बारिश के मौसम में दाद, खाज, खुजली को दूर करने के ​ये हैं 5 आयुर्वेदिक नूस्खे

आयुर्वेद ( Ayurvedic Remedies ) की जानकारी...

भोपाल। मध्य प्रदेश सहित देश भर में इन दिनों मानसून का समय चल रहा है। ऐसे में दाद, खाज, खुजली यानि फंगल इंफेक्शन की संभावना बनी रहती है। आयुर्वेदिक ( Ayurvedic remedies ) में हमें ऐसे कई नुस्खों के बारे में बताया जाता है,जिनकी मदद से हम इन फंगल इंफेक्शन्स को कम या प्रभावहीन कर सकते हैं।

आयुर्वेद के डॉक्टर राजकुमार के अनुसार दरअसल आयुर्वेद ( Ayurvedic Remedies ) की जानकारी के अभाव में हम कई उपायों का लाभ नहीं उठा पाते जिसके चलते हमें इस तरह की समस्याओं से दो चार तो होना ही पड़ता है, साथ ही इनके लिए कई बार काफी पैसा तक खर्च करना पड़ जाता है।

डॉ. राजकुमार के अनुसार वैसे तो फंगल इंफेक्शन किसी भी मौसम में हो सकता है लेकिन गर्म और उमस भरे मौसम में फंगल इंफेक्शन होने का सबसे ज्यादा खतरा रहता है। वहीं मानसून के दौरान बहुत से लोगों ये संक्रमण हो जाता है।

इस मौसम के दौरान खास कर दाद, या फिर पैर और नाखून में संक्रमण जैसे फंगल इंफेक्शन होने का खतरा रहता है, जिसपर हमें ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होती है। उनके अनुसार दरअसल इस प्रकार के संक्रमण गंदगी या दूषित पानी के संपर्क में आने के कारण हो सकते हैं।

वहीं अगर आप सिंथेटिक कपड़े पहनते हैं, तो भी आपकी त्वचा सांस नहीं ले पाती, जो कि फंगल संक्रमण के कारणों में से एक है। इसके अलावा अगर आप मधुमेह या मोटापे के शिकार हैं तो आपको फंगल संक्रमण का जोखिम बढ़ जाता है।

डॉ. राजकुमार कहते हैं कि किसी प्रकार के भी संक्रमण होने पर डॉक्टर को दिखाना आवश्यक है, लेकिन आप अपने घर और आसपास कुछ आसानी से उपलब्ध सामग्री का उपयोग कर इस संक्रमण से बच सकते हैं। आप अपने घर में बैठे-बैठे भी फंगल संक्रमण से छुटकारा पा सकते हैं, लेकिन कैसे आइये जानते हैं...

1. ठंडा सेक ( Cold compress )
बर्फ के टुकड़े से भरे एक प्लास्टिक बैग को एक साफ-सुथरे कपड़े में लपटे लें और आपका ठंडा सेक तैयार है। जिस जगह दाद, खाज और खुजली हो वहां हर 15 मिनट के अंतराल पर ठंडा सेक लगाएं। इससे खुजली और दर्द में कमी आएगी।

2. सेब का सिरका ( apple cider vinegar )
इसका उपचार बहुत पहले से त्वचा संबंधी एलर्जी की समस्या में किया जाता रहा है। इसमें बस थोड़ा सा पानी मिलाइए और इस घोल में रुई को डुबोइए और प्रभावित हिस्से पर धीरे-धीरे लगाइए। सेब के सिरके में एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो राहत प्रदान करते हैं।

3. नीम की पत्तियां ( Neem leaves )
मुठ्ठीभर नीम की पत्तियों को करीब 10 मिनट तक उबालइए। इन नीम की पत्तियों के चिकित्सा गुण पानी में चले जाएंगे। उसके बाद इस पानी से नहा लीजिए और कुछ पानी को बाद में प्रयोग के लिए रख दीजिए। नीम की पत्तियों में रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो त्वचा में मौजूद अशुद्धियों और विषाक्त पदार्थों को साफ कर देते हैं।

4. एलोवेरा ( Aloe vera )
एलोवेरा के तने से जेल को निकाल लें और इसे त्वचा पर लगाएं। इसके बजाए आप बाजार में उपलब्ध एलोवेरा क्रीम और जेल का भी उपयोग कर सकते हैं। इसे दिन में 2 से 3 बार लगाएं। इसमें मालोज़, लैक्टोज़ और स्टेरोल्स जैसे शुगर होते हैं, जो फंगल संक्रमण से लड़ने में बहुत प्रभावी होते हैं।

5. तुलसी पत्ते का करें इस्तेमाल ( tulsi )
तुलसी के पत्तों को अच्छी तरह धोकर पानी में उबाल लें और फिर नहाने के पानी में इसे मिला लें। शरीर में होने वाली खुजली पर भी आप तुलसी की पत्तियों को पीस कर त्वचा पर लगा सकते हैं। जबकि गर्मी में त्वचा पर होने वाली खुजली से बचाव के लिए नींबू के रस से त्वचा की मसाज करनी चाहिए। नींबू के रस में ऐंटीबैक्टीरियल गुण होने की वजह से त्वचा के बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं। नींबू का रस त्वचा का रंग भी निखारता है।

वर्षों पुराने दाद, खाज और खुजली के लिए...

1. खीरे का रस
अगर आपके त्वचा में खुजली की समस्या उत्पन्न हो रही है तो, आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है बस खीरे के रस को अपनी त्वचा पर लगा कर मसाज करें। इस उपाय को करने से 1 से 2 मिनट के भीतर खुजली की समस्या दूर हो जाएगी।

2. देसी घी
देसी घी भी खुजली को दूर करने के लिए एक आसान घरेलू उपाय माना जाता है। खुजली की समस्या होने पर देसी घी को हल्का गर्म करें और उसे त्वचा पर लगाकर मसाज करें। ऐसा करने से तुरंत खुजली से राहत मिलती है।

3. लहसुन
खुजली का कारण त्वचा में मौजूद कीटाणु भी हो सकते है। अगर त्वचा में चकत्ते पड़ जाते हैं तो, वहां पर कई बैक्टेरिया अपना जमाव कर लेते हैं। लहसुन की एक खासियत है कि, यह एंटीबैक्टीरियल है तथा सभी खतरनाक बैक्टीरिया को मार देता है। खुजली होने पर लहसुन का पेस्ट बनाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। इससे 1 मिनट के भीतर खुजली की समस्या से छुटकारा मिलता है।

4. नींबू
अगर आपके त्वचा में दाद है और खुजली उत्पन्न हो रही है तो, तुरंत उस जगह पर नींबू का रस लगाएं। ऐसा करने से तुरंत बाद खुजली की समस्या दूर हो जाती है। इस उपाय से खुजली तुरंत दूर हो जाती है और दिन में 4 से 5 बार दाद में नींबू का रस लगाने से 2 से 3 दिनों में दांत की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

5. हल्दी का लेप
हल्दी पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर इसका लेप बनाएं और दाद, खाज से प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। इस उपाय को दिन में दो बार करें। एक बार सुबह उठकर और एक बार रात को सोने से पहले। ऐसा करने से 4 से 5 दिनों के भीतर दाद और खाज की समस्या खत्म हो जाती है।

6. अनार के पत्ते
अगर किसी के त्वचा में दाद और खाज जैसी समस्याएं हैं तो, उसे दूर करने के लिए अनार के पत्तों का सहारा लेना चाहिए। अनार के पत्तों को पीसकर उसका पेस्ट प्रभावित क्षेत्र में लगाने से दाद और खाज की समस्या से छुटकारा मिलता है।

7. नीम और दही
नीम की पत्ती को पीसकर, उसे दही में मिलाकर उस जगह पर लगाएं जहां दाद, खाज और खुजली की समस्या है। इस उपाय को करने से 2 मिनट के भीतर खुजली की समस्या दूर हो जाती है और कुछ ही दिनों में दाद, खाज से भी छुटकारा मिल जाता है।

8. अजवाइन
अजवाइन को पीसकर गर्म पानी में मिलाकर इसका लेप बनाएं और प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। ऐसा करने पर पुराने से पुराने दाद कुछ ही दिनों में दूर हो जाते हैं।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned