scriptनिवेशकों ने बनाई रीको के भूखंड पर तेजी, 7200 की आरक्षित दर 4.23 लाख तक पहुंचा दी बोली | Patrika News
भिवाड़ी

निवेशकों ने बनाई रीको के भूखंड पर तेजी, 7200 की आरक्षित दर 4.23 लाख तक पहुंचा दी बोली

भिवाड़ी. रीको के औद्योगिक, व्यावसायिक भूखंड के लिए मंगलवार देर रात तक बोलियां लगीं। इन बोलियों को देखकर रीको अधिकारी भी अचंभित हैं क्योंकि 502 मीटर के एक भूखंड के लिए बोली 250790 रुपए प्रति वर्गमीटर तक लगाई गई है। जबकि इस भूखंड की आरक्षित दर (बोली शुरू) करने के लिए 25 हजार रुपए प्रति […]

भिवाड़ीJul 11, 2024 / 07:23 pm

Dharmendra dixit

भिवाड़ी. रीको के औद्योगिक, व्यावसायिक भूखंड के लिए मंगलवार देर रात तक बोलियां लगीं। इन बोलियों को देखकर रीको अधिकारी भी अचंभित हैं क्योंकि 502 मीटर के एक भूखंड के लिए बोली 250790 रुपए प्रति वर्गमीटर तक लगाई गई है। जबकि इस भूखंड की आरक्षित दर (बोली शुरू) करने के लिए 25 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर रखी गई थी। वहीं महिला उद्यमियों के लिए आरक्षित 502 मीटर के भूखंड के लिए 422960 रुपए प्रति वर्गमीटर तक बोली लगी है। उक्त भूखंड की आरक्षित दर 7200 रुपए प्रति वर्गमीटर रखी गई थी। इस तरह क्रम अनुसार एक भूखंड की कीमत 12.59 करोड़ और दूसरे की 21.23 करोड़ रुपए बैठती है। इस तरह एक भूखंड की बोली आरक्षित दर के दस गुना और दूसरे की 59 गुना तक लगी है। इतनी ऊंची बोली लगाने के पीछे संयोग, गलती या जान बूझकर की गई साजिश में से फिलहाल कुछ भी कहा जा सकता है। पूर्व में भी एक दो बार पांच सौ मीटर के भूखंड पर बिचौलियों की साजिश उजागर हो चुकी है। रीको क्षेत्र में पहले से खरीदे भूखंड के भाव को बढ़ाने के लिए बिचौलिए इस तरह की हरकत कर चुके हैं।

इस तरह आए बोलीदाता

रीको द्वितीय ने 20 जून से चार जुलाई तक 17 भूखंड के लिए बोली निकाली। जिसमें दो भूखंड पर एक भी बोलीदाता नहीं आया, दो पर सिर्फ एक बोलीदाता आया। तीन पर दो बोलीदाता आए। 502 मीटर के भूखंड पर चार बोलीदाता आए और भाव ढाई लाख से ऊपर पहुंच गया। एससी-एसटी के लिए आरक्षित श्रेणी के 502 मीटर के भूखंड के लिए 23 आवेदन आए, जिसका भाव 62410 रुपए पहुंच गया, इस पर अंतिम बोलीदाता को 50 फीसदी की छूट मिलती है। दिव्यांग श्रेणी के लिए आरक्षित 502 मीटर के भूखंड के लिए 19 बोलीदाता आए जिसका भाव 49900 रुपए प्रति वर्गमीटर पहुंच गया। इसके लिए अंतिम बोलीदाता को 25 फीसदी की छूट मिलती है। महिला उद्यमियों के लिए आरक्षित 502 मीटर के भूखंड के लिए 67 बोलीदाता मैदान में आ गए जिसकी वजह से भाव 422960 रुपए प्रति वर्गमीटर पहुंच गया। इस बोली पर 25 फीसदी की छूट मिलती है।

साजिश गलती एक महीने में होगा स्पष्ट

बोलीदाताओं ने जानबूझकर इतनी महंगे भाव पहुंचाए या गलती से ऐसा हुआ है, इसका खुलासा एक महीने में हो जाएगा। बोली लगने के बाद कमेटी भाव स्वीकृत करेगी। जिन भूखंड पर सिर्फ एक ही निवेशक है इसके लिए मुख्यालय से स्वीकृति जारी होगी। बोली लगाने के लिए पांच प्रतिशत राशि जमा होती है। एक महीने में भूखंड की कीमत का 26 फीसदी पैसा जमा होता है। इसके बाद ही रीको आवंटन पत्र जारी करेगी। बोलीदाता के पैसा जमा करने नहीं करने पर सभी प्रकार से स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

छोटे भूखंड का निशाना

उद्योग क्षेत्र में सक्रिय दलाल लॉबी छोटे भूखंड को निशाना बनाकर खेल खेलते हैं। गत वर्ष अक्टूबर में ई वेस्ट (इलेक्ट्रोनिक कचरा) के दो भूखंड के लिए 90 बोलीदाता आ गए। बोली रात को दो बजे तक चली। बोली के लिए 1.80 लाख रुपए जमा हुए। दलालों ने उक्त भूखंड के भाव 35 हजार प्रति वर्गमीटर तक पहुंचा दिए। बाद में अंतिम बोलीदाता ने पैसे जमा नहीं कराए। रीको ने 1.80 लाख रुपए जब्त कर लिए।

माहौल बनाकर बनाई तेजी

बिचौलिए इस तरह छोटे भूखंड पर एक दो लाख रुपए लगाकर रीको क्षेत्र में ऊंचे भाव होने का माहौल बनाते हैं। उनके पूर्व में खरीदे गए भूखंड को ऊंचे भाव में बेच देते हैं। गत वर्ष अक्टूबर में भी यही देखने को मिला। रीको के भूखंड को लेने कोई नहीं आया जबकि उद्योग क्षेत्र में पूर्व में खरीदे गए भूखंड की खरीद-बिक्री में तेजी देखी गई।

रीको के नियमानुसार निवेशक बोली लगाते हैं। अगर वह बाद में पैसा जमा नहीं करेंगे तो पांच प्रतिशत राशि को जब्त करने का प्रावधान है।
आदित्य शर्मा, यूनिट हेड, रीको

Hindi News/ Bhiwadi / निवेशकों ने बनाई रीको के भूखंड पर तेजी, 7200 की आरक्षित दर 4.23 लाख तक पहुंचा दी बोली

ट्रेंडिंग वीडियो