जानकार भी अनजान बना विभाग, लाखों लीटर पानी बर्बाद

शहर के सांगानेरी गेट के निकट चम्बल परियोजना की पाइप लाइन टूटने से बुधवार को लाखों लीटर पानी बह गया। दिलचस्प पहलू यह है कि जलदाय विभाग को क्षेत्रवासियों ने जानकारी दी थी। इसके बाद भी बारह घंटे तक टूटी लाइन की सुध नहीं ली गई। इससे सड़क तलैया बन गई।

By: Akash Mathur

Updated: 21 Jul 2021, 10:04 PM IST

भीलवाड़ा. शहर के सांगानेरी गेट के निकट चम्बल परियोजना की पाइप लाइन टूटने से बुधवार को लाखों लीटर पानी बह गया। दिलचस्प पहलू यह है कि जलदाय विभाग को क्षेत्रवासियों ने जानकारी दी थी। इसके बाद भी बारह घंटे तक टूटी लाइन की सुध नहीं ली गई। इससे सड़क तलैया बन गई। राहगीरों को परेशानी हुई। सुबह लाइन टूटने पर लोगों ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को फोन किया। अधिकारियों ने फोन भी रिसीव किया और समस्या भी सुनी। शाम तक लाइन की मरम्मत के लिए कोई नहीं पहुंचा। इस दौरान कई बार फोन करके लाइन को बंद करने के लिए लोगों ने कहा। पानी बहने से सड़क पर कीचड़ फैल गया। गौरतलब है कि कई कॉलोनियों में विभाग पांतरे पानी दे रहा है। कई कॉलोनियों में लोग बूंद-बूंद के लिए तरस रहे हैं। एेसे पानी की बर्बादी पर विभाग की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बर्बाद पानी को देखकर लोग विभाग को कोसने के अलावा कुछ नहीं कर पाए।

Akash Mathur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned