दो अस्पतालों को सीज की कार्रवाई प्रशासन की तानाशाह

आज निजी चिकित्सा सेवाएं बंद रहेगी
यूनाइटेड प्राईवेट क्लिनिक एण्ड हॉस्पिटल एसोसिएशन ने जताया गुस्सा

By: Suresh Jain

Published: 18 Jul 2021, 07:25 PM IST

भीलवाड़ा।
यूनाइटेड प्राइवेट क्लिनिक एण्ड हॉस्पिटल एसोसिएशन ने शनिवार को शहर के दो अस्पतालों को सीज करने की कार्रवाई को जिला प्रशासन की तानाशाही और मरीजों के साथ कुठाराघात बताया। इसके विरोध में रविवार को शहर के सभी निजी चिकित्सालय, लेब और जांच सेंटर बंद रखने की घोषणा की।
एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष डॉ. हरीश मारू ने कहा कि प्रशासन ने बिना किसी नोटिस के कार्रवाई की, जो गलत है। प्रशासन ने गैर कानूनी काम किया है। इसके खिलाफ कानूनी रास्ता अपनाया जाएगा। जिला सचिव डॉ. कुलदीप सिंह नाथावत ने कहा कि नियमानुसार निर्धारित सभी 16 तरह के लाईसेंस प्राप्त कर अस्पतालों का संचालन किया जा रहा है। इसके बावजूद जिला प्रशासन की टीम ने चिकित्सा संस्थानों का सीज कर दिया गया, जो बिल्कुल गैर कानूनी है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में जब आवश्यकता थी, तब जिला प्रशासन ने कोविड नियंत्रण के दौरान इन्हीं चिकित्सा संस्थानों की पीठ थपठापाई थी। यहीं चिकित्सा संस्थान अब कैसें गैर कानूनी हो गए। यह समझ से बाहर है। प्रशासन अब केवल बाल की खाल निकाल रहा है। इस दौरान आईएमए उपाध्यक्ष डॉ. नरेश पोरवाल, डॉ. हरीश मारू, डॉ. परमजीत सिंह गंभीर, डॉ. सुभाष टेलर आदि मौजूद थे।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned