scriptCongress workers got angry on leaders in Bhilwara | Bhilwara Congress भीलवाड़ा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का नेताओं पर फूटा गुस्सा | Patrika News

Bhilwara Congress भीलवाड़ा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का नेताओं पर फूटा गुस्सा

Congress workers got angry on leaders in Bhilwara भीलवाड़ा जिला कांग्रेस के चिंतन एवं मनन शिविर में सोमवार को प्रदेश संगठन के प्रमुख नेताओं के नहीं आने से अग्रिम संगठनों के पदाधिकारियों एवं वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के गुस्से का गुब्बार कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा के सामने फूट पड़ा।

भीलवाड़ा

Published: June 14, 2022 11:57:11 am

Bhilwara Congress भीलवाड़ा जिला कांग्रेस के चिंतन एवं मनन शिविर में सोमवार को प्रदेश संगठन के प्रमुख नेताओं के नहीं आने से अग्रिम संगठनों के पदाधिकारियों एवं वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के गुस्से का गुब्बार कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा के सामने फूट पड़ा। उन्होंने जिले के वरिष्ठ नेताओं को खरी खोटी सुनाई और जिले में संगठन की पतली होती हालत के लिए उन्हें जिम्मेदार बताया।
भीलवाड़ा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का नेताओं पर फूटा गुस्सा
भीलवाड़ा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का नेताओं पर फूटा गुस्सा
कांग्र्रेस जिलाध्यक्ष शर्मा भी पुलिस व प्रशासन पर बरसे। उन्होंने सीधा आरोप लगाया कि अफसर भाजपा नेताओं के दबाव में काम कर रहे है, स्थानीय निकायों व विभागों में कार्यकर्ताओं की अनदेखी हो रही है। करीब चार घंटे के शिविर के दौरान अधिकांश वक्ताओं ने कांग्रेस नेताओं के साथ ही पुलिस व प्रशासन को सवालों में घेरे रखा। दूसरे सत्र में शिविर में कार्यकर्ताओं की संख्या आधी भी नहीं रही। Congress workers got angry on leaders in Bhilwara
जिला कांग्रेस कमेटी ने उदयपुर में आयोजित चिंतन एवं मनन शिविर में तय किए गए दस संकल्पों के प्रारूप के अनुसार कार्य करने के लिए नगर परिषद के टाउन हाल में सोमवार को एक दिवसीय शिविर आयोजित किया। शिविर में कमेटी ने प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं, संभागीय संगठन व जिला प्रभारी तथा जिला प्रभारी मंत्री को बुलाया था, लेकिन शिविर में प्रदेश से एक भी प्रमुख पदाधिकारी व बड़ा नेता नहीं आ सका, वरन जिले से राजस्व मंत्री रामलाल जाट, बीज आयोग अध्यक्ष धीरज गुर्जर व सहाड़ा विधायक गायत्री देवी त्रिवेदी व पीसीसी सदस्य में शामिल नहीं हो सके। ऐसे में जिले भरे से जुटे कांग्रेस के चुनिंदा जनप्रतिनिधियों, ब्लाक अध्यक्षों व वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने अपने गुस्से का गुबार कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा के सामने ही निकाला।
जिले में कांग्रेस की हालत पतली
उन्होंने प्रदेश में कांग्रेस सरकार होने के बावजूद जिले में पार्टी की हालत चिंता जनक होने पर चिंता जताई। कईयों ने कहा कि संगठन में जिम्मेदार नेताओं के खेमे बंटे होने एवं उनके अकेले ही खेमों में चलने से पार्टी को काफी नुकसान हो रहा है। वरिष्ठ नेता निचले स्तर के कार्यकर्ताओं के लिए समय ही नहीं निकाल पा रहे है। कार्यकर्ताओं के सरकारी विभागों में काम नहीं हो रहे है। अधिकारी भी उनकी सुनवाई नहीं कर रहे है। कई नेता तो संगठन में सिर्फ पद लेकर बैठे है और निष्क्रिय है। जबकि कुछ ब्लॉक में अध्यक्ष अपने आपको ही संगठन का सर्वसर्वा मान रहे हैं। उनकी पीड़ा थी कि संगठन के प्रमुख पदाधिकारी व जिम्मेदार नेता भी संगठनों की बैठकों के लिए समय नहीं निकाल पा रहे है।
हार के लिए वरिष्ठ जिम्मेदार
नगर परिषद के वार्ड संख्या 42 के उपचुनाव में कांग्रेस की हार के लिए भी कार्यकर्ताओं ने वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि उनकी अनदेखी से वार्ड की सीट कांग्रेस की होने के बावजूद हाथ से निकल गई। कुछेक ने एसी,एसटी एवं अल्पसंख्यक कार्यकर्ताओं की अनदेखी करने एवं बीआरओ की बैठक मेंं बेवजह माहौल बनाते हुए संगठन की छवि प्रभावित करने का आरोप लगाया।
प्रशासन में भाजपा की घुसपैठ
जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार जन कल्याण कारी कार्य कर लोगों के दिल जीत रही है, लेकिन जिले में पुलिस व प्रशासन भाजपा नेताओं के दबाव से ही उभर नहीं पा रहे है। उनका आरोप था कि कुछेक भाजपा के लोगा प्रशासन में घुसपैठ किए हुए है और उनकी ही अभी चल रही है। कोटड़ी चारभुजा से आई तुलसी बारात को रोकने व फिर अनुमति देने की प्रशासनिक कार्यवाही को उन्होंने अनुचित बताया। इसी प्रकार एक मौत के मामले में दिए गए मुआवजे देने को भी गलत ठहराया। Bhilwara Congress

प्रस्तावों पर बनी सहमति
शिविर में कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष दुर्गेश शर्मा ने उदयपुर में पारित प्रस्तावों के अनुरूप कार्य करने का प्रस्ताव रखा, जिसे एक मत से मंजूर कर लिया गया। इसी प्रकार चेतन डिडवानिया ने कहा कि कार्यकर्ताओं के काम सरकार विभागों हो एवं उनके तबादला संबंधित कार्य भी तय समय में हो, इसके लिए पांच सदस्यीय कमेटी ब्लॉक स्तर पर बनानी चाहिए। इस पर जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा ने प्रस्ताव की क्रियांवति के प्रति आश्वस्त किया।
शिविर में यह भी बोले
शिविर में पूर्व जिलाध्यक्ष कैलाश व्यास, अनिल डांगी, पूर्व विधायक प्रदीप कुमार सिंह, नानूराम कुमावत, प्रधान शंकर लाल कुमावत, कृष्णा सिंह राठौड़, नगर पालिका अध्यक्ष सुमित कालिया, सुरेश श्रीमाली, भंवर गर्ग,जाकिर हुसैन, ईश्वर खोईवाल, मधु जाजू, सुमित्रा कांंिटया, मंजू पोखरना, इन्द्रा सोनी, अनिता सुराणा, सुशीला बैरवा, रियाज पठान, ज्ञानमल खटीक, जीपी खटीक, योगेश सोनी, रामकुवांर मीणा, कैदार बैरवा, हेमेंद्र शर्मा, शंकर लाल जाट, हेमराज आचार्य, शिव कुमार त्रिपाठी, श्याम पुरोहित, राजेन्द्र जैन, रफ ीक शेख, नगजीराम पायलट, शंकर शर्मा आदि ने विचार रखे। शिविर का संचालन जिला महासचिव महेश सोनी ने किया।

मोदी का पुतला फूंका
शिविर में सभी कांग्रेसजनों ने एक मत से केन्द्र सरकार की रीति व नीति, ईडी की कार्रवाई एवं दिल्ली में सीएम की गिरफ्तारी के विरोध में निंदा प्रस्ताव पारित किया। शिविर की समाप्ति के बाद टाउन हॉल से पैदल मार्च करते हुए कांग्रेस जन सूचना केंद्र चौराहे पर पहुंचे। यहां जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं केन्द्र सरकार के खिलाफ नारे बाजी कर विरोध प्रदर्शन किया और प्रधानमंत्री का पुतला फूंका।
संगठन में सभी को बात रखने का हक
संगठन में सभी को बोलने एवं अपनी पीड़ा बताने का हक है। शिविर में जो कार्यकर्ताओं के सुझाव व पीड़ा सामने आई है, उसे प्रदेश नेतृत्व को अवगत करा दिया जाएगा। ईडी के खिलाफ दिल्ली व जयपुर में सोमवार को विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम होने से प्रदेश व जिले के वरिष्ठ नेता, विधायक व मंत्री जिला शिविर में शामिल नहीं हो सके।
रामपाल शर्मा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

NSA अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक को लेकर केंद्र का बड़ा एक्शन, हटाए गए 3 कमांडो'रूसी तेल खरीदकर हमारा खून खरीद रहा है भारत', यूक्रेन के विदेश मंत्री Dmytro KulebaNagpur Crime: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर मजदूर ने किया सुसाइड, मचा हड़कंपरोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियालालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाPunjab Bomb Scare: अमृतसर में SI की गाड़ी में बम लगाने वाले दो आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, कनाडा भागने की फिराक में थेगुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानशाबाश भावना: यूरोप की सबसे बड़ी चोटी भी नहीं डिगा पाई मध्यप्रदेश की बेटी का हौसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.