पर मटका फोड़ प्रदर्शन किया।

भरतपुर

Published: April 28, 2022 08:50:17 pm

भरतपुर. डीग उपखंड के गांव नारायना कटता के वाशिंदों ने भीषण गर्मी के दौरान गांव में पीने के पानी समस्या को लेकर गुरुवार को जलदाय विभाग के कार्यालय पर मटका फोड़ प्रदर्शन किया। आक्रोशित ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी हेमंत कुमार को चंबल के पानी की आपूर्ति सुचारु कराने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों का आरोप था कि चंबल परियोजना के अधिकारियों की लापरवाही के चलते पहाड़ताल पर बनी चंबल की टंकी पर नियुक्त कार्मिक की मनमानी के चलते डेढ़ किलोमीटर उनके गांव नरायना कटता में पानी की आपूर्ति में लापरवाही की जा रही है। जिसके चलते ग्रामीणों को सात सौ रुपए में टैंकरों से पानी डलवाना पड़ रहा है। जबकि उसी टंकी से ढाई किलोमीटर दूर गांव रामबाग के लिए प्रेशर से पानी दिया जा रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि वह उक्त मामले में जलदाय विभाग व चम्बल के अधिकारियों से कई बार शिकायत करने के बावजूद समस्या का हल नहीं हो सका है। जलदाय विभाग के सहायक अभियंता ईशु नारंग का कहना है कि चंबल परियोजना के सहायक अभियंता कमल सिंह मीणा द्वारा पहाड़ताल स्थित चंबल की टंकी पर नियुक्त आरोपी ऑपरेटर को हटाकर उसके स्थान पर दूसरे कार्मिक को लगाकर गांव नारायना कटता की पेय जलापूर्ति सुचारु करने के निर्देश दिए हंै।
पानी के लिए हा-हाकार, महिलाओं ने जलदाय कार्यालय पर फोड़े मटके
पानी के लिए हा-हाकार, महिलाओं ने जलदाय कार्यालय पर फोड़े मटके

काटे आधा दर्जन अवैध जल कनेक्शन

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की ओर से गुरुवार को अवैध जल कनेक्शनों के खिलाफ शुरू किए अभियान के अंतर्गत कस्बे की राजीव कॉलोनी में आधा दर्जन अवैध जल कनेक्शन काटे गए। सहायक अभियंता ईशु नारंग ने बताया है कि कस्बे तथा ग्रामीण क्षेत्र में बड़ी संख्या में लोगों ने चंबल की पाइप लाइन में अवैध कनेक्शन कर रखे हैं। जिसके चलते जरुरतमंद लोगों को समुचित पानी नहीं मिल पा रहा है। जिसको देखते हुए विभाग ने अवैध जल कनेक्शन करने वाले लोगों के खिलाफ अभियान शुरू किया गया है। इसके अंतर्गत गुरुवार को कस्बे की राजीव कॉलोनी में आधा दर्जन अवैध जल कनेक्शन काटे गए। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को कस्बे की सेऊ वाली गली स्थित ठाकुर मोहल्ला एवं अन्य मोहल्लों में अवैध जल कनेक्शन कर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने चेतावनी दी है कि जिन लोगो ने अवैध जल कनेक्शन कर रखे हैं वह अपने इन जल कलेक्शनों स्वत: ही हटा ले अन्यथा उनके खिलाफ विभाग द्वारा पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारकांग्रेस के चिंतन शिविर को प्रशांत किशोर ने बताया फेल, कहा- कुछ हासिल नहीं होगाउड़ान भरते ही बीच हवा में बंद हो गया Air India प्लेन का इंजन, पायलट को करानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगBJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंबिहार में बारिश व वज्रपात से 37 लोगों की मौत, जानिए बिहार में क्यों गिरती है इतनी आकाशीय बिजली?Pegasus Spyware Case: सुप्रीम कोर्ट ने जांच समिति का कार्यकाल 4 हफ्ते बढ़ाया, अब जुलाई में होगी सुनवाईबताओ सरकार : होटल वाले कैसे कर लेते हैं बाघ दिखाने का प्रबंध, High Court का सवाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.