scriptआवासन मंडल से आवास लेकर किश्त जमा नहीं कर रहे आवंटीपांच सौ से अधिक आवंटियों पर 24 करोड़ का बकाया | Patrika News
भिवाड़ी

आवासन मंडल से आवास लेकर किश्त जमा नहीं कर रहे आवंटीपांच सौ से अधिक आवंटियों पर 24 करोड़ का बकाया

मंडल की छूट योजना का कर रहे इंतजार

भिवाड़ीJun 07, 2024 / 06:22 pm

Dharmendra dixit

भिवाड़ी. आवासन मंडल के फ्लेट खरीदकर आवंटी किश्त जमा कराना भूल गए हैं। सैकड़ों की संख्या में ऐसे आंवटी हैं जिन्होंने कब्जा की राशि जमा कराने के बाद दोबारा किश्त ही जमा नहीं कराई है। 2019 में शुरू हुई आवंटन एवं नीलामी प्रक्रिया के बाद करीब 500 ऐसे फ्लेट लेने वाले उपभोक्ता हैं, जिन पर मंडल का करीब 24 करोड़ रुपए बकाया चल रहा है। नोटिस जारी होने के बाद भी इनके द्वारा मासिक किश्त जमा नहीं कराई जा रही है।

राजस्थान आवासन मंडल ने अरावली विहार सेक्टर आठ, नौ और दस में ईडब्ल्यूएस, एलआईजी और एमआईजी फ्लेट का निर्माण कराया था। 2019 में आवंटन प्रक्रिया शुरू की। 2020 में कोराना संक्रमण के बाद फ्लेट को आधी कीमत पर नीलाम किया गया। इन आवासीय योजना में करीब पांच सौ ऐसे आवंटी हैं जिन्होंने कब्जे के समय सिर्फ एक बार ही डेढ़ से दो लाख रुपए की राशि जमा कराई। मंडल को प्रति महीने दी जाने वाली किश्त को जमा कराना ये भूल गए। तभी से कब्जा लेकर निवास कर रहे हैं। मंडल के बार-बार नोटिस देने के बाद भी बकाया राशि जमा नहीं करा रहे। ऐसे बकाएदारों पर मंडल का करीब 24 करोड़ रुपए बकाया चल रहा है।

50 आवंटियों ने जमा कराया एक करोड़

2019-2022 के बाद आवंटन लेने वाले करीब 50 आवंटियों ने जनवरी से अब करीब एक करोड़ रुपए बकाया का जमा कराया है। इन आवंटियों में से प्रत्येक पर 2.15 लाख के करीब बकाया चल रहा था। बकाया जमा कराने के बाद इन आवंटियों द्वारा किश्त भी नियमित जमा कराई जाने लगी है।

छूट का इंतजार

जानकारों के अनुसार मंडल द्वारा पूर्व में भी कई बार आवंटियों को छूट दी गई है। जिन आवंटियों ने समय पर किश्त नहीं भरी है, अब उस पर ब्याज भी लग चुकी है। आवंटियों को इंतजार है कि मंडल जब छूट देगा तब किश्त जमा करा दी जाएगी। क्योंकि ईडब्ल्यूएस पर ब्याज की पूरी छूट भी दी जा सकती है।

सभी को नोटिस दिए जा रहे हैं। नोटिस मिलने के बाद ही आवंटियों ने बकाया जमा कराया है जो राशि जमा नहीं करेंगे उन पर कार्रवाई होगी।
पीएल मीणा, उप आवासन आयुक्त

Hindi News/ Bhiwadi / आवासन मंडल से आवास लेकर किश्त जमा नहीं कर रहे आवंटीपांच सौ से अधिक आवंटियों पर 24 करोड़ का बकाया

ट्रेंडिंग वीडियो