EC के बैन के बाद CM योगी की राह पर साध्वी, अब मंदिर-मंदिर घुम रहीं प्रज्ञा ठाकुर

EC के बैन के बाद CM योगी की राह पर साध्वी, अब मंदिर-मंदिर घुम रहीं प्रज्ञा ठाकुर

Pawan Tiwari | Publish: May, 02 2019 10:54:06 AM (IST) | Updated: May, 02 2019 11:53:49 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

EC के बैन के बाद CM योगी की राह पर साध्वी, अब मंदिर-मंदिर घुम रहीं प्रज्ञा ठाकुर

भोपाल। विवादित बयान को लेकर चुनाव आयोग के 72 घंटे के बैन के बाद भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की राह पर चल पड़ीं हैं। साध्वी आज मंदिर-मंदिर घुम रहीं हैं।


भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर सुबह-सुबह भवानी चौक स्थित सोमवार दुर्गा मंदिर में दर्शन करने पहुंचीं। यहां पर उन्होंने भजन मंडली के साथ माता के भजन में भी सम्मिलित हुईं। इसके बाद साध्वी के और कई मंदिर में जाने का कार्यक्रम है।


बता दें कि चुनाव आयोग ने साध्वी प्रज्ञा पर 72 घंटे का बैन लगाया है. मुंबई आतंकी हमले में शहीद हेमंत करकरे पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाली साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने बाबरी मस्जिद को लेकर विवादित बयान दिया था. साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराने पर उन्हें अफसोस नहीं, बल्कि गर्व होता है. इसी पर चुनाव आयोग ने उन पर कार्रवाई की है.


गौरतलब है कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भी चुनाव आयोग ने तीन दिन का बैन लगाया था। तब योगी आदित्यनाथ भी मंदिर-मंदिर घुम रहे थे। इस दौरान वे अयोध्या भी गए थे। अब साध्वी भी उन्हीं की राह पर चल रही हैं और मंदिर-मंदिर घुम कर पूजा-अर्चना कर रही हैं।

 

साध्वी के विवादित बोल...

शहीद करकरे पर विवादित बयान- बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने हाल ही में अपने एक बयान में मुंबई के ताज होटल में आतंकवादी हमले में शहीद हुए एटीएस चीफ हेमंत करकरे और बाबरी मस्जिद के ढांचे के बारे में विवादित बयान दिए थे। हेमंत करकरे की शहादत को अपने द्वारा दिए गए श्राप का नतीजा बताते हुए कहा था, 'उन दिनों मैं मुंबई जेल में थी। जांच आयोग ने सुनवाई के दौरान एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे को बुलाया और कहा कि जब प्रज्ञा के खिलाफ कोई सबूत नहीं है तो उन्हें छोड़ क्यों नहीं देते। तब हेमंत ने कई तरह के सवाल पूछे, जिस पर मैंने जवाब दिया कि, इसे भगवान जाने। इस पर करकरे ने कहा कि 'तो, क्या मुझे भगवान के पास जाना होगा।' प्रज्ञा ने आगे कहा था कि, 'उस समय मैंने करकरे से कहा था कि तेरा सर्वनाश होगा, उसी दिन से उस पर सूतक लग गया था और सवा माह के भीतर ही आतंकवादियों ने उसे मार दिया था। हिदू मान्यता है कि परिवार में किसी का जन्म या मृत्यु होने पर सवा माह का सूतक लगता है। जिस दिन करकरे ने सवाल किए, उसी दिन से उस पर सूतक लग गया था, जिसका अंत आतंकवादियों द्वारा मारे जाने के साथ हुआ।'

बाबरी मस्जिद पर विवादित बयान- इसके अलावा, साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने चुनाव प्रचार के दौरान एक टीवी चैनल में दिये साक्षात्कार में ये भी कहा था कि, 'हम मंदिर का निर्माण करेंगे। आखिरकार, हम ढांचा (बाबरी मस्जिद) को ध्वस्त करने के लिए भी तो गए थे।' साथ ही, प्रज्ञा ने ये भी कहा कि, वो न सिर्फ बाबरी मस्जिद के ऊपर चढ़ी थीं, बल्कि उसे गिराने में भी मदद की थी।' साध्वी के इन बयानों के बाद देश में राजनीतिक भूचाल आ गया था। लोगों द्वारा भी आलोचनात्मक प्रतिक्रियाएं सामने आईं। कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों ने प्रज्ञा के इन बयानों पर तीखा हमला किया था। मामले को लेकर चुनाव आयोग ने भी साध्वी को नोटिस दिया था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned