राज्य सरकार ने आचार्य महाश्रमण को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया

नौ जुलाई को राजस्थान में प्रवेश करेंगे

By: Suresh Jain

Published: 29 Jun 2021, 07:57 PM IST

भीलवाड़ा।
तेरापंथ धर्म संघ के आचार्य महाश्रमण 9 जुलाई को चित्तौडगढ़़ के निम्बाहेड़ा से राजस्थान में मंगलप्रवेश करेंगे। वे भीलवाड़ा में चातुर्मास करेंगे। राजस्थान सरकार ने आचार्य महाश्रमण को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है। आचार्य महाश्रमण का अगले एक-दो दिन में मंदसौर में मंगल प्रवेश होगा। आचार्य 50 हजार किलोमीटर की अहिंसा यात्रा लेकर नेपाल भूटान जैसे देश व भारत के कई राज्यों की पैदल यात्रा करते हुए अभी मध्यप्रदेश में है। राजकीय अतिथि दर्जा प्राप्त आचार्य महाश्रमण के राजस्थान की सीमा में आते ही प्रदेश की पुलिस उनकी अगवानी और सुरक्षा करेगी।
लगने लगे बैनर पोस्टर
आचार्य महाश्रमण चातुर्मास प्रवास व्यवस्था समिति के अध्यक्ष प्रकाश सुतरिया ने कहा कि तेरापंथ धर्म संघ के 11वें आचार्य महाश्रमण का १८ जुलाई को भीलवाड़ा के तेरापंथ नगर के आदित्य विहार में मंगल प्रवेश होगा। उनके मंगल प्रवेश और चातुर्मास को देखते हुए शहर में अभी से ही उनकी अगवानी की तैयारी शुरू कर दी गई है। सभी समाज अपने-अपने स्तर पर बैनर पोस्टर के माध्यम से स्वागत करने में जुटे है। शहर में कई स्थानों पर बड़े-बड़े होर्डिग लगाए गए है।
आचार्य महाश्रमण चातुर्मास प्रवास व्यवस्था समिति के अध्यक्ष प्रकाश सुतरिया ने कहा कि तेरापंथ धर्म संघ के 11वे अधिशास्ता जिनका जीवन मानव मात्र के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन गया। जिनका विलक्षण व्यक्तित्व और ओजस्वी वाणी का प्रवाह निराशा मुक्ति का साधन बन गया। जिनका शांत आभामंडल दु:ख और तमस के अंधियारो में उजाला बन गया। ऐसे आचार्य महाश्रमण का १८ जुलाई को भीलवाड़ा के तेरापंथ नगर के आदित्य विहार में मंगल प्रवेश होगा।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned